विधायक के गाँव में कागजों पर विधुतीकरण,फाइलों में दौड़ रहा करंट

0

फर्रुखाबाद:बिधुतीकरण की समीक्षा बैठक में विधायक ने अपने गाँव में ही बिजली विभाग के अफसरों की कड़ी फटकार लगाकर कहा की उनके गाँव में खम्भे टूटे पड़े है | बिजली केबल कागजों पर ही दौड़ रही है| यह देख अफसर भौचक्के रह गये और जल्द व्यवस्था दुरस्त करने का भरोसा दिय|
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित विधुतीकरण योजना की समीक्षा बैठक में विधायकों व सांसद ने जमकर विधुत विभाग की क्लास लगायी| अमृतपुर विधानसभा से विधायक सुशील शाक्य ने कहा की गंगा के क्षेत्र में बसे गांवों में जब बाढ़ आती है तो विधुतीकरण ध्वस्त हो जाता है| लेकिन उसके बाद विभाग उसकी मरम्मत तक नही करता केबल कागजों में ही बिजली की सप्लाई कर रहे है| उन्होंने बताया की विकास खंड राजेपुर का बड़ागाँव में भी यही हालात है| अधिकांश गाँवो की विधुत व्यवस्था जर्जर है|
भोजपुर विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर ने कहा की उनके पैत्रक गाँव नवादा दोयम में बिजली कनेक्शन नही है| वर्ष 1993 में हुये विधुतीकरण कागजों में हो चुका है| पोल टूटे पड़े है और बिजली के खम्भों पर तार नही है| फिर भी फाइलों में अफसर करंट दौड़ा रहे है| उन्होंने कहा की मजबूरन ग्रामीण दूर-दराज से कटिया डालकर बिजली जलाते है| वही बिजली अफसर जाकर उन पर बिधुत चोरी का मुकदमा दर्ज करते है| उन्होंने जल्द विधुत व्यवस्था दुरस्त करने के निर्देश अफसरों को दिये|
कायमगंज विधायक अमर सिंह खटिक ने भी कायमगंज विधान सभा में भी कई गाँवो की भी विधुत व्यवस्था ध्वस्त होने की बात की| सांसद मुकेश राजपूत ने कहा की सरकार मुफ्त में बिजली कनेक्शन दे रही है| लेकिन बिभाग के लोग अबैध बसूली कर रहे है| उन्होंने कहा की सड़क किनारे जो पोल राज कार्पोरेशन के द्वारा कराया जा रहा है वह अमानक है| उन्होंने जाँच कराने के निर्देश दिये| सीडीओ अपूर्वा दुबे आदि रहे|

Comments are closed.