Featured Posts

मंडलीय खेलकूद में फर्रुखाबाद रहा अब्बलमंडलीय खेलकूद में फर्रुखाबाद रहा अब्बल फर्रुखाबाद: 26 वीं मंडलीय बाल क्रींडा प्रतियोगिता एवं शिक्षक समारोह में आखिर जनपद ने अपना जलवा कायम रखा| उसको प्रथम स्थान मिला| जिसके बाद टीम के लोगों ने जमकर जसं मनाया| पुलिस लाइन मैदान में बीते शनिवार से चल रही प्रतियोगिता में सोमबार को अंतिम दिन आये परिमाण में फर्रुखाबाद...

Read more

जरदोजी व्यापारी की खंजर खोपकर हत्या, दो जख्मीजरदोजी व्यापारी की खंजर खोपकर हत्या, दो जख्मी फर्रुखाबाद: पुरानी रंजिश में युवक पर जान लेवा हमला कर रहे हमलावरों से उलझने में जरदोजी व्यापारी को भी खंजर खोपकर मौत के घाट उतार दिया गया| पुलिस में जाँच पड़ताल शुरू कर दी| गम्भीर रूप से जख्मी दो को निजी अस्पताल में भर्ती किया गया| शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला छाबनी निवासी...

Read more

टिकट के नाम पर ठगी में भाजयुमो नेता सहित दो पर केसटिकट के नाम पर ठगी में भाजयुमो नेता सहित दो पर केस फर्रुखाबाद : बीते नगर निकाय चुनाव में वार्ड नंबर 12 से सभासद पद पर भाजपा का टिकट दिलाने के नाम पर भाजयुमो नेता सहित दो पर ठगी करने का आरोप लगा है| एसपी के आदेश पर दोनों के खिलाफ कोतवाल फतेहगढ़ में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जाँच शुरू कर दी| फतेहगढ़ कोतवाली के मोहल्ला बनखड़िया वार्ड...

Read more

वार्डो में सपा ने बीजेपी को दी जोरदार पटखनीवार्डो में सपा ने बीजेपी को दी जोरदार पटखनी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) निकाय चुनाव में सपा दो व बीजेपी ने तीन सीटे अध्यक्ष पद के लिये जीती हो| लेकिन वार्डो के चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी बीजेपी से दो गुने जीते| समाजवादी पार्टी ने कुल 23 वार्डो में अपने प्रत्याशी लड़ाये थे| जिसमे से उनके 9 प्रत्याशी पार्टी सिम्बल...

Read more

प्रधान पति को चाचा ने गोली मार मौत के घाट उताराप्रधान पति को चाचा ने गोली मार मौत के घाट उतारा फर्रुखाबाद:(राजेपुर)भूमि विवाद के साथ ही साथ चुनावी रंजिश में सगे चाचा ने भतीजे को मौत के घाट उतारा दिया| पुलिस ने मौके पर जाकर जाच पड़ताल| थाना अमृतपुर के ग्राम करनपुर दत्त में सौरभ उर्फ़ अप्पा की पत्नी कीर्ति वर्तमान में ग्राम प्रधान है| उनकी परिवार में भूमि विवाद के साथ...

Read more

राममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमतराममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमत फर्रुखाबाद: समाजवादी सरकार में पूर्व कैबिनेट मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव गुरुवार को यूपी के सीमें योगी आदित्य नाथ के राममंदिर पर दिये गये वयान से सहमत दिखे| उन्होंने कहा की यदि समझौता नही तो कोर्ट का आदेश ही विकल्प है| समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष विश्वास गुप्ता...

Read more

हाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिलाहाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिला फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) सत्ता की शक्ति से कौन अंजान है और खास कर वो तो बिल्कुल भी नही जो सत्ता का सुख एक लम्बे समय तक ले चुका हो| लेकिन कुर्सी पर ना रहने के बाद नेता को सड़क पर चलना मुश्किल हो जाता है| यही नजारा देखने को मिला जब शिवपाल सिंह का काफिला लगभग 20 मिनट तक जाम की झाम में...

Read more

बसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थनबसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थन फर्रूखाबाद: नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिये बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी वत्सला अग्रवाल को महान दल ने अपना समर्थन दे तेजी से चुनाव लड़ाने का ऐलान किया है |जिससे वत्सला के खेमे में मजबूती आ गयी है| महान दल के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने रेलवे रोड स्थित बसपा प्रत्याशी के चुनाव...

Read more

नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत?नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत? फर्रुखाबाद: बीती रात बाइक चोरी के आरोप में पकड़े गये आरोपी की मौत का राज फ़िलहाल पोस्टमार्टम में भी नही खुल सका| जिससे उसकी मौत की गुत्थी उलझ गयी है| वही पुलिस मामले की जाँच कर रही है| थाना राजेपुर के बमियारी रामपुर निवासी विशाल पाठक पुत्र चन्द्रमोहन पाठक उर्फ़ रामू को बाइक...

Read more

योगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैरयोगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैर फर्रुखाबाद: बीते दिनों शराब ठेके पर पुलिस व ग्रामीणों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद पुलिस ने कई को आरोपी बनाया था| जिसको पकड़ने के लिये पुलिस लगातार हाथ-पैर मार रही है |जिस पर अब राजनितिक रंग चढ़ गया है| पुलिस के खौफ से खफा महिलाओ ने राज्य मंत्री के पैर पकड़कर न्याय की मांग की है|...

Read more

निकाय चुनाव हारने वाले इलाकों को टटोलने में जुटी भाजपा

0

Posted on : 06-12-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, PALIKA CHUNAV, Politics, Politics-BJP

लखनऊ:उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव का परिणाम आने के बाद भाजपा अब मिशन 2019 की तैयारी में जुट गई है। लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा गया है लेकिन, नगर पंचायत और नगर पालिका परिषदों में हारने वाली सीटों ने भाजपा को नए सिरे से सोचने पर मजबूर कर दिया है। लिहाजा यह पार्टी हारने वाले इलाकों को टटोलने में जुट गई है।

भाजपा सार्वजनिक तौर पर जीत का जश्न मनाने में सक्रिय है लेकिन, अंदरखाने वह चुनौतियों का आकलन कर रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय सरकार और संगठन के स्तर पर मिशन 2019 का लक्ष्य हासिल करने को ताना-बाना बुन रहे हैं। भाजपा ने नगर निगमों में बेहतर प्रदर्शन तो किया ही है, नगर पालिका परिषद और नगर पंचायतों में भी विपक्षी दलों के मुकाबले आगे है लेकिन, चिंता की बात यह है कि इस मुकाबले निर्दलियों का पलड़ा बहुत भारी है। पार्टी को सुकून देने के लिए यही पर्याप्त है कि हाथ से फिसली हुई ज्यादातर सीटें निर्दलियों के खाते में गई हैं। भाजपा यह पड़ताल करेगी कि आखिर वह कौन से समीकरण रहे जिनके चलते निर्दलियों के पक्ष में परिणाम आया।

जीते हुए निर्दलियों में कुछ भाजपा के बागी हैं तो कुछ टिकट पाने से वंचित नए लोग हैं। ऐसे में पहला सवाल यही है कि क्या टिकट बंटवारे में पार्टी से चूक हुई। दरअसल, पार्टी के कई दिग्गज अपनी-अपनी पसंद के उम्मीदवार चाह रहे थे और उनकी यह मुराद पूरी नहीं हो सकी। प्रदेश में लोकसभा व विधानसभा चुनाव की तरह नीति-नियंताओं के दिमाग में था कि जिसे भी टिकट दिया जाएगा वह चुनाव जीत लेगा पर, बात बन नहीं सकी।
लोकल मुद्दे भी रहे प्रभावी
चूंकि यह चुनाव नितांत स्थानीय मुद्दों से जुड़ा रहा इसलिए कई इलाकों में लोकल मसले ही प्रभावी रहे। नतीजतन, जैसे-जैसे चुनाव निचले स्तर की ओर गया निर्दलियों का पलड़ा भारी होता गया। बानगी के लिए इतना ही काफी है कि 16 में 14 महापौर जीतने वाली भाजपा ने नगर पालिका परिषदों में 922 सदस्य जीते लेकिन, यह सदस्य संख्या निर्दलियों के खाते में 3380 हो गई।नगर पंचायतों में भाजपा के सिर्फ 664 सदस्य जीते, जबकि 3875 सदस्य निर्दलीय हैं। अब स्थानीय समीकरण दुरुस्त करने के लिए भाजपा की यह चुनौती है। भाजपा अपने विधायकों और मंत्रियों को भी इसके लिए जवाबदेह बनाएगी।
क्षेत्रीय स्तर पर शुरू होगी समीक्षा
भाजपा अब क्षेत्रवार समीक्षा करेगी। विधायकों, मंत्रियों और प्रभारी मंत्रियों के साथ ही संगठन के भी बड़े नेताओं के क्षेत्र की समीक्षा होगी। किन सीटों पर सामाजिक और भौगोलिक समीकरण बिगड़ा। जातीय स्तर पर उम्मीदवारों के चयन और मिले मतों का आंकड़ा तैयार किये जा रहे हैं। ताकि यह भी स्पष्ट हो सके कि जातीय चुनौतियों से निपटने के लिए किस तरह की तैयारी की जाए।

छात्रा को बदनीयती से खेत में दबोचने में चार फंसे

0

Posted on : 06-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: विधालय जा रही छात्रा को जबरन खेत में दबोचने के साथ ही साथ शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने पांच लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है|

शहर कोतवाली क्षेत्र के एक गाँव निवासी कक्षा 9 की छात्रा ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया| जिसमे उसने कहा है कि वह अपने विधालय जा रहे थे| तभी उसके ही गाँव के एक युवक अजय ने ग्राम घारमपुर के एक खेत में बदनीयती से दबोच लिया| छात्रा के चीखने पर आरोपी मौके से फरार हो गया| छात्रा अपने विधालय चली गयी वापस आकर उसने अपनी माँ को घटना की जानकारी दी| जिसके बाद पीडिता की माँ उसे लेकर आरोपी के घर गयी|

छात्रा व उसकी माँ को देखते ही आरोपी अजय के साथ ही उसकी माँ, पिता सूरज, भाई विश्वनाथ आदि ने गाली-गलौज देकर जाँच से मारने की धमकी दी| घटना से आहत पीडिता ने पुलिस को तहरीर दी| तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपीयों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया|

गाजे-बाजे और मंत्रोच्चार के बीच की योगी आदित्यनाथ से शादी!

0

सीतापुर: योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ ही गोरखपुर मंदिर के महंत भी हैं और उनकी शादी भी नहीं हुई लेकिन सीतापुर में एक दुल्हन ने सीएम योगी की तस्वीर के साथ मंत्रोच्चार के बीच सात फेरे लिए और गाजे बाजे के साथ सभी रस्में भी पूरी की गईं। शादी के दौरान आए अतिथियों का स्वागत भी किया गया है। दरअसल यह सब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की कई लंबित मांगों पर सीएम का ध्यान आकर्षित कराने के उद्देश्य से विरोध का अनोखा तरीका अपनाया गया है। महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की जिलाध्यक्ष नीतू सिंह ने आज आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की विभिन्न मांगों को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ से सांकेतिक रूप में विवाह किया है।

दुल्हन का कहना है योगी सरकार हमारी नहीं सुन रही है। हमने सोचा शादी कराके पौने 4 लाख बहनों का भला हो जाएगा। ऐसे तो योगी जी हठी हैं सुनेंगे नहीं। 120 दिन का टाइम दिया गया था, लेकिन अब तक 9 महीने का वक्त पूरा हो गया है। शादी होने के बाद शायद उन्हें महिलाओं की वैल्यू मालूम हो जाएगी। अभी 8 तारीख को सीएम योगी आ रहे हैं। हम उन्ही के साथ चले जाएंगे। मांगें पूरी नहीं हुई तो घोड़ी पर चढ़कर चले जाएंगे। वहीं दूल्हा बनी कल्पना ने बताया एक पत्नी को पति हर खुशी देता है। उसकी हर जिद पूरी करता है। इसीलिए हमने ये रास्ता अपनाया है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सहायिकाओं को सम्मानजनक मानदेय देने समेत कई मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अनूठे तरीके से विरोध जताया। सीतापुर विकास भवन के समक्ष प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पोस्टर व पगड़ी बंधाकर संघ की जिलाध्यक्ष ने वरमाला पहनाई। इसके बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संतोषी माता मंदिर पहुंचे और माथा टेककर आशीर्वाद लिया।

कई दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने धरनास्थल पर एकत्रित होकर हुंकार भरी। प्रदेश सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए आर-पार की लड़ाई का ऐलान भी किया। मंगलवार शाम महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की जिलाध्यक्ष नीतू सिंह ने साथी कार्यकर्ता को योगी आदित्यानाथ का पोस्टर लगाकर व पगड़ी बंधवाकर उसे वरमाला पहनाकर विवाह रचाया। इस दौरान जिलाध्यक्ष चुनरी पहने हुए दुल्हन की भेषभूषा में नजर आईं। इसके पश्चात सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आंख अस्पताल रोड स्थित संतोषी माता मंदिर पहुंची, जहां माथा टेककर आशीर्वाद लिया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का तर्क था कि मुख्यमंत्री तक आवाज पहुंचाने का संघ का अनूठा विरोध प्रदर्शन था।

परिवार को शिक्षित करना बाबा साहेब को सच्ची श्रद्धांजलि

0

Posted on : 06-12-2017 | By : JNI-Desk | In : जिला प्रशासन, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कंपिल) डॉ. भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर सामाजिक और राजनैतिक संगठनों के पदाधिकारियों व कार्यकर्त्ताओं ने अम्बेडकर प्रतिमा पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

डॉ० अम्बेडकर राष्ट्रीय एकता मंच के पदाधिकारियों ने सिबारा खास स्थित अम्बेडकर प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित की| श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि समाज का प्रत्येक व्यक्ति अपने परिवार को शिक्षित करने और नशा से दूर रहने का प्रण करे। यही बाबा साहेब की सच्ची श्रद्घांजलि होगी। इस दौरान श्रीपाल गौतम, डॉ० धीरेन्द्र माथुर, ओमप्रकाश यादव,रामसिंह गौतम, सौरभ, डॉ० वीजेन्द्र पाल, रामविलास माथुर आदि रहे| संचालन शिवकुमार गौतम ने किया|

विवाह के दो महीने बाद तीन तलाक,अब घर से निकाला

0

Posted on : 06-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) निकाह के दो महीने बाद ही तलाक देकर घर से निकाला| पुलिस ने समझौता कराकर उसे पुन: भेज दिया\ लेकिन कुछ दिन बाद ही महिला को पुन: घर से निकाल दिया| जिसके बाद एसपी के आदेश पर थाना पुलिस ने महिला के पति सहित पांच के खिलाफ दहेज उत्पीडन का मामला दर्ज आकर लिया है|

जनपद कन्नौज के गुरसहायगंज गाँधी नगर निवासी रूबी पुत्री छोटे खां का विवाह बीते 26 फरवरी 2017 को जहानगंज के थाना क्षेत्र के ग्राम अजीजलपुर निवासी शोहेल पुत्र जाकिर के साथ हुआ था| विवाह के दो महीने बाद ही शोहेल ने उसे तलाक कहकर छोड़ दिया| जिसके बाद मामला पुलिस के संज्ञान में गया तो पुलिस ने दोनों के मध्य समझौता कराकर रूबी को पुन: ससुराल भेज दिया|

लेकिन 2 दिसम्बर 2017 को पुन: शोहेल ने अपनी पत्नी रूबी को घर से बाहर कर दिया | जिसके बाद रूबी ने एसपी का दरवाजा खटखटाया| एसपी के आदेश पर थाना पुलिस ने एक बाइक व 70 हजार रूपये मांगने के आरोप में रूबी की सास जनीम बेगम, ससुर जाकिर, पति शेहेल, नंनद रीना, देवर अमीर के खिलाफ धारा 498 ए, 323, 506 व 3/4 डीपी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया|

[bannergarden id="12"]