अबकी बार रमजान पर मदरसों में नहीं रहेगी 46 दिन छुट्टी

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

लखनऊ:प्रदेश सरकार ने मदरसों में रमजान की छुट्टियां कम कर दी हैं। यह अवकाश 46 दिनों के बजाय इस वर्ष 42 दिनों का ही होगा। सरकार ने मदरसों में पहली बार दशहरा, दिवाली, रक्षाबंधन, क्रिसमस, महावीर जयंती व बुद्ध पूर्णिमा जैसे अवकाश शामिल किए हैं। इन छुट्टियों में मदरसे बंद रहेंगे।

प्रदेश सरकार के छुट्टियों के कैलेंडर में इस बार 89 अवकाश हैं, जबकि पिछले वर्ष छुट्टियों की संख्या 92 थी। सरकार ने इस बार सात नए अवकाश मदरसों में जोड़े हैं। सरकार ने मदरसों में रमजान की छुट्टियों में कटौती की है। पहले ये छुट्टियां 46 से 47 दिन होती थीं, लेकिन इस बार इसे 42 दिन कर दिया गया है। 12 दिन के विशेष अवकाश को भी घटाकर आठ दिन कर दिया गया है। पहले मदरसों में 10 दिन का विशेष अवकाश दिया जाता था। यह मदरसों के विवेक पर निर्भर होता था कि वे इसे किसी भी त्योहार के साथ जोड़कर दे सकते थे। दो दिन का अवकाश मदरसा प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य के पास अलग से होता था। इसे वर्ष 2018 में घटाकर आठ कर दिया गया है। इनमें दो-दो अवकाश यानी चार छुट्टियां प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य दे सकेंगे, जबकि चार दिन का विशेष अवकाश किसी भी त्योहार पर निर्धारित प्राधिकारी द्वारा स्वीकृत किया जाएगा। उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता ने बताया कि दिवाली, दशहरा, रक्षाबंधन व क्रिसमस ऐसे राष्ट्रीय त्यौहार हैं जिन्हें मदरसों में भी मनाया जाना चाहिए। इसलिए ये अवकाश बढ़ाए गए हैं।

छुट्टियों की सियासत में उलझी भाजपा
भाजपा छुट्टियों की सियासत में उलझ गई है। इस बार मदरसों की छुट्टियां सरकार ने कम की हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकार बनाने के बाद प्रदेश में 15 छुट्टियां खत्म कर दी थीं। उन्होंने कहा था कि महापुरुषों के जन्मदिन की छुट्टी के बजाय उस दिन महापुरुषों की जिंदगी के बारे में बच्चों को बताया जाना चाहिए ताकि वे उनकी जिंदगी से प्रेरणा हासिल कर सकें। सरकार ने केवल उन महापुरुषों की जयंती छोड़ी थी जिनमें राष्ट्रीय अवकाश होता है। अब मदरसों में महावीर जयंती व बुद्ध पूर्णिमा का भी अवकाश जोड़ दिया है।

चार साल से घट रही मदरसों की छुट्टियां
मदरसों में अवकाश घटने का सिलसिला पिछले चार सालों से लगातार जारी है। वर्ष 2015 में मदरसों में 98 छुट्टियां दी गईं थीं। उस समय रमजान के मौके पर 47 अवकाश दिए गए थे। 2016 में ये अवकाश घटकर 96 रह गए। वर्ष 2017 चार और छुट्टियां कम हो गईं। पिछले वर्ष 92 अवकाश मदरसों को दिए गए थे, जबकि वर्ष 2018 में अवकाशों की संख्या 89 ही रह गई है।
सामंजस्य व भाईचारा बढ़ाने के लिए की गईं छुट्टियां
अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा कि आपसी भाई-चारा व सामंजस्य बढ़ाने के लिए दिवाली, दशहरा, रक्षाबंधन व क्रिसमस की छुट्टियां मदरसों में की गईं हैं। जब ईद-बकरीद व मोहर्रम की छुट्टियां दूसरे कॉलेजों व महाविद्यालयों में होती हैं तो फिर मदरसों में भी दिवाली, दशहरा की छुट्टियां क्यों नहीं हो सकती हैं। ये ऐसे पवित्र राष्ट्रीय त्योहार हैं जिन्हें भारत की धरती पर पैदा होने वाला प्रत्येक व्यक्ति आदर्श के रूप में मनाता है। अभी तक मदरसों के बच्चों को राष्ट्र की मुख्य धारा से अलग रखा गया। रमजान सहित कुछ विशेष अवकाश इसलिए कम किए गए हैं क्योंकि अधिक छुट्टियां होने के कारण इसका असर पढ़ाई पर पड़ता।

बहाल की जाएं कम की गईं छुट्टियां
टीचर्स एसोसिएशन मदारिसे अरबिया के महामंत्री दीवान साहेब जमां खां ने कहा कि दूसरे धर्मों के त्योहार की छुट्टियां जोडऩा स्वागत योग्य है, लेकिन किसी विशेष आयोजन की छुट्टियां कम कर देना उचित नहीं है। रमजान की छुट्टियां भी घटाना ठीक नहीं है। मोहर्रम के विशेष आयोजन में 10 दिन का विशेष अवकाश इनकी छुट्टियों में जोड़ दिया जाता था, लेकिन इसे सरकार ने खत्म कर दिया है। सरकार को मदरसे की कम की गई छुट्टियां बहाल करनी चाहिए।

चौपाल लगाकर भूमि विवाद निपटाये

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कमालगंज) शासन के अरमान को देखते हुये तहसीलदार ने भूमि सम्बन्धी मामलो का निस्तारण मौके पर ही कराया| वही मौके ही सरकारी भूमि पर कब्जे को भी हटवाया|

बुधवार को तहसीलदार भूपेन्द्र सिंह व थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह ग्राम कनकौली के प्राथमिक विधालय में चौपाल लगाकर ग्रामीणों को एकत्रित किया | जंहा गाँव के चारो तरफ चकरोड पर दबंगों ने कब्जा कर लिया था| जिसकी पैमाइश कराकर प्रधान को मनरेगा के तहत सड़क दुरुस्त करने के निर्देश दिये|

वही गाँव के ही रामबाबू व वेदराम के बीच चल रहे भूमि विवाद का भी निस्तारण करा दिया|

झाड़ियों में मिली बिना नंबर की संदिग्ध बाइक

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कंपिल) पुलिस को झाड़ियों में एक बिना नम्बर की बाइक बरामद हुई| मौके पर भीड़ लग गयी| पास में ही टूटा हुआ हेलमेट पड़ा था|

थाना क्षेत्र के गांव शादनगर पुल के पास कासगंज की सीमा के निकट सड़क किनारे झाड़ियों में हरे रंग की अज्ञात हीरो डीलक्स बाइक व टूटा हैलमेट मिला। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गयी| मामले की सूचना पुलिस को दी गयी| सूचना मिलने पर सिवारा चौकी इंचार्ज अंकुश यादव मौके पर फ़ोर्स के साथ पंहुचे| पुलिस ने जाँच पड़ताल की| लेकिन बाइक की शिनाख्त नही हो सकी| रामीण में किसी का अपहरण या मर्डर आदि की भी चर्चाये है।बाइक कब्जे में लेने के बाद दरोगा अंकुश राघव ने बताया कि बिना नंबर की नई बाइक मिली है| बाइक चोरी की हो सकती है। जाँच की जा रही है|
सीबीआई ने बाबा वीरेन्द्र देव के खंगाले रिकार्ड
बुधवार शाम को सीबीआई इंस्पैक्टर प्रदीप कुमार कंपिल थाने पहुंचे। वहां उन्होंने लगभग दो घंटे तक कंपिल एसओ ललित कुमार से बातचीत की। साथ ही बाबा वीरेन्द्र देव के पुराने मुकदमों के कागजात भी जांचे परखे। इसके बाद वह जरूरी दस्तावेज लेकर चले गए। बताया जा रहा है कि सीबीआई ने शिकंजा कसना शुरु कर दिया है।

बहन को बीते 10 वर्षो से बंधक बनाये था भाई

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: सम्पत्ति हडपने के चक्कर में भाई बीते 10 वर्षो से अपनी सगी बहन को घर में बंधक बनाकर रखे हुये थे| जिसे पुलिस ने जिलाधिकारी व एसपी के आदेश पर मुक्त करा दिया|

शहर कोतवाली के सुभाष नगर निवासी सुनील सक्सेना ने जिलाधिकारी व एसपी मृगेंद्र सिंह को शिकायती पत्र देकर कहा शिकायत की| सुनील ने बताया कि उनके भाई सुधीर सक्सेना की पत्नी सुधा नूरपुर विधालय में अध्यापक के पद पर कार्यरत थी| बीते वर्ष 2006 में सुधीर सक्सेना की मौत के बाद उनकी पत्नी सुधा की भी वर्ष 2008 में तैनाती के दौरान ही मौत हो गयी थी| भाभी सुधा की जगह उनके पुत्र जितेन्द्र सक्सेना को चतुर्थ श्रेणी की नौकरी मिल गयी| लेकिन वह कुछ समय के बाद बर्खास्त कर दिया गया|

वही जितेन्द्र की लगभग 27 वर्षीय बहन दुर्गा को वह लगभग 10 वर्षी से बंधक बनाकर रखे था| सुनील ने आरोप लगाया की जितेन्द्र एक महिला के साथ रहता है| जिसके इशारे पेर वह दुर्गा को नशीली गोली खिलाकर भूखा रखता था| दुर्गा को बीए पास बताया गया| शिकायत को गम्भीरता से देखते हुये एसपी ने शहर कोतवाल संजीब राठौर को तत्काल मौके पर जाकर युवती को बंधन मुक्त कराने के निर्देश दिये|

प्रभारी निरीक्षक संजीव सिंह राठौर ने महिला फोर्स केबुधवार की शाम जितेन्द्र के घर दबिश दी| पुलिस को छत के एक कोने में बैठी दुर्गा मिल गयी|। भोजन काफी लम्बे समय से ना मिलने से उसके शरीर पर हड्डियां दिखने लगी। पुलिस ने फ़िलहाल दुर्गा सुनील कुमार व उनकी पत्नी रंजना के सुपुर्द कर दिया|

दलित महिलाओं को घर में घुसकर पीटा, कोतवाली में धक्का-मुक्की

0

फर्रुखाबाद: घर के बाहर खड़े होकर महिलाओं के साथ अभद्रता करने का विरोध करने पर दबंगो ने महिलाओ को घर में घुसकर पीट दिया| जिसके बाद पुलिस ने मौके से दोनों पक्षों के पांच आरोपियों को हिरासत में ले लिया| लेकिन बाद में कोतवाली में जमकर नोक-झोंक हो गयी|
शहर कोतवाली क्षेत्र के गढ़ी अब्दुल मजीद निवासी नन्ही देवी पत्नी संतोष दिवाकर, रमला देवी पत्नी नरेश दिवाकर, सरला देवी पत्नी विजय चौरसिया ,शीलादेवी पत्नी रामबाबू दिवाकर ने गम्भीर आरोप लगाये है| जिसमे कहा है कि उनके घर के पास ही कुलदीप गुप्ता की परचून की दुकान है| जिस पर नदीम पुत्र शकील, आसिफ पुत्र राशिद, तालिबी पुत्र राशिद खड़े होकर अभद्रता कर रहे थे|

जब इसका विरोध महिला के साथ ही साथ लकी शर्मा पुत्र महेश चन्द्र, शिवा दिवाकर पुत्र नरेश दिवाकर ने किया तो उनके घर में दबंगो ने घुसकर मारपीट कर दी| घटना की सूचना पर पुलिस ने पांच आरोपियों को हिरासत में ले कोतवाली ले आयी| जंहा महिलायों के समर्थन में हिन्दू महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा, नंदी सेना के विक्रांत अवस्थी, गुडू पंडित, अंकित तिवारी,आदि लोग आ गये| वही विरोधी पक्ष से असमल कुरैशी अपने समर्थको के साथ पंहुचे| जंहा दोनों पक्षों में कार्यवाहक घुमना चौकी इंचार्ज दया महेश के सामने जमकर धक्का-मुक्की हो गयी | विवाद बढ़ता देख भारी पुलिस बल कोतवाली आ गया| पुलिस फ्लेग मार्च कर रही है| वही आरोपीयों का कहना है कि वह लोग निकल रहे थे| तभी दूसरे पक्ष ने उनके साथ मारपीट की| उन्होंने कोई अश्लीलता नही की| आरोप गलत है| घटना के संबध में रमला देवी ने तहरीर दी| जिसमे उसने अपने पुत्र शिवा व् लवी को भी मारपीट में जख्मी बताया है| वही विवाद बढने से दहशत में दुकानें बंद हो गयी|
घटना की सूचना पर एएसपी त्रिभुवन सिंह, सीओ शरद चन्द्र शर्मा आदि कोतवाली पंहुचे| एएसपी ने बताया कि तहरीर के आधार पर जाँच के बाद कार्यवाही की जायेगी| अभी पुलिस जाँच कर रही है|

बीजेपी किसान विरोधी सरकार: शिवपाल

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:(कंपिल) चेयरमैंन के पिता की पुन्यतिथि में आये सूबे के पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने बीजेपी को किसान विरोधी बताया| उन्होंने कहा की किसान को ना आलू का शी मूल्य मिल रहा है और ना गन्ने का भुगतान|

कंपिल चेयरमैन उदयपाल सिंह यादव के गांव कमलाईपुर में पंहुचे पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह ने मंत्रोच्चार के साथ उनके पिता पहलवान दफेदार सिंह यादव की प्रतिमा का अनावरण किया| इस दौरान उन्होंने मंच से कहा कि दफेदार सिंह की पहलवानी हमेशा याद रहेगी| उन्होंने सीधे-सीधे बीजेपी पर हमला बोला और कहा कि वर्तमान की योगी सरकार ने किसानो का कोई भला नही किया| किसान परेशान है| किसान का आलू सड़क पर फेंका जा रहा है और गन्ना किसान को उसका भुगतान समय पर नही मिल पा रहा है| खेत में पानी भरने के लिये यदि किसान जरा भी प्रयास करता है तो उस पर बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज हो जाता है| जबकि सपा की सरकार ने किसानो को सिचाई के लिये नहरों का निर्माण कराया था|

इस दौरान उदयपाल सिंह यादव कंपिल चेयरमैन, कमालगंज व्लाक प्रमुख राशिद जमाल सिद्दीकी, नरेन्द्र सिंह यादव, पूर्व विधायक जीनत खान पटियाली ,नाशी खान, पूर्व विधायक इजहार आलम खान ,डॉ जितेंद्र यादव, प्रदीप यादव जिला पंचायत सदस्य, नीलेश यादव जिला पंचायत सदस्य, किशनपाल सिंह यादव जिला पंचायत सदस्य रीतेश यादव, पूर्व सपा जिलाध्यक्ष विश्वास गुप्ता आदि लोग मौजूद रहे।

सभासद से मारपीट में पुलिस ने पति दबोचा

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(कमालगंज) नवनिर्वाचित सभासद के साथ मारपीट करने के मामले में पुलिस ने पति को बैठा लिया| पुलिस मामले में जाँच पड़ताल कर रही है|

थाना क्षेत्र के लोहिया नगर निवासी सभासद निशा ने पुलिस को अपने पति उमाकान्त के खिलाफ तहरीर दी| तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने उसके पति को थाने बुलाकर दबोच लिया| सभासद ने बताया की उसका पति शराब पीने का आदि है और आये दिन शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता है|

बुधवार को भी उसने मारपीट की| पुलिस आरोपी से पूंछतांछ कर रही है|

मेले में अव्यवस्था को लेकर भडके नांगा

0

फर्रुखाबाद: मेला में अव्यवस्थाओं को लेकर नांगा साधू भड़क गये| उन्होंने प्रदर्शन कर प्रशासन को चेतावनी देकर कहा कि उनके अखांडे में मेले की तरफ से मिलने वाली कोई भी सुबिधा नही मिली है| यदि एक दिन के भीतर व्यवस्था नही सुधरी तो अनशन की चेतावनी दी है|

रामनगरिया मेले के जूना अखाड़ा के नांगा संत सत्य, पूर्णगिरी, बाबा हरिदास, सुरेश गिरी, कोतवाल गिरी, पूर्णागिरि,मिथलेश गिरी आदि ने कहा की उनका जूना अखाड़ा का क्षेत्र अमैयापुर क्षेत्र में आता है| जिसमे अभी पूर्ण रूप से बिधुत व्यवस्था नही हुई है| साफ़-सफाई करने भी कोई सफाई कर्मी नही आते| साधू खुद सफाई कर रहे है| राशनकार्ड अभी तक नही बने,शौचालय की व्यवस्था नही हुई है, नलों के हत्थे अभी तक नही लगे| संतों से वाहन पार्किंग पर बसूली होने की भी शिकायत की|

साधुओं ने कहा कि यदि एक दिन के भीतर व्यवस्था नही सुधरी तो जूना अखाड़ा के संत जिलाधिकारी के मेला कार्यालय के बाहर अनशन करेगे| एसडीएम सदर अजीत सिंह ने बताया कि साधुओ की समस्याओं को निस्तारण लगातर कराया जा रहा है| यदि कोई समस्या होगी तो उसे भी जल्द निस्तारित कराया जायेगा|

राशन कार्ड को लेकर कल्पवासीयों में आक्रोश

0

फर्रुखाबाद: रामनगरिया मेला शुरू हुये तीन दिन का समय पूर्ण हो गया| लेकिन अभी तक कल्पवासियो को राशन कार्ड उपलब्ध नही हो सके है| जिससे साधू-संतो में रोष है| इसके साथ ही साथ नागा साधुओं ने अन्य व्यवस्थाओं को लेकर रोष जाहिर किया है|

तम्बुओं का शहर रामनगरिया का बीते 1 जनवरी को जिलाधिकारी मोनिका रानी ने फीता काटकर शुभारम्भ किया था| पूरा गंगा क्षेत्र कल्प वासियों के तम्बुओं से पटा पड़ा है| प्रशासन ने पिछले वर्षो की तुलना में इस वर्ष भी कल्पवासियों को राशन कार्ड से केबल मिट्टी का तेल ही देने की तैयारी की है| जिसके लिये 15 उचित दर विक्रेताओं को लगाया है जिसमे सोताबहादूरपुर, आवाजपुर, विजाधरपुर,लखमीपुर,कीरतपुर, महरूपुर सहजू, माधौपुर, रामपुर डपरपुर, कुटरा, कुबेरपुर घाट, हैबतपुर गढिया, कटरी धर्मपुर, विलावलपुर, निनौआ व भाऊपुर के कोटेदार लगाये गये है| राशन कार्ड बनने पर कल्पवासी को सप्ताह में एक लीटर, छोटे साधू को पांच लीटर व बड़े साधू को 10 लीटर सप्ताह में मिट्टी का तेल दिया जायेगा| लेकिन शुभारम्भ के तीन दिन गुजर जाने के बाद भी अभी तक राशन कार्ड कल्पवासियो को उपलब्ध नही हो पा रहे है|

इसके साथ ही हिन्दू महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा ने कहा है कि शासन -प्रशासन संतो के मामले में लापरवाही ना दिखाये| कल्पवासियों को मिट्टी के तेल के साथ ही राशन भी उपलब्ध कराया जाये| यदि यह नही होता है तो महासभा आलाधिकारीयों से मिलेगी|
हिन्दू जागरण मंच के जिलाध्यक्ष राघव दत्त मिश्रा ने कहा है| राशन कार्ड पर मिट्टी के तेल के साथ ही साथ चावल आदि भी प्र्शासन को उपलब्ध कराना चाहिए| यदि यह नही होता है तो मंच डीएम से भेट कर मांग करेगा|

नंदी संकल्प सेना प्रमुख विक्रांत अवस्थी ने भी राशन कार्ड अभी तक ना बनने और राशन कार्ड पर केबल मिट्टी का तेल वितरण किये जाने के मामले का कड़ा विरोध किया है| उन्होंने कहा कि संतो व कल्पवासियों को राशन भी उपलब्ध कराया जाये| नही तो नंदी सेना आन्दोलन करेगी| एसडीएम सदर अजीत सिंह ने बताया कि राशन कार्ड बनाने का कार्य एक दो दिन में शुरू हो जायेगा| सभी लेखपालो को निर्देश दे दिये गये है|

विधायक समर्थक के शराब ठेके पर छापेमारी

0

Posted on : 03-01-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(कंपिल) जनपद एटा के अलीगंज विधायक सत्यपाल सिंह के समर्थक के ठेके पर अधिकारियों को कई अनिमितायें मिली| अधिकारीयों ने शराब को खोलकर देखा| मौके पर स्टाक रजिस्टर नही मिला|

थाना क्षेत्र के सब्जी मंडी मुख्य बाजार कस्बे मे देशी शराब का ठेका भगवान सिंह के नाम पर चल रहा है| भगवान सिंह विधायक सत्यपाल सिंह के समर्थक है| बुधवार को तहसीलदार गजेन्द्र सिंह ने औचक निरीक्षण करने पंहुच गये| उन्होंने निरीक्षण में कई खामियां मिली| देशी शराब पीने का कोई कैंटीन का ठेका नही है फिर भी लोग ठेका पर ही पौआ खोलते दिखे तहसीलदार ने सभी को हड़काया| दुकान पर लाइसेंस के अलाबा कुछ दुकान पर नही था। स्टाक रजिस्टर के बारे में पूछने पर बताया कि यहाँ उपलब्ध नही है।

तहसीलदार ने सेल्समैन शिवकुमार से जाँच पड़ताल की | उसने अधिकारियो को बताया कि ठेका विधायक अलीगंज सत्यपाल सिंह जिसमे अनुज्ञापी भगवान सिंह है| तहसीलदार को कोई जानकारी नही प्राप्त हो पाई। दुकान पर पानी के पाऊच,ग्लास, नमकीन भी सेल्समैन बेचता मिला। वियर की दुकान व अंग्रेजी शराब की दुकान जाँच में सही पायी गयी।