Featured Posts

गंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजागंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजा फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला) रमजान का पवित्र माह शुरू हो गया। जहां एक ओर लोगों ने सुबह सहरी कर पहला रोजा रखा। वहीं सेन्ट्रल जेल में बंद बंदियों ने भी रोजे रखे। मुस्लिम समाज के करीब 175 कैदियों ने अल्लाह की रजा (खुशी) हासिल करने के लिए रमजान का रोजा रखा। जिनकी सहरी और इफ्तार की जिम्मेदारी...

Read more

सांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचनसांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचन फर्रुखाबाद: आचार्य ओम प्रकाश मिश्रा (कंचन) द्वारा लिखित पुस्तक नरेंन्द्र से नरेन्द्र तक का विमोचन सांसद मुकेश राजपूत के द्वारा किया जायेगा| जिसकी सभी तैयारी पूर्ण कर ली गयी है| शहर के कोटा पार्चा स्थित एशियन कम्प्यूटर सेंटर अपर आयोजित प्रेस वार्ता में आचार्य कंचन ने बताया...

Read more

खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीणखूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण फर्रुखाबाद:(जहानगंज) आदमखोर कुत्तों के साये में ग्रामीण व नैनिहाल अभी भी जी रहे है| डर भय का आलम यह है की गाँव के बच्चों ने विधालय जाना तकज छोड़ दिया दिया है| जिससे सरकारी विधालय की छात्र उपस्थिति लगातार कम होती जा रही है| परिजन खुद अपने बच्चों की लाठी-डंडो से लैस होकर सुरक्षा...

Read more

एक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोपएक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोप फर्रुखाबाद:(कंपिल) विवाहिता व उसके मासूम बेटे का शव फांसी पर लटका मिला| घटना की सूचना पर परिजन मौके पर पंहुचे| उन्होंने दहेज के लिये हत्या कर शव फांसी पर लटका दिये जाने का आरोप लगाया | कमरे में ही एक सुसाइड नोट भी मिला है| थाना क्षेत्र के ग्राम मेदपुर निवासी आनन्द उर्फ़ लालू...

Read more

निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौतनिर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत वाराणसी:पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें...

Read more

प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरनाप्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरना फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ ने फरवरी माह का वेतन ना मिलने से खफा होकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया धरना दिया| शिक्षकों की नारेबाजी देख बीएसए अपने कक्ष से वित्त एवं लेखाधिकारी को साथ लेकर निकल आए और बिना अनुमति के धरना दिए जाने...

Read more

फरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बातफरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बात फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी अविनाश चन्द्र ने थाने के निरीक्षण के दौरान पुलिस कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये| वही उन्होंने आगन्तुक रजिस्टर चेक किया| जिसके बाद उन्होंने उसमे दर्ज फरियादियों को फोन लगाया लेकिन बात नही हो सकी| सुबह एडीजी थाने का निरीक्षण एसपी मृगेंद्र...

Read more

एडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियालीएडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियाली फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी के स्वागत के लिये थाना पुलिस ने कोई कोर कसर नही छोड़ी| यंहा तक की उन्हें खुश करने के लिये उधार की फुलवारी भी थाने में लाकर रखनी पड़ी| लेकिन जाने के बाद उसे पुलिस को वापस करना पड़ा| एडीजी अबिनाश चन्द्र के द्वारा थाने का निरीक्षण किया जाना पूर्व में ही...

Read more

मोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचामोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचा फर्रुखाबाद:(जहानगंज) शिकार करने के इरादे से ले जाए जा रहे जिंदा मोर व एक आरोपी को ग्रामीण ने दबोच लिया| जिसके बाद उसे पुलिस के हबाले कर दिया गया| मौके से दो आरोपी भागने में कामयाब रहे| मामले में पुलिस को तहरीर दी गयी है| कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र ग्राम मुरास के निकट थाना...

Read more

पुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचापुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचा फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) काफी समय से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस न्यायालय ले जा रही थी| वही वह पुलिस जीप से कूदकर फरार हो गया| लेकिन पुलिस ने उसे कुछ दूर दौड़कर दबोच लिया| जिसके बाद उसे न्यायालय में पेश किया गया| जंहा से उसे जेल भेज दिया गया| थाना में आरोपी राजेश उर्फ़ जितेन्द्र पुत्र...

Read more

चौकी इंचार्ज के खिलाफ मनप रहा आक्रोश

0

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: व्यापारी के घर हुई चोरी में लगभग 24 घंटे में एफआर लगा देने के चलते चौकी इंचार्ज व्यापारियों के निशाने पर आ गये है| व्यापारियों ने एक बैठक कर आगे की रणनीति तैयार की है|
बीते 29 अप्रैल को कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के नगला दीना निवासी अजय कुमार गुप्ता के बंद पड़े घर में 14 लाख की चोरी हो गयी थी| जिसमें पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज किया| लेकिन चंद घंटो में ही चौकी इंचार्ज ने एफआर लगाकर घटना गलत बताकर बंद कर दिया| जिससे व्यापरियों में आक्रोश पनप गया है| मंगलवार को अखिल भारतीय युवा सेवा संगठन के बैनर तले एक बैठक का आयोजन किया गया| जिसमे सभी ने एक आवाज में कर्नल गंज चौकी इंचार्ज हरेन्द्र सिंह की कार्य प्रणाली पर सबाल खड़े किये और उन्हें निलंबित करने की मांग की|
संगठन के प्रदेश अध्यक्ष मोहित गुप्ता ने कहा की यदि जल्द कार्यवाही नही होगी तो वह आन्दोलन करेगे| इस दौरान पंकज प्रकाश, अजय राम गुप्ता, अर्जुन गुप्ता, दीपक राठौर, जेडी यादव आदि रहे|

निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत

0

वाराणसी:पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें राहत व बचाव कार्य में लगी हैं। इन टीमों में कुल मिलाकर 325 आदमी काम कर रहे हैं।
रात आठ बजे तक 25 शव निकाले जा चुके थे, इसके अलावा तीन घायलों को अस्पताल में पहुंचाया जा चुका है। वहां पर अभी 25 से 30 लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। इस हादसे में 50 से अधिक लोग दब गए। प्रदेश सरकार इस हादसे में मृतक के परिवारीजन को पांच-पांच लाख तथा गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान करेगी।
कैंट रेलवे स्टेशन के पास सेतु निर्माण निगम की गाजीपुर निर्माण इकाई के चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर की दो बीम आज शाम अचानक गिर गया। बीम के नीचे एक रोडवेज बस, एक बोलेरो, दो कार, एक आटोरिक्शा और चार बाइक दब गई। सभी वाहन भारी बीम के नीचे दबकर कुचल गए। हादसे का कारण सेतु निर्माण निगम के लापरवाही से कार्य को बताया जा रहा है। मौके पर बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। एनडीआरएफ, सेना, पुलिस, पीएसी और स्थानीय लोग राहत और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। बिना रोड डायवर्जन ही रखे जा रहे स्लैब के चलते यह हादसा हुआ, जिससे पूरे इलाके में आक्रोश व्याप्त है।
शाम होने की वजह से मौके पर काफी जाम की स्थिति थी। लिहाजा फ्लाईओवर गिरने के दौरान बचाव और भागने की गुंजाइश भी नहीं थी। जो जहां था वहीं इसकी चपेट में आ गया। भीड़ की स्थिति देखते हुए अंदेशा जताया जा रहा है कि हादसे में मरने वालों की संख्या और भी हो सकती है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद होकर हादसे में घायलों को अस्पताल पहुंचाने की कोशिश करते रहे। देर रात तक मौके से राहत और बचाव कर्मियों ने 25 शव निकाले।
पीएम नरेंद्र मोदी ने जताया गहरा दुख
पीएम नरेंद्र मोदी ने हादसे के बाद ट्वीट कर गहरा दुख जताते हुए कहा कि- ”वाराणसी में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने के कारण जीवन की हानि से बेहद दुख हुआ। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द ही ठीक हो जाएं। अधिकारियों को प्रभावित लोगों को सभी संभव सहायता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। मैंने उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से हादसे की स्थिति के बारे में बात की। यूपी सरकार स्थिति की निगरानी कर रही है और प्रभावित लोगों की सहायता के लिए जमीन पर काम कर रही है।
राष्ट्रपति भवन ने जारी की शोकसंवेदना
राष्ट्रपति भवन की ओर से हादसे के बाद ट्वीट कर शोक संवेदना जारी की गई – वाराणसी में फ्लाईओवर निर्माण के स्थल पर हुई दुर्घटना के बारे में जानकर आघात पहुंचा है। प्रशासन द्वारा बचाव कार्य और घायलों की सहायता के सभी प्रयास किये जा रहे है। शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी शोकसंवेदनाएं।
अलर्ट किए गए अस्पताल
हादसे को देखते हुए सभी अस्पतालों को प्रशासन ने अलर्ट कर दिया। दीनदयाल अस्पताल व मंडलीय चिकित्सालय में छह डाक्टरों की टीम के साथ दस स्टाफ नर्स समेत मेडिकल स्टाफ तैनात करने के साथ 15 बेड रिजर्व कर दिए गए। वहीं बीएचयू ट्रामा सेंटर में इमरजेंसी वार्ड भी तुरंत बनाया गया। सूचना देकर जिले में तैनात सभी एंबुलेंस तत्काल मौके पर बुला ली गईं। इसकी कमान खुद सीएमओ ने संभाली लेकिन हादसे के दो घंटे बाद भी किसी भी फंसे व्यक्ति को नहीं निकाले जा सकने से डाक्टर लाचार स्थिति में रहे।
डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि मौके पर पुलिस की टीमें भेजी गई है। राहत व बचाव कार्य के साथ ही ट्रैफिक नियंत्रण पर भी खास ध्यान रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी कुछ लोगों के दबने की बात सामने आई है लेकिन अभी हम संख्या नहीं बता सकते हैं। हमारी कोशिश है कि सभी घायलों को वहां से जल्द से जल्द निकाला जाए। उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस मौके पर तत्काल पहुंच गई थी। बात जरूर है कि राहत बचाव कार्य के लिए पुलिस के पास चूंकि कोई साधन नहीं था, लिहाजा कार्य थोड़ी देर में शुरू हुआ। डीजीपी ने कहा कि एनडीआरएफ एक प्रोफेशनल टीम है, वह अपना काम कर रही है।
डीएम रामेश्वर मिश्रा ने कहा रेस्क्यू वर्क चल रहा है। एनडीआरएफ के साथ ही जिला प्रशासन व पूरा अहम इसमें लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि मेडिकल टीमें मौके पर लगी हुई है। उन्होंने कहा कि अभी राहत बचाव कार्य चल रहा है। कार्य पूरा होने के बाद जांच की जाएगी कि ये हादसा कैसे हुआ।हालांकि नीचे दर्जनों लोगों के फंसे होने की सूचना के बाद उनको बचाने की कोशिश की जा रही है मगर कई के मरने का अंदेशा भी स्थानीय लोगों की ओर से जतायी गई है। भीड़ भरा इलाका होने की वजह से प्रशासन भी लोगों को बचाने के लिए मौके पर पहुंच रहा है साथ ही आपदा राहत बल को भी सूचना दे दी गई है।
स्थानीय लोग आए सहयोग में
फ्लाईओवर के नीचे दर्जनों लोगों के फंसे होने की सूचना के बाद उनको बचाने की कोशिश शाम से ही की जा रही है। भीड़ भरा इलाका होने की वजह से प्रशासन भी लोगों को बचाने के लिए मौके पर पहुंच रहा है साथ ही आपदा राहत बल भी मौके पर पहुंच कर फंसे लोगों को देर रात तक बचाने की कोशिश में लगा रहा। हालांकि स्थानीय लोगों के सहयोग से फंसे लोगों को निकालने का क्रम भी इस दौरान बना रहा।
मुख्यमंत्री ने दुःख व्यक्त किया, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य वाराणसी रवाना
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज वाराणसी में कैण्ट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के स्पैन के गिरने की दुर्घटना पर दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन, लोक निर्माण विभाग तथा अन्य सम्बन्धित विभागों को बचाव एवं राहत कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिये हैं। राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ मौके पर मौजूद है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इस हादसे में घायल लोगों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था तथा हर सम्भव मदद सुनिश्चित की जाए। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य घटना स्थल पर पहुंचने के लिए वाराणसी रवाना हो गये हैं।
लग गया कई किलोमीटर लंबा जाम
हादसे की वजह से यातायात भी दोनों तरफ बाधित हो गया तो काफी लंबी दूरी तक जाम की स्थिति भी बन गई। लोगों को बचाने के साथ पुलिस यातायात को सुचारु रूप से संचालित करने में व्यस्त हो गई। फ्लाईओवर का चौकाघाट स्थित बस स्टैंड से लेकर लहरतारा तक विस्तार किया जा रहा था लिहाजा हादसे के बाद कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया।

खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण

0

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) आदमखोर कुत्तों के साये में ग्रामीण व नैनिहाल अभी भी जी रहे है| डर भय का आलम यह है की गाँव के बच्चों ने विधालय जाना तकज छोड़ दिया दिया है| जिससे सरकारी विधालय की छात्र उपस्थिति लगातार कम होती जा रही है| परिजन खुद अपने बच्चों की लाठी-डंडो से लैस होकर सुरक्षा में लगे है| लेकिन उन खूनी कुत्तों को पकड़ने के लिये प्रशासन की तरफ से कोई शख्त कदम नही उठाये जा रह है| जिससे ग्रामीणों में भय व आतंक का माहौल है|
विकास खंड कमालगंज का ग्राम रतनपुर निवासी श्रीनिवास की 12 वर्षीय पुत्री प्रिया को बीते 24 अप्रैल के दिन घर से खेतों की तरफ जा रही थी| तभी उसे आबारा कुत्तों ने काटकर लहुलुहान कर दिया था| एंटी रेबीज ना मिलने से उसकी दर्दनाक मौत हो गयी थी| वही तकरीबन एक दर्जन ग्रामीणों को भी खूनी कुत्तों ने काट दिया था| खबर प्रकाशित होने के बाद हरकत में आये प्रशासन ने सभी मरीजों के एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवा दिया था|
लेकिन इसके बाद भी खतरा अभी टला नही| जेएनआई टीम ने जब गाँव का दौरा किया तो पता चला की गाँव में दहशत का माहौल है| हालत यह है की बच्चो ने कुत्तों के भय से विधालय जाना कम कर दिया है| प्राथमिक विधालय के हेड मास्टर जगदीश नरायण अवस्थी ने बताया की जब से प्रिया के साथ गाँव के कुत्तों ने हमला कर उसे मौत के घाट उतारा है तब से नौनिहालों में दहशत है| विधालय में लगातार छात्र संख्या घटती जा रही है| मंगलवार को 159 पंजीकृत छात्रों में से केबल 40 ही विधालय आये थे|
छुट्टी के दौरान हाथ में लाठी लेकर अपने बच्चो को विधालय से लेने आये सतीश कुमार, कल्लू व योगेन्द्र सिंह ने बताया की आदमखोर कुत्तों का भय गाँव में लगातार बना है| जिससे वह लोग खुद ही लाठी लेकर अपने नौनिहालों को लेकर आते है| उन्होंने जिला प्रशासन से मांग की है की जल्द आबरा कुत्तो को पकड़ कर प्रशासन ग्रामीणों को दहशत से मुक्त करे|
एसडीएम सदर अजीत सिंह ने जेएनआई को बताया की वह जल्द ही आवारा कुत्तो को पकड़ने की व्यवस्था करायी जा रही है| वह खुद भी जल्द गाँव का दौरा करेगें| जल्द समस्या का ठोस निराकरण किया जायेगा|

तहसील दिवस से अनुपस्थित डीआईओएस सहित तीन का वेतन काटा

0

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर/अमृतपुर) सम्पूर्ण समाधान दिवस पर जिलाधिकारी की मौजूदगी के बाद भी जिला विधालय सहित तीन अफसरों के अनुपस्थित होने के चलते उनके वेतन को काटने के आदेश दिये गये|
तहसील में पंहुची जिलाधिकारी मोनिका रानी व एसपी मृगेंद्र सिंह ने फरियादियों की समस्याओं को सुना| इस दौरान राशन व अबैध कब्जे की भरमार रही| तुसौर के कोटेदार सुन्दर लाल के द्वारा राशन वितरण ना किये जाने की शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही ना होने पर डीएम ने जिला पूर्ति अधिकारी व लिपिक राजीव कुमार की क्लास लगा दी| इसी दौरान उन्होंने एसडीएम रमेश यादव से भी जानकारी चाही तो वह भी संतोष जंक जबान नही दे सके| जिस पर उनकी भी फटकार लगा दी गयी|
ग्राम नगला हुसा निवासी सतेन्द्र ने शिकायत कर कहा की उनकी भूमि पर गाँव के दबंग कब्जा किये है| अनीता पत्नी रामकुमार निवासी अमहियापुर ने भी अबैध कब्जे की शिकायत की| जिससे उन्होंने आवश्यक निर्देश दिये| तहसीलदार राजीव निगम को हस्ताक्षर अपलोड ना व रजिस्टर पूर्ण न होने पर क्लास लगा दी| बीएसए अनिल कुमार से जल्द विधालयों ने बिजली कलेक्शन व गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने के साथ ही साथ फर्नीचर भी उपलब्ध कराये| फरियादियों की संख्या अधिक होने से पंजीकरण कराने में धक्का-मुक्की भी हुई|
सम्पूर्ण समाधान दिवस से जिला विधालय निरीक्षक कमलेश बाबू, जिला उद्योग व बन्दोबस्त अधिकारी राजकिशोर व जल निगम के जेई पंकज यादव के अनुपस्थित होने पर उनके वेतन काटने के निर्देश दिये| कुल 125 शिकायते आयी जिसमे से केबल 5 का मौके पर ही निस्तारण हो सका|
इस दौरान थानाध्यक्ष राजेपुर अंगद सिंह, अमृतपुर प्रभारी निरीक्षक रामप्रकाश आदि अधिकारी रहे|

कर्नाटक: रुझानों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत, आधी सीटों पर सिमट रही कांग्रेस

0

नई दिल्ली:कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना जारी है। 222 सीटों के रुझानों में भाजपा ने बड़ी बढ़त बनाई है और कांग्रेस करीब आधी सीटों पर ही सिमट रही है।
भाजपा 111, कांग्रेस 70, जेडीएस 39 व अन्य दो सीट पर आगे है। इस बीच, बेंगलूरू और दिल्ली में भाजपा कार्यालय में जश्न मनाया जा रहा है। इधर, कर्नाटक चुनाव के नतीजे से सेंसेक्स में 400 अंक से ज्यादा का उछाल आया है। दक्षिण में भाजपा की संभावित जीत से 2019 में मोदी की राह आसान हो सकती है। यानि यह मानना पड़ेगा कि देश में मोदी की लहर बरकरार है। वहीं, कांग्रेस की हार से राहुल गांधी के नेतृत्व को फिर से झटका लग सकता है।

[bannergarden id="12"]