Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

गल्ला व्यापारी की पत्नी के पेट में लगी गोली

Comments Off on गल्ला व्यापारी की पत्नी के पेट में लगी गोली

Posted on : 09-06-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:संदिग्ध हालत में गल्ला व्यापारी की पत्नी के पेट में गोली लग गयी| जिससे वह गम्भीर रूप से जख्मी हो गयी| उसे गम्भीर हालत में भर्ती किया गया| पुलिस को घटना की सूचना दी गयी|
जनपद मैनपुरी के बेबर नवीगंज निवासी 32 वर्षीय संघ्या गुप्ता पत्नी गौरव गुप्ता को उनके परिजनों ने शहर कोतवाली क्षेत्र के नाला मछरटटा स्थित डॉ० हरिदत्त द्विवेदी के अस्पातल में भर्ती किया गया| महिला के ससुर अजय गुप्ता ने बताया कि संघ्या घर की साफ सफाई कर रही थी| उसी दौरान 32 बोर की लाइसेंसी पिस्टल अचानक चल गयी| जिससे संघ्या के पेट में होली लग गयी | घटना की सूचना पुलिस को दी गयी|

दर्द की दवा नहीं शाम की दवा मिलती है यहां!

Comments Off on दर्द की दवा नहीं शाम की दवा मिलती है यहां!

Posted on : 09-06-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फ़र्रुख़ाबाद:(मेरापुर)स्वास्थ्य विभाग की बदहाल व्यवस्था देखनी है तो आपको क्षेत्र के नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अचरिया बाकरपुर जाना होगा जहां मरीज को मध्य ठीक करने की दवा कम व शराबियों को दारु पीने की जगह ज्यादा मिलती नजर आएगी| जगह जगह अव्यवस्था का बोलबाला है|
क्षेत्रीय लोगों के अनुसार स्वास्थ्य केंद्र पर फार्मासिस्ट डॉक्टर प्रतीक पांडे व फार्मासिस्ट धीरेंद्र प्रताप की तैनाती है| अस्पताल खुलने का समय 8 बजे सुबह से दोपहर 2 बजे तक का है| लेकिन डॉक्टर हमेशा घंटों लेट ही आते हैं| यह स्वास्थ्य केंद्र तकरीबन 20 गांव को का इलाज करता है लेकिन अवस्था का बोलबाला इस कदर हावी है कि मरीज को दर्द की नहीं बल्कि शराबियों को शराब पीने की व्यवस्था ठीक-ठाक है| अस्पताल के एक कमरे में अंग्रेजी दारू की दो बोतलें खाली रखी मिली| वही बाहर बड़ी संख्या में शराब की बोतले पड़ी मिली| यह खाली पड़ी शराब की बोतले यह बताने के लिये काफी है कि अस्पताल पर शराबियों का किस तरह कब्जा है|
क्षेत्र से आने वाले मरीज दर्द की दवा के लिए डॉक्टर के आने का घंटों इंतजार करते रहते हैं| इंतजार कितना लंबा है इसका कोई पता नहीं| जिला प्रशासन को इस तरह अपनी नजर टेढ़ी करने की आवश्यकता है| जिससे बीमार को इलाज मिल सके| ( ज्ञानेंद्र यादव मेरापुर)

ग्राम सचिवों के धरने पर पंहुचे विधायक

Comments Off on ग्राम सचिवों के धरने पर पंहुचे विधायक

Posted on : 09-06-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: बीते कई दिनों से चल रहे ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारी समन्वय समिति के धरने में सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी ने पहुंचकर भरोसा दिया कि वह जल्द सरकार से इस संबंध में वार्ता करेंगे|
विकास भवन में चल रहे धरना प्रदर्शन के दौरान ग्राम पंचायत अधिकारी शैक्षिक योग्यता, ग्रेड वेतन एवं समय से प्रोन्नति अथवा समय से प्रोन्नति पद के वेतनमान को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं| कई दिन गुजर जाने के बाद भी अभी तक कोई ठोस निर्णय निकलकर नहीं आया| शनिवार को मेजर सुनील दत्त द्विवेदी ने धरना स्थल पहुंचकर आंदोलन कर रहे ग्राम पंचायत अधिकारी और ग्राम विकास अधिकारियों से वार्ता की| उन्होंने कहा कि वह जल्द ही लखनऊ जाकर सरकार से इस संबंध में वार्ता करेंगे और कोई ठोस निकाला जाएगा| शैलेंद्र त्रिपाठी शशि देव सिंह यादव अतुल दीक्षित नीलू दीक्षित राजीव सुमन आलोक त्रिवेदी आदि मौजूद रहे

सरकारी बंगले को खंडहर बनाकर चले गए पूर्व सीएम अखिलेश

Comments Off on सरकारी बंगले को खंडहर बनाकर चले गए पूर्व सीएम अखिलेश

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सरकारी बंगला छोडऩे का आदेश इतना खराब लगा कि उन्होंने बंगले के हर कोने में जमकर तोडफ़ोड़ की। कभी आलीशान महल की तरह दिखने वाला बंगला खंडहर की तरह दिख रहा है।अखिलेश यादव ने इसे अपने मुख्यमंत्री रहते ही बनवाया था। इसको भव्य रूप देने और साज सज्जा में दो बार में 42 करोड़ रुपये खर्च किये गए थे।
आज जब राज्य संपत्ति विभाग को बंगले की चाभी मिली तो वहां पर सभी लोग उस आलीशान बंगले की दुर्गति देखकर हैरत में थे। बंगले को भव्य स्वरूप देने में सरकार का करोड़ों रुपया खर्च हो गया था। इसकी सजावट में करोड़ों रुपया खर्च किया गया था। इसमें सुख सुविधाओं का हर इंतजाम किया गया था, लेकिन इसे खाली करते वक्त बुरी तरह से उजाड़ दिया गया है। अखिलेश यादव ने बतौर पूर्व मुख्यमंत्री आवंटित बंगला, चार विक्रमादित्य मार्ग दो जून को खाली कर दिया था। आज बंगला की चाभी राज्य संपत्ति विभाग को सौंपी गई। जब राज्य संपत्ति विभाग के कर्मी बंगला में अंदर घुसे तो वह अपना माथा पकड़ कर बैठ गए।
बंगला में सिर्फ मंदिर को छोड़कर हर जगह को तहस-नहस कर दिया गया था। बंगले में लगे फ्लोर टाइल्स, मार्बल समेत कई जगह फर्श टूटी पड़ी मिली। छत और दरवाजों पर भी हथौड़ा चला है। यहां तक इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड तक को नहीं बख्शा। उसे भी उखाड़ दिया गया है। भव्यता के कारण जाना जाने वाला बंगला उजड़ चुका था। इस अलीशान बंगला की फर्श के साथ ही टाइल्स भी उखाड़ दी गई है। कोई भी दीवार ऐसी नहीं थी, जिसको तोड़ा नहीं गया हो। सेंट्रली एसी इस भवन के एसी तक उखाड़े गए हैं। बंगला छोडऩे से पहले एसी भी निकाला गया। इसके साथ ही स्वीमिंग पूल के हिस्सा भी पाटा हुआ मिला। इस पूल में विदेशी टाइल्स लगी थी। जिनको उखाडऩे के बाद पूल में मिट्टी भर दी गई है। इस बंगला में बाहर गेट से लेकर अंदर तक पूरा टूटा-फूटा था। इसके जिम एरिया में सबसे ज्यादा टूटफूट हुई है। इसके साथ ही इनडोर गेम्स के एरिया में भी तोडफ़ोड़ देख गई। कहीं लोहे के एंगल निकले हुए थे, तो कहीं दीवार टूटी हुई थी।
बाहर साइकिल ट्रैक की पूरी फर्श टूटी पड़ी मिली। हमेशा हरा-भरा रहने वाला गार्डन भी अखिलेश यादव के आक्रोश का शिकार हुआ है। बैडमिंटन कोर्ट की भी फर्श, दीवारें, नेट और टाइल्स उखाड़ दिए गए हैं। इसके साथ ही बंगला में लगी लिफ्ट को भी उखाड़ा गया है। बंगले में लगे सभी एसी, टीवी, फर्नीचर, पंखे और अन्य सामान को शिफ्ट कर दिया गया है। बंगले में मौजूद जिम को भी हटा दिया गया है।
बंगले में जो सबसे ज्यादा सुरक्षित स्थान बचा है वो है मंदिर। संगमरमर के इस मंदिर को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाया गया है।
सपा प्रवक्ता ने कहा, बदनाम करने की साजिश
समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील सिंह यादव ‘साजन’ ने कहा कि सिर्फ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का ही बंगला क्यों मीडिया के लिए खोला गया। यह तो उनको बदनाम करने की साजिश है। राज्य संपत्ति विभाग बताए कि उन्हें सरकारी बंगले में कितना सामान अलॉट किया गया था।
लाइफस्टाइल का पर्दाफाश
भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने अखिलेश के बंगला खाली करने पर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री के आलीशान लाइफस्टाइल का आज पूरी तरह पर्दाफाश हो गया है। इस तरह तो देश के उद्योगपति भी नहीं रहते। अखिलेश यादव ने घर के एसी तक उखाड़ लिए। उन्होंने सरकारी पैसे का जमकर दुरुपयोग किया है।

डाक्यूमेंट्री फिल्म शिक्षा के बढ़ते कदम हुई रिलीज

Comments Off on डाक्यूमेंट्री फिल्म शिक्षा के बढ़ते कदम हुई रिलीज

Posted on : 09-06-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:युवा महोत्सव आयोजन समिति के द्वारा तैयार की गयी डाक्यूमेंट्री फिल्म (शिक्षा के बढ़ते कदम) को सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के माध्यम से रिलीज किया गया|
शहर के रेलवे रोड स्टेट बैंक के पीछे एयर होस्टेस एकादमी में आयोजित कार्यक्रम में पंहुचे सदर विधायक को युवा महोत्सव समिति के अध्यक्ष डॉ० संदीप शर्मा ने फिल्म के विषय में विस्तार से अवगत कराया| उन्होंने बताया कि इस फिल्म में शिक्षा व्यवस्था में सुधार के क्या व्यवस्था होनी चाहिए इसे फिल्माया गया है| नालंदा, तक्षशिला व भारतीय शिक्षा के इतिहास को भी दर्शया गया है| साथ ही साथ फर्रुखाबाद जिले से जुडी प्रतिभाओं डॉ० जाकिर हुसैन, महादेवी वर्मा, डॉ० रेनू खटोर का जिक्र भी है|
उन्होंने बताया की फिल्म के माध्यम से नई शिक्षानिति बनाने में सहयोग मिलेगा| वही शिक्षा की वर्तमान दिशा एवं दशा से सरकार अवगत होगी| इस फिल्म में कैमरा मैंन कमल दीक्षित, मुकेश पाल हर्षबर्धन अवस्थी को भी बधाई दी गयी| अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ,आकाश मिश्रा. कालोज त्रिपाठी,सुमंत सक्सेना आदि रहे|

[bannergarden id="12"]