Featured Posts

जिला जेल में सियाराम का हुआ वनवासजिला जेल में सियाराम का हुआ वनवास फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)बीते लगभग पांच दिनों से जिला जेल में चल रही राम लीला जनपद में चर्चा का विषय बनी हुई है| आपराधिक मानसिकता के लोगों में अध्यात्म की गंगा बहाने का काम किया जा रहा है| जिसके चलते यह जिला जेल में पहली अनोखी पहल है| जो बंदियों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार...

Read more

450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम नई दिल्‍ली:संगम नगरी इलाहाबाद को 450 वर्षों के बाद आखिरकार अपना पुराना नाम वाप‍स मिल गया। कभी मुगल शासक सम्राट अकबर ने इसका नाम बदलकर प्रयागराज से इलाहाबाद (अल्‍लाहबाद) किया था। पुराणों में प्रयागराज का कई जगहों पर जिक्र मिलता है। रामचरित मानस में इलाहाबाद को प्रयागराज...

Read more

सीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएंसीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएं फर्रुखाबाद:सीएमओ कार्यालय के निकट परिवार नियोजन से सम्बन्धित करोड़ो रूपये की दवा व प्रचार सामिग्री सीएमओं अरुण उपाध्याय की मौजूदगी में आग के हवाले कर दी गयी| इस काम को अंजाम सीएमओ कार्यालय के पूर्व शोध अधिकारी अनिल कटियार निवासी नेकपुर चौरासी ने दिया| अनिल कटियार ने बताया...

Read more

पति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटीपति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटी फर्ररूखाबाद:बीती रात एक सनीखेज मामला सामने आया है| घर आये पति के दोस्तों ने महिला के साथ गैंग रेप कर उसके घर से नकदी व जेबरात चोरी कर लिये| घटना के सम्बन्ध में पुलिस को तहरीर दी गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल शुरू कर महिला को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र...

Read more

खड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसानखड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसान डेस्क: यह तो हम सभी जानते हैं कि पूरे दिन में 8 से 10 गिलास पानी पीना हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए कितना जरूरी होता है। लेकिन आपको यह नहीं पता होगा कि जिस पोजीशन में आप पानी पीते हैं उसका भी आपकी सेहत पर असर पड़ता है। आपके बड़े-बुजुर्ग हमेशा से कहते आए होंगे कि बैठ कर शांति से पानी...

Read more

करवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का उद्यापनकरवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का... नई दिल्ली:वर्ष करवाचौथ 27 अक्टूबर को है। कार्तिक कृष्ण चतुर्थी को करवाचौथ का व्रत किया जाता है। सुहागिन महिलाओं के लिए इस व्रत का विशेष महत्व है। करवाचौथ के दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। कई संप्रदायों में कुवांरी कन्याएं भी अच्छे पति की...

Read more

पुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जामपुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जाम फर्रुखाबाद: साथी के साथ गये युवक से पुलिस ने युवक से मारपीट कर दी| जिससे उसकी मौत हो गयी| आक्रोशित भीड़ ने परिजनों के साथ जाम लगाकर जमकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की| मौके पर पंहुचे एएसपी ने कार्यवाही का भरोसा दिया| जिसके बाद जाम खोला जा सका| शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला दरीवा...

Read more

स्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ीस्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ी फर्रुखाबाद:(मेरापुर/नबावगंज) विधालय बच्चो को लेकर जा रही बैन की गैस निकलने से उसमे बैठे कई मासूम छात्र-छात्राओं की हालत बिगड़ गयी| ग्रामीणों का आक्रोश देख बैन का चालक मौके से खिसक गया| जिसके बाद मौके पर पंहुचे एसपी ने जाँच पड़ताल कर कार्यवाही के निर्देश दिये|जिसके बाद विधालय...

Read more

श्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोरश्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोर फर्रुखाबाद:श्री राम विवाह की शोभायात्रा में सभी बरातियो ने जमकर लुफ्त उठाया| वही राम-सिया के विवाह मंचन से बारात तक के कार्यक्रम में सभी मनोहारी झाँकियो को देख कर श्रद्धालु भावविभोर हो गये| राम बारात में जैसे ही श्री राम के गले में सीता जी ने वरमाला डाली तो रामचरित मानस...

Read more

सपा चेयरमैन व आधा दर्जन जिला पंचायत सदस्य हुए सेक्युलरसपा चेयरमैन व आधा दर्जन जिला पंचायत सदस्य हुए सेक्युलर फर्रुखाबाद: समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के साथ सपा चेयरमैंन व कई जिला पंचायत सदस्य खड़े दिखाई दिए| उन्होंने मोर्चा के मंडल प्रभारी के सामने जमकर शिवपाल व सेक्युलर मोर्चा की तारीफ़ की| गुरुवार को मोर्चा के कानपुर मंडल प्रभारी रघुराज शाक्य जनपद पंहुचे| उन्होंने बेबर रोड स्थित...

Read more

हजारों लीटर लहन व अबैध व कच्ची शराब बरामद,आधा दर्जन गिरफ्तार

Comments Off on हजारों लीटर लहन व अबैध व कच्ची शराब बरामद,आधा दर्जन गिरफ्तार

Posted on : 21-05-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:सूबे के कानपुर नगर और कानपुर देहात में ‘जहरीली शराब’ के असर से 13 लोगों की मौत हो जाने के बाद जिले भर के अधिकारीयों को अब कच्ची शराब का कारोबार चरम पर लग रहा है| इससे पहले यही अफसर अपने एसी कमरों से तेज धूप में निकलना तक पसंद नही करते थे | 13 की बली के बाद पुलिस व जिला प्रशासन को भी कच्ची अबैध शराब का कारोबार दिखाई पड़ा| जिले में जगह-जगह छापेमारी कर आधा दर्जन को दबोचा गया जबकि सैकड़ो लीटर लहन व शराब बरामद की गयी|
कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के नेकपुर चौरासी गिहार बस्ती में एसडीएम सदर अजीत सिंह व जिला आबकारी अधिकारी टीएस वैश्य के साथ भारी मात्रा में पुलिस व आबकारी टीम के साथ छापेमारी की| इस दौरान भगदड़ मच गयी| पुलिस को भारी मात्रा में लहन व कच्ची शराब मिली| मौके से पांच को गिरफ्तार किया गया है| एसडीएम सदर ने बताया की लगभग एक हजार लीटर लहन व 110 लीटर कच्ची शराब बरामद की है|
आबकारी ने पकड़ी मस्ती एक गिरफ्तार
कमालगंज: आबकारी निरीक्षक संजय गुप्ता व शरद कुमार ने ग्राम दरौरा में दबिश देकर आदेश पुत्र इंदल के घर से 206 पौवा मस्ती ब्रांड 20 पौवा माधुरी ब्रांड की अबैध शराब बरामद की आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है|

पगार के चक्कर में होटल मालिक व उसके भाई को दिया जहर

Comments Off on पगार के चक्कर में होटल मालिक व उसके भाई को दिया जहर

Posted on : 21-05-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) पगार ना देने से खफा होटल कर्मी से खाने में जहरीला पदार्थ मिला दिया| जिससे होटल मालिक व उसके भाई की हालत गम्भीर हो गयी| उन्हें सीएचसी लाया गया जहां से उन्हें लोहिया अस्पताल रिफर कर दिया गया|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रोहिला निवासी पवन कुमार पुत्र बादाम सिंह ने पुलिस को दी गयी तहरीर में कहा है की मेरे भाई सचिन कुमार का गंगा देवी पेट्रोल पम्प के निकट बाबा नीम करोरी के नाम से पेट्रोल पम्प है| जिस पर थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के मोहल्ला दीवान मुबारक निवासी संजीब पुत्र रामभरोसे कठेरिया काम करता है| बीते 20 मई की रात उसने होटल मालिक सचिन कुमार व हरिओम के खाने में नशीली गोली मिला दी| जिसके बाद दोनों की हालत गम्भीर हो गयी |
जिन्हें लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया| आरोपी संजीव को उन्होंने पकड़कर पुलिस के हबाले कर दिया| पुलसी जाँच पड़ताल कर रही है|

ग्वालियर:आंध्र प्रदेश एक्सप्रेस में लगी आग, 37 डिप्टी कलेक्टर बाल-बाल बचे

Comments Off on ग्वालियर:आंध्र प्रदेश एक्सप्रेस में लगी आग, 37 डिप्टी कलेक्टर बाल-बाल बचे

Posted on : 21-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, राष्ट्रीय, सामाजिक

ग्वालियर:ग्वालियर में बिरला पुल के पास अचानक आंध्र प्रदेश एक्सप्रेस की चार बोगियों में आग लगने से हड़कंप मच गया। सूचना मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की 15 से ज्यादा गाड़ि‍यां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाने की कोशिश में जुट गईं। एपी एक्सप्रेस दिल्ली से हैदराबाद के बीच चलती है। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है। आग कितनी भयंकर होगी इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि यात्रियों का अंदर रखा सामान पूरी तरह जल गया। यहां तक की घटना में दो कोच भी पूरी तरह जल गए। उधर दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनें इससे प्रभावित हो गई हैं।
हालांकि वक्त रहने सभी यात्रियों को ट्रेन से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। जिन डिब्बों में आग लगी थी उन्हें काटकर अलग कर दिया गया है। यह भी बताया जा रहा है कि जिस बोगी में आग लगी उसमें 37 डिप्टी कलेक्टर सवार थे, जो ट्रेनिंग कर वापस लौट रहे थे। सूचना मिलने के बाद झांसी रेल मंडल के अधिकारी भी ग्वालियर के लिए रवाना हो गए हैं। इसके साथ ही इस घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। यात्रियों का कहना है कि ट्रेन के अंदर मौजूद आग बुझाने के साधनों का उपयोग किया गया, लेकिन फिर भी आग नहीं बुझी और बढ़ती चली गई। घटना के बाद हजारों लोगों की भीड़ यहां जमा हो गई है। इसके साथ ही रेलवे एपी एक्सप्रेस में सवार यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने की तैयारी कर रहा है।
मुख्यमंत्री शिवराज ने उन पुलिसकर्मियों के साहस को भी सलाम किया, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बैगर आग की चपेट में आए डिब्बों को ट्रेन से अलग किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘अपनी जान की परवाह किए बगैर आग की चपेट में आए दोनों डिब्बों को ट्रेन से अलग करने वाले पुलिस के जवानों के साहस को सलाम। आपने कई जिंदगियों को सुरक्षित कर अपने कर्तव्य और निष्ठा का परिचय दिया है। हमारे ऐसे साहसी जवानों से युवाओं को प्रेरणा लेनी चाहिए।’
30 मिनट देरी से पहुंचा दमकल
जानकारी के मुताबिक आंध्र प्रदेश एसी एक्सप्रेस के बी7 और बी6 कोच के बाथरूम से आग भड़की। कोच मे 77 करीब यात्री सवार थे। दमकलकर्मी करीब तीस मिनट देरी से मौके पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि आग दो कोच में लगी, जो बढ़कर चार कोच में फैल गई। ट्रेन को दोनों तरफ से काटकर आग फैलने से रोकी गई। जिसमें एक सिपाही घायल हो गया। वहीं, आर्मी जवानों ने कोच को खाली कराया। ट्रेन के आगे को कोच को काटकर उसे ग्वालियर पहुंचाया गया।

Ten Important Considerations About the Strategy For The Mobile Web development

Comments Off on Ten Important Considerations About the Strategy For The Mobile Web development

Posted on : 21-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

Your strategy will vary depending on what kind of project you are working, yet do not make mistakes – you really need a strategy through which your site (or your client’s) will operate in the mobile space. No matter which site you could have designed – mostly static (and maybe even the Internet is truly static sites? ), A news internet site with changing content or perhaps interactive internet application — best to way the matter completely, carefully viewing on your mobile phone site with regards to user comfort.

In this article I have to highlight the 10 most crucial points which you — you’re a designer, builder or owner of the web page – you need to consider first of coming up with a mobile site. These kinds of ideas are strongly related all areas of the process, from overall strategy to design and final realization. It is important to consider these facts in advance to be sure a successful unveiling of your cellular site.

1 ) Determine why you necessary a mobile phone site

Generally, the idea of building a mobile website design is dictated by one of the following three circumstances: These circumstances elevates a different pair of requirements, and it will help you to decide which way is best to be able to forward when you look at all the items, which are mentioned below.

2 . Take into account the goals of the business

In most cases, you as a beautiful / designer client hires you to produce a mobile site for his business. Precisely what are the desired goals of the organization, and how they relate to the web site, especially with the mobile? As with any design, you need to position these desired goals by priority, and then screen this pecking order in its design. Translating this kind of design in a mobile structure, you will need to take those next step and focus only on a pair of goals, while using the highest goal for the business.

Take, for example , the site Hyundai. If you weight in a desktop browser, the very first thing you’ll see — it’s big, bold photos that trigger emotional connection with company automobiles. In addition to that, you will see the organization make the navigation, callouts to information about the several benefits of buying a car Hyundai, search the site and links to social networking. Now download on a mobile phone and you’ll notice a cut-down rendition of the webpage. However , the most crucial features are still here: a relatively large picture of the most recent models, which are followed by a few more (optimized with respect to mobile format) images of machines. In the mobile rendition, you will not observe any complex navigation and callouts. The creators thought we would “sharpen” the mobile house site under the terms of the business purpose of this company, which is to create an psychological connection to your car with the help of a catchy way.

3. Look at the data obtained in the past prior to moving forward

If the project should be to redesign (as well because so many of the tasks the internet these days), or in addition to the regular mobile web page, I hope, the site to track traffic with Google Analytics (Or different program-counters). It’s going to useful to always check the data prior to you dive into the web design and development. Consider the actual fact of what devices and browsers users are progressing to your site. If you need to make your websites was created together with the support of the devices get them to involved in the web browsers top priority in any way stages – design, creation, testing and launch the website.

4. Practice the “responsive” web design

Annually comes a whole lot of new mobile phones. The days if a website can be checked in multiple web browsers and manage forever went. You will have to enhance your site for your wide range of browsers for personal computers and cell, each which is designed for the screen image resolution, supported by technology and user base. As advised in the renowned article “Responsive Web Design” You can concurrently develop and mobile and stationary knowledge. To quotation an excerpt from the document: “Instead of stitching mutually disparate alternatives for each of the devices, which in turn continuously expands, we can cope with these decisions, as with the faces of one and the same experience too. ” Spending a ton the most recent, looked to the future of web technologies just like HTML5, CSS3 And Net fonts It is possible to design an online site in such a way that that scaled and adapted to any device whereby it is seen. This is what all of us call reactive web design.

a few. Simplicity — gold, yet…

The general guideline derived from the practice – when you convert the site design and style for the desktop to the mobile file format, you need to make simpler everything exactly where possible. There are various reasons. Reducing the size of the files and minimize load period is always a good suggestion with regard to the mobile internet site. Wireless links, even though they can be faster compared to a few years previously, is still comparatively slow, and so the faster cellular site is loaded, the better. Things to consider of convenience and simplicity of use are also asking for a made easier approach to the look, layout and navigation. With less display space available, you should have the elements of layout wisely. Simply speaking: the smaller, the better. Yet , we can simply make a beautiful style that is optimized for the mobile format. CSS3 provides us an enjoyable package of tools for creating things like gradient, drop shadows and curved corners, pretty much all without having to resort to cumbersome pictures. However , this does not mean that you will not use the pictures you can. Satisfy the examples of portable sites, where great a fair balance between beauty and simplicity.

6th. Nesting in one column usually works best harrisandharrisprofessionals.com

If you think maybe about the layout, the structure into a single steering column pays off finest. It not only helps to control the limited space of a small screen, but also permits convenient scaling among different equipment and transitioning from scenery to symbol mode. Making use of the methods of “responsive” web design you may make a lot of made-up site for the desktop loudspeakers and pereverstat it as one column. New Basecamp Mobile Site is a fantastic example of that.

7. Upright hierarchy: believe in terms of mlm

On your web page a lot of information to get presented in a mobile formatting? A good way to set up content in a simple and digestible form – is a multi-level navigation with drop-down menu. You can expand the single-column structure can be one stage, it will allow you to invest huge portions for the content in the unfolding modules and the customer – to spread out the articles that curiosity him, and hide other parts. See how it is actually implemented on the website Major League Baseball. Towards the top of the page there is a button that says “Team. ” When you click on the page it expands to show a directory list of the 30 teams in a single column.

8. Go to “click-through”

Inside the mobile Internet all communication takes place through contact with a finger rather than mouse clicks. This kind of creates a very different dynamic in the sense of convenience. Turning to the typical design just for mobile, you need to go through all the “clickable” elements – backlinks, buttons, possibilities, etc . — And create them “click-through”! At that moment, as estimated on the desktop Internet, “locked up” designed for links with small , even very small active (clickable) areas, it will take a portable version with the larger and even more massive switches that can be easily pressed when using the thumb. Additionally , there is no point out induced mouse button. In most cases, when ever in the computer’s desktop version of something going on when you complete the mouse (for model, the appearance of the drop-down menu), when enjoying the web page via cellular happens when initially you press the switch. After the second click on the cellular site is the same as that after the first click on the desktop. This may cause pain to the users of mobile phones, so you need to process each of the states activated mouse to suit their needs.

on the lookout for. Provide fun feedback

Regarding interactivity, it is advisable to ensure a coherent feedback for any activity that is supposed to interface your mobile internet site. For example , any time a user clicks on a link or switch, it would be nice to this switch is aesthetically changed its status to indicate that this has already forced her and called the task started. On iPhone usually see that the hyperlink is decorated completely light blue after pressing it. This visual feedback is usually familiar to the majority of users and it would be unreasonable not to make use of it.

Another good reception – to supply for the load status of steps that may take a longer time. Apply animated images to show the proceedings any procedure. Mobile internet site Basecamp — an excellent example of this: now there while packing the next site appears rotating gif-image. Understand that in common browsers intended for desktops this sort of indicators are built. In cell browsers since it is not so clear, so it is crucial for you to design your mobile webpage to provide a vision feedback.

twelve. Test your mobile phone website

Just like any project, you will need to test your site to the greatest possible number of mobile phones. Not having every one of these devices, you must be smart to find a way to provide a precise test for every of them. This may require a combination of: install a program development system for the specified platform (for example, i phone SDK and Android SDK ) And at the same time take advantage of available web simulator for the consideration of other cellular platforms. I hope this article at some level increased your understanding before you take the structure of a fresh mobile web page. Feel free to keep your tips in the comments that you think will be useful for building a mobile site.

चेयरमैंन के उत्पीड़न के खिलाफ सफाई कर्मियों में आक्रोश

Comments Off on चेयरमैंन के उत्पीड़न के खिलाफ सफाई कर्मियों में आक्रोश

Posted on : 21-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) नगर पंचायत चेयरमैंन के खिलाफ सफाई कर्मियों का आक्रोश पनप रहा है | जिसके चलते जल्द वह आन्दोलन की राह पकड़ सकते है|
नगर पंचायत के चेयरमैंन हरीश कुमार के खिलाफ सफाई आक्रोशित दिखे| सफाई कर्मियों ने दिये गये पत्र में कहा है की अध्यक्ष का कार्य व्यवहार सफाई कर्मियों के साथ ठीक नही है| वह सफाई कर्मियों से अभद्र भाषा का प्रयोग करते है| वह धमकी देते हुये आठ घंटे की जगह 12 घंटे तक काम करने पर मजबूर करते है| बीते 15 मई को उनके एक साथी अमरपाल पुत्र धनपाल को कार्यालय से बाहर निकाल दिया गया| यदि उसे काम पर वापस नही लिया गया तो सभी सफाई कर्मी अनिश्चित कालीन हड़ताल करेगें| इस दौरान पवन, नागेन्द्र, ऊषा, मंगेश कुमार, मिथुन, जयराम, रिंकू, जयराम, राजीव आदि रहे|
ईओ यश के रावत ने बताया की उन्हें इस सम्बन्ध में कोई जानकारी नही है| वह जनपद से बाहर है|

[bannergarden id="12"]