Featured Posts

चौकी इंचार्ज ने जहर खाकर किया जान देने का प्रयास! हालत गम्भीरचौकी इंचार्ज ने जहर खाकर किया जान देने का प्रयास! हालत गम्भीर फर्रुखाबाद: संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खा लेने से चौकी इंचार्ज की हालत बिगड़ गई| परिजनों ने उसे गंभीर हालत में लोहिया अस्पताल लाया गया जंहा से उसे रिफर कर दिया गया| फ़िलहाल दरोगा को एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती किया गया| चिकित्सकों ने रक्त की जांच कर खून में...

Read more

एक क्लिक पर योगी और मोदी कट कुर्तेएक क्लिक पर योगी और मोदी कट कुर्ते मथुरा:मथुरा स्थित दीनदयाल धाम के उत्पादों का लोहा अब दुनिया मानेगी। विश्व पटल पर चमकने की शुरुआत होने जा रही है। जल्द ही ऑनलाइन मार्केट की दिग्गज कंपनी एमेजॉन पर ये उपलब्ध होंगे। एक क्लिक पर घर बैठे ऑर्डर किए जा सकेंगे। योजना का पूरा खाका खींचा जा चुका है। बस शुरुआत होनी...

Read more

अयोध्या को राम भक्तों के खून से मुलायम ने किया लाल: केशव प्रसाद मौर्यअयोध्या को राम भक्तों के खून से मुलायम ने किया लाल: केशव प्रसाद... लखनऊ:उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने शनिवार को फैजाबाद में कांग्रेस व सपा पर जमकर निशाना साधा। सपा पर निशाना साधते हुए केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि मुलायम सिंह ने राम भक्तों के खून से अयोध्या को लाल किया। अब उन्हें भगवान विष्णु याद आ रहे हैं। वहीं कांग्रेस पर तीर...

Read more

हुसैन की शहादत में किया खूनी मातमहुसैन की शहादत में किया खूनी मातम फर्रुखाबाद:मुहर्रम का चांद दिखाई देते ही शिया समुदाय गम में डूब गया। महिलाओं ने जेवर उतार कर सादा लिबास पहन लिया। मजलिसों का दौर भी शुरू हो गया। मातमी जुलूस निकाल कर या हुसैन, हाय हुसैन की सदाएं बुलंद की गई। इसके साथ ही साथ पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाये गये| शहर के मोहल्ला...

Read more

हुसैन की शहादत में किया खूनी मातमहुसैन की शहादत में किया खूनी मातम फर्रुखाबाद:मुहर्रम का चांद दिखाई देते ही शिया समुदाय गम में डूब गया। महिलाओं ने जेवर उतार कर सादा लिबास पहन लिया। मजलिसों का दौर भी शुरू हो गया। मातमी जुलूस निकाल कर या हुसैन, हाय हुसैन की सदाएं बुलंद की गई। इसके साथ ही साथ पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाये गये| शहर के मोहल्ला...

Read more

पूर्व व्लाक प्रमुख राजेपुर सहित 13 पर मुकदमापूर्व व्लाक प्रमुख राजेपुर सहित 13 पर मुकदमा फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बिजली विभाग ने एक लाख के बड़े बिल बकायेदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया| पुलिस जाँच पड़ताल में जुट गयी है| जिससे हडकंप मचा हुआ है| बिजली विभाग के जेई अजय कुमार यादव ने बिजली का बिल जमा ना करने के मामले में ग्राम करनपुर दत्त निवासी पूर्व व्लाक प्रमुख राजेपुर...

Read more

ग्राम पंचायतों में 20 प्रतिशत अधिक वजट की बनेगी कार्ययोजनाग्राम पंचायतों में 20 प्रतिशत अधिक वजट की बनेगी कार्ययोजना फर्रुखाबाद:कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधकारी मोनिका रानी कीअध्यक्षता में जीपीडीपी (ग्राम पंचायत विकास योजना) की जिला एवं क्रियान्वयन समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में वर्ष 2018-19 की कार्य योजना बनाने पर चर्चा हुई। 2 अक्टूबर 2018 से समस्त ग्रामों में बैठक करो रोस्टर जारी करने...

Read more

विश्राम सिंह अध्यक्ष व पारिया का महासचिव पर कब्जाविश्राम सिंह अध्यक्ष व पारिया का महासचिव पर कब्जा फर्रुखाबाद: जिला बार एसोसिएशन चुनाव में अध्यक्ष पद पर विश्राम सिंह यादव व महासचिव पद पर संजीव पारिया ने कब्जा कर लिया| जिससे उसके समर्थको में ख़ुशी की लहर है| पारिया ने अपने प्रतिद्वंदी को 445 मतों से पराजित किया| फतेहगढ़ बार एसोसिएशन सभागार में मतगणना चुनाव अधिकारी डॉ० अनुपम...

Read more

रात भर चली बार चुनाव की मतगणनारात भर चली बार चुनाव की मतगणना फर्रुखाबाद:जिला बार एसोसिएशन चुनाव बाद शूरू हुआ मतगणना का दौर रात भर चला| प्रत्याशी व उसके समर्थक पूरी रात परिणाम आने के इंतजार में बैठे रहे| सुबह परिणाम घोषित किये गये| बुधवार को सुबह आठ बजे से मतदान प्रारम्भ किया गया था| जिसके बाद मतदान शाम पांच बजे तक चलता रहा| शांतिपूर्ण...

Read more

जीएचटी के अंतर्गत रखें जाये पेट्रोल-डीजल व गैसजीएचटी के अंतर्गत रखें जाये पेट्रोल-डीजल व गैस फर्रुखाबाद: जिला उद्योग व्यापार मंडल ने कलेक्ट्रट पंहुचकर पेट्रोलियम मंत्री को ज्ञापन सौपा| इसके साथ ही व्यापार मंडल ने पेट्रोल डीजल व गैस को जीएसटी के अंतर्गत लाने की मांग की गयी| संगठन के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल के नेतृत्व में व्यापारियों ने कलेक्ट्रेट पंहुचकर ज्ञापन...

Read more

बॉबी ने दिया इस्तीफा रितेश बने जिलाध्यक्ष

Comments Off on बॉबी ने दिया इस्तीफा रितेश बने जिलाध्यक्ष

Posted on : 11-03-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, सामाजिक

फर्रुखाबाद: स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी आश्रित संगठन के नये जिलाध्यक्ष रितेश शुक्ला को बनाया गया है| बॉबी दुबे ने इस पद से इस्तीफा दिया|
अमर शहीद क्रन्तिकारी प० रामनारायण आजाद के पौत्र बॉबी दुबे भगत सिंह ब्रिगेड के राष्ट्रीय संरक्षक है| इस लिये वह स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी आश्रित संगठन के जिलाध्यक्ष के पद का काम ठीक से नही देख पा रहे थे| वह उन्होंने बताया कि वह देश भर में जगह-जगह पर होने वाले कार्यक्रमों में मुख्य अतिथि के रूप में बुलाये जा रहे है| इस लिये उन्होंने जिलाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है| उनकी जगह पर रितेश शुक्ला को जिलाध्यक्ष मनोनीत किया गया|
इस दौरान महेश चन्द्र शुक्ला, जय पाल, राकेश सारस्वत, अरविन्द अग्निहोत्री, नीरज शुक्ला, अक्षय तिवारी आदि रहे|

जय हिन्द क्रिकेट क्लब ने गंजडुण्डवारा को चार विकेट से हराया

Comments Off on जय हिन्द क्रिकेट क्लब ने गंजडुण्डवारा को चार विकेट से हराया

Posted on : 11-03-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: प्रथम स्वर्गीय सगीर हुसैन मेमोरियल क्रिकेट टूनामेंट में पहले दिन दर्शको को रोचक पारी देखने को मिली| जंहा जयहिन्द सेना ने गंजडुण्डवारा को चार विकेट से हरा दिया|
फतेहगढ़ के स्वगीय ब्रह्मदत्त द्विवेदी स्टेडियम में क्रिकेट टूनामेंट का शुभारम्भ मोहम्मदाबाद व्लाक प्रमुख अमित दुबे ने बैटिंग करके किया| गंजडुण्डवारा इलेविन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया| उसने निर्धारित 20 ओबर में 140 रण बनाये| वही गंज इलेबिन की ओर से शोभित ने 34 रन, मोहसिन ने 33 और विकास ने 24 रन बनायें| जय हिन्द की तरफ से कप्तान प्रबल पाठक ने 32 रन देकर 3 विकेट लिये| पंकज और इन्द्रेश ने 2-2 विकेट लिये| लक्ष्य का पीछा करते हुये शौलू की शानदार बल्लेबाजी 51 रन की रही जिसमे उन्होंने 7 चौका और एक छक्का मारा मार मैच चार विकेट से जीत लिया|
प्रवेश कटियार, रफीकुल अंसारी अम्पायर रहे| मुख्य आयोजक साबिर हुसैन, रिंकू यादव, मोनू यादव, आनन्द मिश्रा, बलराम सिंह यादव आदि रहे|

मार्च में ही खुलेंगे शराब ठेकों के टेंडर:अर्चना पाण्डेय

Comments Off on मार्च में ही खुलेंगे शराब ठेकों के टेंडर:अर्चना पाण्डेय

फर्रुखाबाद: बीते दिनों से शराब के ठेकों के लिये डाले गये आन लाइन टेंडर प्रक्रिया से आ रही दिक्कत के विषय में आबकारी मंत्री अर्चना पाण्डेय ने कहा कि कुछ तकनीकी खराबी है मार्च के अंत तक टेंडर प्रक्रिया पूर्ण कर ली जायेगी|
फतेहगढ़ के एक विधालय के वार्षिकोत्सव में शामिल होने आयी सूबे की योगी सरकार की खनन एवं आबकारी राज्यमंत्री अर्चना पाण्डेय ने कहा कि आबकारी विभाग में टेंडर प्रक्रिया में बदलाव करके नई तकनिकी का इस्तेमाल किया है| जिससे कुछ तकनीकी समस्या आ रही है जिसे जल्द दूर करदिया जायेगा | मार्च तक व्यवस्था दुरुस्त कर टेंडर खोले जायेंगे|
कच्ची शराब के जिले में बढ़ रहे कारोबार के विषय में उन्होंने कहा की मुठ्ठी भर अधिकारी व मंत्री मिलकर कच्ची शराब के कारोबार पर पूर्ण रूप से बंदी नही लगा सकते| इसके लिये एक जन चेतना की जरूरत है| जिसमे सभी को जुड़कर एक अभियान की शक्ल देनी होगी| तभी कच्ची शराब से मिट रहे परिवारों को बचाया जा सकेगा|

जेएनआई से खास बातचीत: टपक तकनीक से सिंचाई के लिये किसानों में मिलेगा 90 प्रतिशत अनुदान: मंत्री धर्मपाल सिंह

Comments Off on जेएनआई से खास बातचीत: टपक तकनीक से सिंचाई के लिये किसानों में मिलेगा 90 प्रतिशत अनुदान: मंत्री धर्मपाल सिंह

Posted on : 11-03-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) सूबे की योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने जेएनआई टीम से खास बातचीत की| जिसमे उन्होंने जल्द किसानों की सिचाई की समस्या को जल्द टपक (फब्बारा) तकनीकी से करने की जानकारी दी| उन्होंने इसके साथ ही साथ कहा कि बसपा व सपा का गठबंधन सांप-छछूंदर का बदबूदार गठबंधन है|
निरीक्षण भवन फतेहगढ़ में सुबह 9 बजे कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने जेएनआई को बताया कि 25 सितम्बर 2017 को नितिन गटकारी व सीएम योगी आदित्यनाथ व मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री के बीच जल बटबारा हो गया| इस जल बटबारे से बुन्देलखण्ड को लाभ होगा| चार लंबित योजनायें लंबित थी| जिन्हें बीते 20 वर्षो से वजट ही नही मिला था| पीएम किसानों की आय दो गुनी करने की बात कर रहे है| किसानों की आय दोगुनी तभी होगी जब किसानों की सिचाई व्यवस्था दुरुस्त होगी| इस अपर सीएम योगी ने कार्यवाही भी शुरू कर दी| जो चार योजनायें लंबित थी उन्हें वजट मिला है|
मध्य गंगा नहर परियोजना, सरयू नहर परियोजना, अर्जुन बांध परियोजना,अर्जुन सहायक परियोजना आदि पास कर दी गयी है| जिससे कई जिलों को लाभ मिलेगा| उन्होंने कहा कि पिछली सरकार की प्राथमिकता खेती व किसान नही था| लेकिन बीजेपी सरकार किसानों के प्रति गंभीर है| इसके लिये विभाग व योगी सरकार ने किसानो को टपक (फब्बारा) तकनीकी से सिंचाई करने के लिये अनुदान भी देगी| जिसके तहत लघु व सीमांत किसानो को 90 प्रतिशत अनुदान मिलेगा वही सूबे के बड़े किसानों को 80 प्रतिशत अनुदान सरकार टपक तकनीकी से सिंचाई के लिये देगी| उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने नहर की दुर्दशा की है| लेकिन इस सरकार में पानी नहरों में जा रहा है जिससे किसान खुश है|
सपा-बसपा का बदबू दार गठबंधन
उन्होंने समाजवादी पार्टी व बसपा के बीच हुये उपचुनाव के लिये गठबंधन को बदबूदार करार दिया| उन्होंने कहा की यह सांप-छछूंदर का गठबंधन है जो हार के बाद टूट जायेगा| फूलपुर सीट बीजेपी ही जीतेगी| जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह मौजूद रहे| अन्य कोई बीजेपी नेता नजर नही आया|

Time And Stress Current administration: Leap-frog More than Defferement

Comments Off on Time And Stress Current administration: Leap-frog More than Defferement

Posted on : 11-03-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

On developing most of their business strategies, companies of sizes skin the difficulty with finding out how large is their own market segments. To help begin, companies must gift the volume of their? relevant markets? in all their ideas. The main relevant industry equals the company’s sales if it were so that you can shoot practically involving it’s precise marketplace of your market place. Then again, mentioning that you really were being contesting for the $1 trillion You. S. health care market, for example , is any telltale warning sign of the poorly reasoned internet business plan, since there is certainly no firm that could possibly collect $1 trillion around health-related income. Understanding along with conversing a new credible relevant market size is far far more highly effective compared with showcasing generic market numbers.
The dispute the fact that many organizations face is actually their means to sizing their appropriate markets, especially when they usually are competitive throughout different or maybe quickly increasing real estate markets. Regarding one hand, the truth that the exact markets happen to be new and also evolving is why there may possibly be a substantial opportunity that will mature these and turn often the market chief. Conversely, investors, shareholders and even senior supervision are commonly hesitant to be able to invest methods because, for the reason that markets will not yet really exist, the stores could possibly be likewise small , and and also not really exist whatsoever.
Growthink includes encountered task of dimension emerging market segments numerous moments and seems to have engineered a little-known technique to resolve the particular problem. To start, it can be critical to help discover why traditional market place sizing methods happen to be ill-equipped for you to dimensions promising stores. To be able to underscore, when a researching firm were to use traditional methods so that you can volume the mature current market such because the coffee market in the states, it might take into consideration group developments (e. gary., getting older the baby boomers), psychographic general trends (e. g., higher wellness consciousness), recent income fads and ingestion premiums, amount moves, opponent type gives you plus innovative product production, and channels/retailers among other individuals. Still performing such an study to get surfacing market segments provides challenging simply because a great number of00 components (e. grams., recent income, demographics involving the shopper when you will find no present customers) don? t occur because typically the niche categories are usually at present previously untapped.
The actual scheme forced to measurement these kind of unique areas entails only two treatments. Every process will deliver various estimate, estimation belonging to the opportunity promote sizing, and they often the information will certainly work collectively to offer a firm foundation for typically the industry? t probable. Growthink telephone calls the first technique? peeling to come back the red onion.? In the process, most of us choose the main common names market place (e. h., the coffee beans market) of which that will organization is attempting to help sink, and even eliminate parts of in which market that it could not concentrate on. For example, should the company produced a great particularly high-speed your the fact that retailed to get $600, the idea would originally reduce typically the sector measurement by means of elements for example full price stations (e. f., huge online marketers could not offer the product), demographic factors (lower cash flow customers wouldn’t normally purchase the particular product), and so forth. Simply by peeling backside often the general current market, you actually ultimately will probably be remaining having basically the relevant percentage of it.
The second methods calls for determining the particular market through several sides to approx . the possible market share, replying to things like:
– Dating services: who’s going to be rivalling in the consumer you are serving size; what exactly around their solution pipeline; if you release any product/service, exactly how long could it take all of them to the particular market, who else may well enter the exact marketplace, and so forth.
— Customers: just what are the demographics and also psychographics from the buyers you’re aimed towards; everything that products and solutions are these currently serves to fulfill much the same need (substitute products); exactly how are they already purchasing them; what is usually their own degree of devotion to ongoing providers, and so on
– Marketplace factors: that which factors really exist that will effect often the market dimension? government codes; market loan consolidation in connected markets, selling price changes meant for raw products, and so on
rapid Instance Reports: people options market possess working experience similar révolution and were the customer usage premiums around these niche categories, etc .
Even while such strategies will often be a lot more painstaking compared with old fashioned market place research approaches, they can certainly be the main in learning whether your company has the main next ipod touch or even the then Edsel. Study more:

cerberosecurity.com

[bannergarden id="12"]