Featured Posts

रावण कह रहा तुम मुझे यूँ जला ना पाओगे!रावण कह रहा तुम मुझे यूँ जला ना पाओगे! फर्रुखाबाद:श्रीराम लीला द्वारा मंचन चल रहा है| जिसके तहत विजय दशमी को रावण के वध के साथ ही उसका पुतला दहन होना है| पुतला बनाने वालों ने पुतले बनाकर तैयार कर मेला मैदान में लगा भी दिये है| बीते कई दिनों से कानपुर के ठेकेदार के द्वारा बनाये जा रहे रावण, कुम्भकरण व मेघनाथ के विशालकाय...

Read more

जिला जेल में सियाराम का हुआ वनवासजिला जेल में सियाराम का हुआ वनवास फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)बीते लगभग पांच दिनों से जिला जेल में चल रही राम लीला जनपद में चर्चा का विषय बनी हुई है| आपराधिक मानसिकता के लोगों में अध्यात्म की गंगा बहाने का काम किया जा रहा है| जिसके चलते यह जिला जेल में पहली अनोखी पहल है| जो बंदियों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार...

Read more

450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम नई दिल्‍ली:संगम नगरी इलाहाबाद को 450 वर्षों के बाद आखिरकार अपना पुराना नाम वाप‍स मिल गया। कभी मुगल शासक सम्राट अकबर ने इसका नाम बदलकर प्रयागराज से इलाहाबाद (अल्‍लाहबाद) किया था। पुराणों में प्रयागराज का कई जगहों पर जिक्र मिलता है। रामचरित मानस में इलाहाबाद को प्रयागराज...

Read more

सीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएंसीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएं फर्रुखाबाद:सीएमओ कार्यालय के निकट परिवार नियोजन से सम्बन्धित करोड़ो रूपये की दवा व प्रचार सामिग्री सीएमओं अरुण उपाध्याय की मौजूदगी में आग के हवाले कर दी गयी| इस काम को अंजाम सीएमओ कार्यालय के पूर्व शोध अधिकारी अनिल कटियार निवासी नेकपुर चौरासी ने दिया| अनिल कटियार ने बताया...

Read more

पति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटीपति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटी फर्ररूखाबाद:बीती रात एक सनीखेज मामला सामने आया है| घर आये पति के दोस्तों ने महिला के साथ गैंग रेप कर उसके घर से नकदी व जेबरात चोरी कर लिये| घटना के सम्बन्ध में पुलिस को तहरीर दी गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल शुरू कर महिला को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र...

Read more

खड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसानखड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसान डेस्क: यह तो हम सभी जानते हैं कि पूरे दिन में 8 से 10 गिलास पानी पीना हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए कितना जरूरी होता है। लेकिन आपको यह नहीं पता होगा कि जिस पोजीशन में आप पानी पीते हैं उसका भी आपकी सेहत पर असर पड़ता है। आपके बड़े-बुजुर्ग हमेशा से कहते आए होंगे कि बैठ कर शांति से पानी...

Read more

करवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का उद्यापनकरवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का... नई दिल्ली:वर्ष करवाचौथ 27 अक्टूबर को है। कार्तिक कृष्ण चतुर्थी को करवाचौथ का व्रत किया जाता है। सुहागिन महिलाओं के लिए इस व्रत का विशेष महत्व है। करवाचौथ के दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। कई संप्रदायों में कुवांरी कन्याएं भी अच्छे पति की...

Read more

पुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जामपुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जाम फर्रुखाबाद: साथी के साथ गये युवक से पुलिस ने युवक से मारपीट कर दी| जिससे उसकी मौत हो गयी| आक्रोशित भीड़ ने परिजनों के साथ जाम लगाकर जमकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की| मौके पर पंहुचे एएसपी ने कार्यवाही का भरोसा दिया| जिसके बाद जाम खोला जा सका| शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला दरीवा...

Read more

स्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ीस्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ी फर्रुखाबाद:(मेरापुर/नबावगंज) विधालय बच्चो को लेकर जा रही बैन की गैस निकलने से उसमे बैठे कई मासूम छात्र-छात्राओं की हालत बिगड़ गयी| ग्रामीणों का आक्रोश देख बैन का चालक मौके से खिसक गया| जिसके बाद मौके पर पंहुचे एसपी ने जाँच पड़ताल कर कार्यवाही के निर्देश दिये|जिसके बाद विधालय...

Read more

श्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोरश्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोर फर्रुखाबाद:श्री राम विवाह की शोभायात्रा में सभी बरातियो ने जमकर लुफ्त उठाया| वही राम-सिया के विवाह मंचन से बारात तक के कार्यक्रम में सभी मनोहारी झाँकियो को देख कर श्रद्धालु भावविभोर हो गये| राम बारात में जैसे ही श्री राम के गले में सीता जी ने वरमाला डाली तो रामचरित मानस...

Read more

चौकी इंचार्ज के खिलाफ मनप रहा आक्रोश

Comments Off on चौकी इंचार्ज के खिलाफ मनप रहा आक्रोश

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: व्यापारी के घर हुई चोरी में लगभग 24 घंटे में एफआर लगा देने के चलते चौकी इंचार्ज व्यापारियों के निशाने पर आ गये है| व्यापारियों ने एक बैठक कर आगे की रणनीति तैयार की है|
बीते 29 अप्रैल को कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के नगला दीना निवासी अजय कुमार गुप्ता के बंद पड़े घर में 14 लाख की चोरी हो गयी थी| जिसमें पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज किया| लेकिन चंद घंटो में ही चौकी इंचार्ज ने एफआर लगाकर घटना गलत बताकर बंद कर दिया| जिससे व्यापरियों में आक्रोश पनप गया है| मंगलवार को अखिल भारतीय युवा सेवा संगठन के बैनर तले एक बैठक का आयोजन किया गया| जिसमे सभी ने एक आवाज में कर्नल गंज चौकी इंचार्ज हरेन्द्र सिंह की कार्य प्रणाली पर सबाल खड़े किये और उन्हें निलंबित करने की मांग की|
संगठन के प्रदेश अध्यक्ष मोहित गुप्ता ने कहा की यदि जल्द कार्यवाही नही होगी तो वह आन्दोलन करेगे| इस दौरान पंकज प्रकाश, अजय राम गुप्ता, अर्जुन गुप्ता, दीपक राठौर, जेडी यादव आदि रहे|

निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत

Comments Off on निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत

वाराणसी:पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें राहत व बचाव कार्य में लगी हैं। इन टीमों में कुल मिलाकर 325 आदमी काम कर रहे हैं।
रात आठ बजे तक 25 शव निकाले जा चुके थे, इसके अलावा तीन घायलों को अस्पताल में पहुंचाया जा चुका है। वहां पर अभी 25 से 30 लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। इस हादसे में 50 से अधिक लोग दब गए। प्रदेश सरकार इस हादसे में मृतक के परिवारीजन को पांच-पांच लाख तथा गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान करेगी।
कैंट रेलवे स्टेशन के पास सेतु निर्माण निगम की गाजीपुर निर्माण इकाई के चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर की दो बीम आज शाम अचानक गिर गया। बीम के नीचे एक रोडवेज बस, एक बोलेरो, दो कार, एक आटोरिक्शा और चार बाइक दब गई। सभी वाहन भारी बीम के नीचे दबकर कुचल गए। हादसे का कारण सेतु निर्माण निगम के लापरवाही से कार्य को बताया जा रहा है। मौके पर बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। एनडीआरएफ, सेना, पुलिस, पीएसी और स्थानीय लोग राहत और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। बिना रोड डायवर्जन ही रखे जा रहे स्लैब के चलते यह हादसा हुआ, जिससे पूरे इलाके में आक्रोश व्याप्त है।
शाम होने की वजह से मौके पर काफी जाम की स्थिति थी। लिहाजा फ्लाईओवर गिरने के दौरान बचाव और भागने की गुंजाइश भी नहीं थी। जो जहां था वहीं इसकी चपेट में आ गया। भीड़ की स्थिति देखते हुए अंदेशा जताया जा रहा है कि हादसे में मरने वालों की संख्या और भी हो सकती है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद होकर हादसे में घायलों को अस्पताल पहुंचाने की कोशिश करते रहे। देर रात तक मौके से राहत और बचाव कर्मियों ने 25 शव निकाले।
पीएम नरेंद्र मोदी ने जताया गहरा दुख
पीएम नरेंद्र मोदी ने हादसे के बाद ट्वीट कर गहरा दुख जताते हुए कहा कि- ”वाराणसी में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने के कारण जीवन की हानि से बेहद दुख हुआ। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द ही ठीक हो जाएं। अधिकारियों को प्रभावित लोगों को सभी संभव सहायता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। मैंने उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से हादसे की स्थिति के बारे में बात की। यूपी सरकार स्थिति की निगरानी कर रही है और प्रभावित लोगों की सहायता के लिए जमीन पर काम कर रही है।
राष्ट्रपति भवन ने जारी की शोकसंवेदना
राष्ट्रपति भवन की ओर से हादसे के बाद ट्वीट कर शोक संवेदना जारी की गई – वाराणसी में फ्लाईओवर निर्माण के स्थल पर हुई दुर्घटना के बारे में जानकर आघात पहुंचा है। प्रशासन द्वारा बचाव कार्य और घायलों की सहायता के सभी प्रयास किये जा रहे है। शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी शोकसंवेदनाएं।
अलर्ट किए गए अस्पताल
हादसे को देखते हुए सभी अस्पतालों को प्रशासन ने अलर्ट कर दिया। दीनदयाल अस्पताल व मंडलीय चिकित्सालय में छह डाक्टरों की टीम के साथ दस स्टाफ नर्स समेत मेडिकल स्टाफ तैनात करने के साथ 15 बेड रिजर्व कर दिए गए। वहीं बीएचयू ट्रामा सेंटर में इमरजेंसी वार्ड भी तुरंत बनाया गया। सूचना देकर जिले में तैनात सभी एंबुलेंस तत्काल मौके पर बुला ली गईं। इसकी कमान खुद सीएमओ ने संभाली लेकिन हादसे के दो घंटे बाद भी किसी भी फंसे व्यक्ति को नहीं निकाले जा सकने से डाक्टर लाचार स्थिति में रहे।
डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि मौके पर पुलिस की टीमें भेजी गई है। राहत व बचाव कार्य के साथ ही ट्रैफिक नियंत्रण पर भी खास ध्यान रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी कुछ लोगों के दबने की बात सामने आई है लेकिन अभी हम संख्या नहीं बता सकते हैं। हमारी कोशिश है कि सभी घायलों को वहां से जल्द से जल्द निकाला जाए। उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस मौके पर तत्काल पहुंच गई थी। बात जरूर है कि राहत बचाव कार्य के लिए पुलिस के पास चूंकि कोई साधन नहीं था, लिहाजा कार्य थोड़ी देर में शुरू हुआ। डीजीपी ने कहा कि एनडीआरएफ एक प्रोफेशनल टीम है, वह अपना काम कर रही है।
डीएम रामेश्वर मिश्रा ने कहा रेस्क्यू वर्क चल रहा है। एनडीआरएफ के साथ ही जिला प्रशासन व पूरा अहम इसमें लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि मेडिकल टीमें मौके पर लगी हुई है। उन्होंने कहा कि अभी राहत बचाव कार्य चल रहा है। कार्य पूरा होने के बाद जांच की जाएगी कि ये हादसा कैसे हुआ।हालांकि नीचे दर्जनों लोगों के फंसे होने की सूचना के बाद उनको बचाने की कोशिश की जा रही है मगर कई के मरने का अंदेशा भी स्थानीय लोगों की ओर से जतायी गई है। भीड़ भरा इलाका होने की वजह से प्रशासन भी लोगों को बचाने के लिए मौके पर पहुंच रहा है साथ ही आपदा राहत बल को भी सूचना दे दी गई है।
स्थानीय लोग आए सहयोग में
फ्लाईओवर के नीचे दर्जनों लोगों के फंसे होने की सूचना के बाद उनको बचाने की कोशिश शाम से ही की जा रही है। भीड़ भरा इलाका होने की वजह से प्रशासन भी लोगों को बचाने के लिए मौके पर पहुंच रहा है साथ ही आपदा राहत बल भी मौके पर पहुंच कर फंसे लोगों को देर रात तक बचाने की कोशिश में लगा रहा। हालांकि स्थानीय लोगों के सहयोग से फंसे लोगों को निकालने का क्रम भी इस दौरान बना रहा।
मुख्यमंत्री ने दुःख व्यक्त किया, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य वाराणसी रवाना
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज वाराणसी में कैण्ट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के स्पैन के गिरने की दुर्घटना पर दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन, लोक निर्माण विभाग तथा अन्य सम्बन्धित विभागों को बचाव एवं राहत कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिये हैं। राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ मौके पर मौजूद है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इस हादसे में घायल लोगों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था तथा हर सम्भव मदद सुनिश्चित की जाए। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य घटना स्थल पर पहुंचने के लिए वाराणसी रवाना हो गये हैं।
लग गया कई किलोमीटर लंबा जाम
हादसे की वजह से यातायात भी दोनों तरफ बाधित हो गया तो काफी लंबी दूरी तक जाम की स्थिति भी बन गई। लोगों को बचाने के साथ पुलिस यातायात को सुचारु रूप से संचालित करने में व्यस्त हो गई। फ्लाईओवर का चौकाघाट स्थित बस स्टैंड से लेकर लहरतारा तक विस्तार किया जा रहा था लिहाजा हादसे के बाद कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया।

Some Stress Supervision: Leap-frog About Remise

Comments Off on Some Stress Supervision: Leap-frog About Remise

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

A lot of people who begin businesses assume they may dress yourself in each and every head wear expected plus raise most of their organization automatically. Typically the problem will be that all enterprise reaches to a good point when in order towards genuinely floral often the users want to begin handing off of people less difficult. Best places commence is by partnering having a Virtual Assistant.
A lot of people don? testosterone realize each of the things some Virtual Asst can certainly absolutely accomplish for their industry and a lot of others nonetheless hold the very thinking the fact that they degree of physical position to seriously manage to help you out you. The just is simply not true. Any Virtual Helper are able to do completely whatever the in-house assistant can complete and so much more. Right here are only just a handful of the main locations where a Personal assistant can help your own personal growing company:
Word producing, Formatting, Touch-ups and Proofreading
Letters, information, training manuals, contracts, recommendations, business strategies, and improvement reports? other great tales? anything you actually demand tapped out, formatted, modified or possibly check, a new VA may help you00 with. Not any activity is actually significant as well as far too smaller. Each time you demand second set of eyes to make sure that your record is the main best it might be, your FUE is certainly, there to work. VAs hold the skills for you to formatting your company record and give it all the actual concluding adornment the item requires for that professional appearance you desire to depict.
Transcription
Whether hand-written and also recorded, achieving minutes, tone mail sales messages, phone interactions, lengthy stories, and notices from aim groups? whatever you decide to need, the document will be transported efficiently.
Work Assistance
A good VA can be found there to better you for you to meet just about all your deadlines and goals. They will be able to cope almost any organizational chores required to find your plans done appropriately and correctly.
Internet Investigation
Want some sort of set of your company’s competitors or maybe potential clients? Want many analysis done over a fresh product or maybe service you prefer to offer? Really want some ideas regarding campaigns? Any VETERANS ADMINISTRATION can locate typically the information you may need when anyone need it again.
Data source Control
Want moment to remember your purchaser list, the public you satisfy at diverse networking performs, or your variety of your own services? Some sort of VA will develop and a record of almost any data you keep track of.
Muscle size Messages
Regardless if by simply? snail snail mail?, e-mail or simply send transmit, your individual ANA can guide you to have the details to your own personal goal.
E-Mail plus Tone of voice Ship Managing
Out of town and even want somebody who may well respond to help your company’s e-mails in addition to express courrier? Probably you demand someone that will maintain the informational email-based and even transmit details opportunities to people searching at your Internet site. All of us can determine the fast so one just have to package with the top matters.
Computer saavy Services
Lots of Virtual Assistants offer their specialized companies including Website creation, desktop logging, event organizing, human information assist and even accounting. Selecting a FUE who satisfies your stresses as any company leader provides never already been so simple.
Basically some sort of Va may actually undertake anything a proprietary employee is able to do, but contrary to an workforce, as the member online marketer, these also possess a private share in the organization success. These can guide your small business floral directly into the beautiful flower it truly is meant to help become. Understand more:

www.ingsswe.ga

खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण

Comments Off on खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) आदमखोर कुत्तों के साये में ग्रामीण व नैनिहाल अभी भी जी रहे है| डर भय का आलम यह है की गाँव के बच्चों ने विधालय जाना तकज छोड़ दिया दिया है| जिससे सरकारी विधालय की छात्र उपस्थिति लगातार कम होती जा रही है| परिजन खुद अपने बच्चों की लाठी-डंडो से लैस होकर सुरक्षा में लगे है| लेकिन उन खूनी कुत्तों को पकड़ने के लिये प्रशासन की तरफ से कोई शख्त कदम नही उठाये जा रह है| जिससे ग्रामीणों में भय व आतंक का माहौल है|
विकास खंड कमालगंज का ग्राम रतनपुर निवासी श्रीनिवास की 12 वर्षीय पुत्री प्रिया को बीते 24 अप्रैल के दिन घर से खेतों की तरफ जा रही थी| तभी उसे आबारा कुत्तों ने काटकर लहुलुहान कर दिया था| एंटी रेबीज ना मिलने से उसकी दर्दनाक मौत हो गयी थी| वही तकरीबन एक दर्जन ग्रामीणों को भी खूनी कुत्तों ने काट दिया था| खबर प्रकाशित होने के बाद हरकत में आये प्रशासन ने सभी मरीजों के एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवा दिया था|
लेकिन इसके बाद भी खतरा अभी टला नही| जेएनआई टीम ने जब गाँव का दौरा किया तो पता चला की गाँव में दहशत का माहौल है| हालत यह है की बच्चो ने कुत्तों के भय से विधालय जाना कम कर दिया है| प्राथमिक विधालय के हेड मास्टर जगदीश नरायण अवस्थी ने बताया की जब से प्रिया के साथ गाँव के कुत्तों ने हमला कर उसे मौत के घाट उतारा है तब से नौनिहालों में दहशत है| विधालय में लगातार छात्र संख्या घटती जा रही है| मंगलवार को 159 पंजीकृत छात्रों में से केबल 40 ही विधालय आये थे|
छुट्टी के दौरान हाथ में लाठी लेकर अपने बच्चो को विधालय से लेने आये सतीश कुमार, कल्लू व योगेन्द्र सिंह ने बताया की आदमखोर कुत्तों का भय गाँव में लगातार बना है| जिससे वह लोग खुद ही लाठी लेकर अपने नौनिहालों को लेकर आते है| उन्होंने जिला प्रशासन से मांग की है की जल्द आबरा कुत्तो को पकड़ कर प्रशासन ग्रामीणों को दहशत से मुक्त करे|
एसडीएम सदर अजीत सिंह ने जेएनआई को बताया की वह जल्द ही आवारा कुत्तो को पकड़ने की व्यवस्था करायी जा रही है| वह खुद भी जल्द गाँव का दौरा करेगें| जल्द समस्या का ठोस निराकरण किया जायेगा|

23 marketing eficaz e dicas de branding voltadas para criar ainda mais tráfego e fisco

Comments Off on 23 marketing eficaz e dicas de branding voltadas para criar ainda mais tráfego e fisco

Posted on : 15-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

1. Marketing 101: Desenvolva uma mensagem central poderosa e convincente. “Diga alguma coisa, diga bem, diga com frequência. ” Por que eles deveriam adquirir de você? ”Por de que deveriam lançar uma segunda olhada? abandono. Embora tal seja a essência do uma campanha de branding e marketing bem-sucedida, o visitante ficou surpreso com a quantidade por empresas de que não conseguem entender esse conceito.

2. Certifique-se que sua recado central foi orientada para os pontos fortes. As pessoas não compram serviços ou suplementos, elas compram os pontos fortes desses serviços ou suplementos alimentares. Em todas as as suas comunicações, verifique se sua mensagem se traduz em benefícios específicos.

3. Certifique-se de sua mensagem inicial. Seus clientes querem saber onde ir. Isso deve ficar claro para todos os quatro principais grupos de personalidade (Amiables, Drivers, Expressives e Analyticals). Quando é convidado a ir a qualquer lugar para aprender como interagir com seu sitio e conhecer sobre sua própria empresa.

4. Desenvolva imagens que aprimorem sua mensagem e intriguem seu público-alvo. As imagens em seu site devem sentir melhoramentos sua mensagem sendo visualmente estimulantes. Às vezes isso só pode ser anestésico; outras vezes, pode envolver imagens e conteúdo ‘temporalizados’ em argumento para utilizar o espaço de forma ainda mais eficaz e transmitir uma mensagem do uma maneira mais distinta.

5. Progredir uma proposta de valor única (UVP). Sente-se com um especialista em branding ou marketing e defina um UVP para sua empresa tais como um lembrete de as suas vantagens competitivas. Certifique-se que essas vantagens sejam centradas no cliente e não centradas nos negócios.

seis. Incorpore seu UVP em todas as mídias em linha e off-line para consistência e saturação da marca. Certifique-se que sua mensagem está constantemente reiterando seus benefícios competitivos e seu UVP. Você nunca sabe qual o aspecto da sua marca.

7. Diga aos clientes o que eles querem ouvir, não o que você deseja dizer a eles. Nós chamamos isso de marketing de dentro para fora. Com muita frequência, as empresas, sem saber, concentram-se no que querem dizer, em vez de pelo que estes clientes querem ouvir. Uma perspectiva remota com uma visão verdadeiramente 360 ‘da sua companhia, do ponto de aspecto do cliente, é a melhor alcançada com o aúxilio das atitudes, expectativas e requisitos do cliente.

oito. Construa valor ‘não tédio. Estou deixando este aqui para Napoleon Hill: “Pense e Enriqueça” (“Pense e Enriqueça”)

nove. Lidere com um cabeçalho e feche com um call to action. É especialmente muito ainda mais provável de que os leitores leiam sua mensagem, white papers, estudos de caso, etc., se você melindrar interesse ou curiosidade através de cabeçalhos bem escritos, cabeçalhos por transição, conteúdo do organismo e calls to action que levam ao próximo passo em um ciclo de vendas. Visite empresas de marketing e desenvolvimento de marcas para conseguir detalhes sobre como produzir uma marca de geração de vendas.

10. ‘SCAN I AM’ Os leitores de este momento não lêem, eles escaneiam. Eles examinam áreas de interesse, ofertas, links para informações relevantes, etc. Portanto, é essencial configurar seu texto para que ele possa ser rapidamente verificado. Texto em linha não é linear tais como um livro; é interativo para administrar as demandas não lineares dos usuários.

11. Desenvolva um plano do marca de que mostre claramente como você espera interagir com suas mensagens. O projeto deve começar usando um esboço e mostrar todos estes caminhos do todas as formas do comunicação. Mais uma vez, os profissionais de marketing e branding podem auxiliar a desenvolver um programa.

12. Analise seu plano. Peça de que outras pessoas avaliem seu plano. Reavalie e ajuste. Nenhum plano é perfeito e qualquer plano deve ser ajustado para maximizar sua própria eficácia. É especialmente fundamental para a auditoria contínua de sua marca.

13. Reavalie novamente.

14. Ajuste este seu programa ‘para se adaptar ao mercado, tendências, tecnologias, demandas do cliente, etc. Revise trimestralmente. Toda marca por sucesso no mundo é especialmente otimizada regularmente. A marca é 1 esforço contínuo, não uma ocorrência única.

15. Use ferramentas mensuráveis para rastrear a resposta do cliente em potencial. Use formulários on-line e registros do telefone para rastrear as respostas destes clientes em potencial. Capturar informações através de meios legítimos permite que o visitante faça este remarketing para essa base de clientes e aprecie quais formulários, programas, ferramentas e vendedores estão obtendo os mais apetecíveis resultados.

16. Construa uma lista. Use formulários em linha e registros telefônicos para criar uma lista do possíveis clientes em potencial para atuar como uma poderosa ferramenta de conversão. (Veja abaixo)

17. Remarketing, re-market, re-market. Um cliente pode carecer ver uma mensagem mais de uma vez para notar uma vez! Mantenha seus esforços de marketing indo e indo

18. Não se esqueça de referências! Crie um plano específico para rastrear, gerenciar e pedir negócios do referência. Gostamos de anuncios de e-mail e mala direta para isso. Ligue para nós para discutir como realizar isso funcionar para o visitante: 703-968-6767.

19. Up-selling! Sua base de clientes existente é sua melhor fonte de muito mais negócios. Desenvolva um programa formidável para garantir de que seus clientes saibam este que você fornece e que mantenha suas mensagens principais e outras mensagens relacionadas na frente por seus clientes com a maior frequência possível. (Pode levar até mesmo 10 formas de contato para um cliente se identificar usando sua marca. ) Lembre-se, venda os benefícios – não este serviço!

20. Use programas e ferramentas para gerar interesse. Pessoas gostam de simplicidade e pacotes, ofertas e ofertas fáceis de entender e avaliar. Ao criar vários pacotes ou ferramentas gratuitas para estes clientes potenciais interagirem, você pode estimular o interesse que pode deter diminuído por outra estilo. (Nos ofereceu um ‘ImageCheck’ www.plienoverslas.lt gratuito certos anos atrás, que analisou o impacto da marca de 1 site; foi muito popular e gerou muitos novos negócios. )

21. Bata-os de todos os ângulos! É chamado de marketing de espingarda. Uma concha de espingarda contém centenas de pequenas bolas por chumbo, aumentando sua chance de ajuntar um alvo. Marketing é especialmente praticamente o mesmo ‘quanto mais o visitante usa efetivamente, maior a chance que sua recado seja vista e lembrada. Não existem solução secreta para marketing; é tudo sobre criação.

22. Use tecnologias e tendências; eles são seus amigos! O emprego de várias tecnologias, saiba como reservas on-line, reservas, formulários de resposta, downloads do PDF, blogs, wikis, sistemas de pesquisa internos e newsfeeds têm a possibilidade de ter 1 efeito drástico na sua estratégia global. Há alguns benefícios para ir até mesmo aqui, porém fique à vontade para visitá-lo.

23. Chamadas para ação. As chamadas para proceder são o aspecto mais importante do marketing e da anuncios. Afinal, qual é a melhor forma de fazer uma oferta atraente e interativa? Você deve ter um único apelo à ação para cada género de pessoa. Por exemplo, visite branding, marketing e anuncios.

[bannergarden id="12"]