फैंसी ड्रेस, डांस व् महिला सम्मेलन के साथ महोत्सव का समापन

0

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: 21 वे फर्रुखाबाद महोत्सव के समापन अवसर पर फैंसी ड्रेस, डांस व महिला सम्मेलन का भव्य आयोजन हुआ| जिसमे कई आकर्षक जानकारी व नृत्य पेश किया गया|

शहर के पटेल पार्क में चल रहे महोत्सव का रविवार को समापन हो गया | जिसके चलते फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता व एकल डांस को देखकर दर्शको ने खूब ताली बजायी| फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में जूनियर वर्ग से 20 व सीनियर वर्ग से 4 प्रतियोगियों से हिस्सा लिया| वही नृत्य प्रतियोगिता में एकल ने 50 व सामूहिक नृत्य में 2 टीमें रही|

वही महिला सम्मेलन के दौरान सीडीओ अपूर्व दुबे व नगर पालिका अध्यक्ष वत्सला अग्रवाल आदि ने महिलाओ के बीच अपने विचार रहे| महोत्सव के अध्यक्ष डॉ० रामकृष्ण राजपूत ने सीडीओ को सम्मानित किया|

नीलाब्जा चौधरी सहित कई आइपीएस की पदोन्नति: डीजी बने तीन पुलिस अधिकारी

0

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

लखनऊ: पुलिस की विभागीय प्रोन्नति समिति की सिफारिश के बाद शासन ने तीन डीजी सहित अन्य पदों पर आइपीएस अधिकारियों की पदोन्नति कर दी है।

एडीजी गोपाल लाल मीना, डीएल रत्नम व राजकुमार विश्वकर्मा को डीजी के पद पर पदोन्नत किया गया है। वहीं आइजी संजय सिंघल, एसबी सिरडकर, सुनील कुमार गुप्ता, जकी अहमद, डॉ.केएस प्रताप कुमार, हरिराम शर्मा, वितुल कुमार व प्रेम प्रकाश अब एडीजी के पद पर पदोन्नत हो गए हैं। डीआइजी लक्ष्मी सिंह, नीलाब्जा चौधरी व संजय कक्कड़ को आइजी के पद पर प्रमोशन मिला है। एसएसपी डॉ. प्रीतिन्दर सिंह, लव कुमार, चंद्र प्रकाश द्वितीय व डॉ. के एजिलरसन को डीआइजी के पद पर पदोन्नति मिली है।

वहीं वर्ष 2005 बैच की आइपीएस मंजिल सैनी, राम कृष्ण भारद्वाज, दीपक कुमार, अखिलेश कुमार, राम बोध, कविंद्र प्रताप सिंह, सुनील कुमार सक्सेना, सुभाष सिंह बघेल, राकेश शंकर, उमेश कुमार श्रीवास्तव, रतन कांत पांडेय, विक्रमादित्य सचान, जितेंद्र कुमार शुक्ला, मृगेंद्र सिंह, पीयूष श्रीवास्तव व दिनेश चंद्र दुबे को सेलेक्शन ग्रेड प्रदान किया गया है। वहीं कई आइपीएस अधिकारियों की पदोन्नति की लिफाफे बंद ही रह गए।

ओपी सिंह यूपी के नए पुलिस महानिदेशक, तीन को संभालेंगे पद

0

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

लखनऊ:केंद्र में डीजी सीआइएसएफ के पद पर तैनात उत्तर प्रदेश कैडर के आइपीएस अधिकारी ओमप्रकाश सिंह उत्तर प्रदेश पुलिस के नए महानिदेशक होंगे। ओपी सिंह आज रिटायर हो रहे सुलखान सिंह की जगह लेंगे। ओपी सिंह के पास डीजीपी पद पर काम करने का लंबा समय है।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार एक ऐसे अफसर की तलाश कर रही थी जिसके पास आगामी लोकसभा चुनाव कराने तक का लंबा समय हो। सरकार के हिसाब से ओपी सिंह कसौटी पर खरा उतरते हैं। मुख्य सचिव राजीव कुमार की अध्यक्षता में प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार तथा प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री शशि प्रकाश गोयल की कमेटी ने ओपी सिंह के पुलिस महानिदेशक के पद के नाम पर मुहर लगाई।कमेटी की संस्तुति पर 1983 बैच के आइपीएस अधिकारी ओपी सिंह को प्रदेश का नया पुलिस प्रमुख नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही आनंद कुमार को एडीजी लॉ एंड आर्डर बनाया गया है। प्रदेश सरकार ने नए डीजीपी के कार्यभार ग्रहण करने तक एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार को डीजीपी का कार्यभार संभालने का आदेश दिया है। रविवार को दोपहर में ही डीजीपी सुलखान सिंह ने उन्हें कार्यभार सौंप दिया।

प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने बताया कि ओपी सिंह प्रदेश पुलिस के महानिदेशक का पद तीन जनवरी को संभालेंगे। केंद्र सरकार की कार्यवाही पूरी होने में दो-तीन दिन लग सकते हैं। इस मामले में ओपी सिंह सरकार की प्राथमिकता में फिट बैठ रहे थे। उनका कार्यकाल जनवरी 2020 तक है। इसके अलावा वरिष्ठता सूची के हिसाब से डीजीपी पद के पहले दावेदार प्रवीण सिंह का कार्यकाल जून 2018 तक है। वर्ममान में वह डीजी फायर के पद पर तैनात हैं।

आईपीएस ओपी सिंह के पास है ढ़ाई साल का लंबा कार्यकाल
यूपी डीजीपी की रेस में बड़ा फेरबदल किया गया है। आईपीएस ओपी सिंह को डीजीपी बनाया गया है। 1983 बैच के आईपीएस अफसर ओपी सिंह को आज चेन्नई से अचानक लखनऊ बुलाया गया है। ओपी सिंह के अलावा कई नामों की चर्चा थी। जिनमें प्रवीण सिंह, शिव कुमार शुक्ला, भावेश कुमार सिंह और रजनीकांत मिश्रा भी पंक्ति में थे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने 1983 बैच के आईपीएस ओपी सिंह पर भरोसा जताया।ओपी सिंह को अचानक लखनऊ बुलाया गया है, वो चेन्नई से यहां पहुंचेंगे। वरिष्ठता के मामले में ओपी सिंह सबसे लंबे कार्यकाल वाले 7वें नंबर के अफसर हैं। लंबा कार्यकाल और अनुभव ही उनके लिए लिए मुफीद रहा। पदभार संभालने के बाद वो ढाई साल तक उत्तर प्रदेश में डीजीपी के पद पर रहेंगे।

योगी सरकार में बदमाशों और अपराधियों के खिलाफ सख्त कदम उठाए गए हैं, लेकिन फिर भी नए डीजीपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती प्रदेश में कानून व्यवस्था को ट्रैक पर लाने की होगी। सरकार के 10 महीने के कार्यकाल में करीब 1000 एनकाउंटर कर 2,000 से अधिक अपराधियों को जेल में पहुंचाया गया है।ओपी सिंह डीजी सीआईएसएफ के पद पर केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं। ओपी सिंह सीनीयरटी में सबसे लंबे कार्यकाल वाले सातवें नंबर के अफसर हैं। उनके पास लंबा कार्यकाल और अनुभव बना है। ओपी सिंह के पास काम करने के लिए ढ़ाई साल का लंबा वक्त है। योगी आदित्यनाथ सरकार एक ऐसे अफसर की तलाश कर रही थी जिसके पास आगामी लोकसभा चुनाव कराने तक का लंबा वक्त है। सरकार के हिसाब से ओपी सिंह कसौटी पर खरा उतरते हैं।

ओपी सिंह ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के डीजी के पद पर तैनात है। सीआईएसएफ के पास देश के महत्वपूर्ण औद्योगिक और परमाणु प्रतिष्ठानों, नागरिक हवाई अड्डों व मेट्रो की रक्षा करने की जिम्मेदारी है। ओपी सिंह उत्तर प्रदेश कैडर के 1983 बैच अधिकारी हैं, जो राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के महानिदेशक के रूप में सेवा कर रहे थे।

उनका कार्यकाल जनवरी 2020 तक है। वीरता के लिए राष्ट्रपति के पुलिस पदक प्राप्त ओपी सिंह एकमात्र डीजी रैंक के अधिकारी हैं। उनको एनडीआरएफ में कुछ बेहतरीन मानक संचालन प्रक्रियाओं की शुरुआत करने के लिए श्रेय दिया गया है और बड़े पैमाने के दौरान मैदान पर अपने लोगों का नेतृत्व किया है। नेपाल भूकंप बचाव और राहत कार्यों पिछले वर्ष उन्होंने एसपीजी, सीआरपीएफ व सीआईएसएफ में पहले सेवा की थी। वह राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के छात्र रहे हैं और और आपदा प्रबंधन में एमबीए की डिग्री उन्हें प्राप्त है।

ओपी सिंह बिहार के गया जिले के रहने वाले हैं। वर्तमान में सीआईएसएफ डीजी के पद पर तैनात हैं। महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों के साथ सीआईएसएफ को दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन, अति महत्वपूर्ण व्यक्ति (VIP) सुरक्षा, आपदा प्रबंधन तथा हैती में यूएन की सशस्त्र व पुलिस यूनिट (FPU) स्थापना की सुरक्षा करने जैसे कार्य भी हाल ही में को सौंपे गए थे।

लखनऊ के तीन बार एसएसपी रहे हैं ओपी सिंह
1983 बैच के आईपीएस ओमप्रकाश सिंह मूल रूप से गया, बिहार के निवासी हैं। वह अल्मोड़ा, खीरी, बुलंदशहर, लखनऊ, इलाहाबाद, मुरादाबाद में बतौर एसएसपी काम कर चुके हैं। ओपी सिंह 3 बार लखनऊ के एसएसपी रह चुके हैं। आजमगढ़ और मुरादाबाद के डीआईजी व मेरठ जोन के आईजी भी रह चुके हैं। इनके पास सीआरपीएफ का लंबा अनुभव है। वह दिल्ली में सीआईएसएफ के डीजी के तौर पर सेवाएं दे रहे हैं।

प्रापर्टी के विवाद में ताबड़तोड़ फायरिंग, पथराव

0

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics- Sapaa, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: बीते कई वर्षो से प्रापर्टी को लेकर चल रहे विवाद के चक्कर में रविवार की सर्द शाम अचानक गर्म हो गयी| दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गये| जिसके बाद जमकर फायरिंग व पथराव हुआ| पुलिस ने घटना स्थल पर जाकर जाँच पड़ताल की|

शहर कोतवाली क्षेत्र के कादरी गेट निवासी कंचन कटियार पत्नी स्वगीय अरुण कटियार व उनके ससुराली नीरज व अजय कटियार उर्फ़ भल्लू पुत्र तिलक राम कटियार के साथ कादरी गेट स्थित गेस्ट हॉउस को लेकर विवाद चल रहा है| कंचन के पति अरुण कटियार ने बीते चार वर्ष पूर्व गंगा में कूदकर आत्महत्या कर ली थी | कादरी गेट पर नीरज, अजय व अरुण के नाम पर सूरज गार्डन था| अरुण की मौत के बाद कंचन गेस्ट हॉउस में हिस्सा मांग रही है| लेकिन ससुराल वाले उसे देने को राजी नही है| जिस पर कई बार विवाद भी हो चुका था| रविवार को पुन: दोनों पक्ष आमने-सामने आ गये| जिसके बाद जमकर जबाबी पथराव हुआ|

फायरिंग भी की गयी| कंचन पक्ष से सपा नेता महेन्द्र सिंह कटियार पंहुचे| उन्होंने पुलिस को सूचना दी| घटना की सूचना मिलने पर प्रभारी निरीक्षक संजीब राठौर, डायल 100 व कादरी गेट चौकी इंचार्ज अंगद सिंह मौके पर पंहुचे| उन्होंने नीरज व अजय के घर का ताला तोड़कर भीतर प्रवेश किया| लेकिन घर के भीतर केबल महिलायें ही मिली|

प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि जाँच की जा रही है| जाँच के बाद कार्यवाही होगी|

दबंगो ने किशोरी के गोली मारी, तीन पर मुकदमा

0

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) नल पर पानी भरने गयी किशोरी को गाँव के ही कुछ दबंगो ने गोली मारकर घायल कर दिया| घटना के सम्बन्ध में पुलिस ने पिता-पुत्र सहित तीन लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया |

कोतवाली क्षेत्र के ग्राम वनकटी निवासी आठ वर्षीय रिया पुत्र कुलदीप शाम को घर के निकट एक हैण्डपाइप पर पानी भरने गयी थी| तभी गाँव के प्रताप सिंह अपने पुत्र अनुज सिंह व निशांत पुत्र प्रदीप सिंह के साथ आ गये| आरोपी गाली-गलौज करने लगे| जब उन्हें मना किया तो आरोपियों ने फायरिंग कर दी| जिससे गोली रिया की नांक में लगी| उसे जख्मी हालत में लोहिया अस्पताल भर्ती कराया गया|

वही रिया की दादी प्रभादेवी ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है | पुलिस मामले की जाँच में जुट गयी है|

पुण्यतिथि पर याद किए गए समाजवादी राजनारायण

0

फर्रुखाबाद: समाजवादी नेता लोकबंधु राजनारायण की 31 वीं पुण्यतिथि पर रविवार को सपा नेताओ ने याद कर उनके जीवन पर प्रकाश डाला| उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय आवास विकास में आयोजित गोष्ठी में अध्यक्षता जिलाध्यक्ष नदीम फारुखी ने कहते हुये कहा कि राजनारायण लोहिया के चुनाव में उसके साथ फर्रुखाबाद आकर रहे| सपा की वह पार्टी है जो अपने महापुरुषों को याद रखती है| उन्होंने कहा कि जो लोग धारा के विपरीत चलते है वह इतिहास बनते है| महानगर अध्यक्ष विजय यादव ने कहा कि हमे महापुरुषों के जीवन से कुछ सीखना चाहिए| उनके बताये हुये मार्ग पर चलना चाहिए|

महासचिव मंदीप यादव ने गोष्ठी में आगामी 2019 का चुनाव जीतने पर बल दिया| जिला प्रवक्ता पुष्पेन्द्र यादव ने भी अपने विचार रखे| महेन्द्र सिंह कटियार ने कहा कि राजनरायण ने अपना राजनितिक जीवन निडरता पूर्वक पूरा किया| उनकी सभी सराहना करते है| अनिल श्रीवास्तव, ओमप्रकाश शर्मा, इलियास मंसूरी, युवा सपा नेता तोषित प्रीत, कल्लू मिश्रा, अरुण, अरविन्द यादव आदि रहे| संचालन संजीब कुमार ने किया|

आधी अधूरी तैयारियों के बीच होगा मेला राम नगरिया का शुभारम्भ

0

फर्रुखाबाद: मेला रामनगरिया का सोमबार को शुभारम्भ हो जायेगा| दूर-दूर से कल्पवासी एक महीने तक गंगा के किनारे जप-तप कर कल्पवास करेंगे| जिसकी तैयारी के लिये प्रशासन ने पूरी ताकत लगा दी| लेकिन शुभारम्भ की पूर्व संध्या को जो तस्वीर मेले की निकलकर सामने आयी वह तो फिलहाल यही बताती है कि तैयारी आधी अधूरी है|
रामनगरिया मेले में कुल 700 हेंडपम्प लगाने का ठेका ठेकदार रामप्रकाश को दिया गया है| रविवार शाम तक 500 हैण्डपम्प ही लग सके| वही कुल 1000 शौचालयों का निर्माण भी इसी ठेकेदार को करना था| लेकिन शुभारम्भ से पूर्व केबल 700 हेंडपम्प ही लग पाये| वही जूना अखाड़ा के सचिव मायागिरी ने बताया कि उनके अखाड़े में में कुल 1600 राउटी लगती है| जिसमे 250 संत कल्पवास करता है| अखाड़े में अभी तक रास्ते, शौचालय, पानी व बिजली आदि की व्यवस्था तक नही हुई|

वही बिजली का ठेका गणपति पावर के सुन्दरलाल को दिया गया है| 21 दिसम्बर से बिजली का कार्य शुरू कर दिया गया था| बिजली सप्लाई के लिये 400 केबीए का मोबाइल ट्रांसफार्मर लगाया गया है| वही बिजली ठेकेदार के पास तीन जरनेटर भी है| लेकिन मजे की बात है की अभी तक कल्पवासियों को बिजली की सुबिधा नही मिली है| कई जगह अभी तक सड़को पर भी बिजली सफाई नही हो रही है|

वही तीन नम्बर सीढी के आस-पास की भी समतल नहीं हुई| जिससे आने वाले कल्पवासियों के वाहन बालू में फंसे रहे| एसडीएम सदर अजीत सिंह ने बताया कि मेला व्यवस्थापक संदीप दीक्षित को तत्काल कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिये है| जल्द से जल्द कार्य पूर्ण किया जायेगा| वही सीडीओ अपूर्वा दुबे ने भी मेला परिसर का निरीक्षण किया|

अपराधी सपा से नही लड़ सकेंगे लोकसभा चुनाव

Comments Off on अपराधी सपा से नही लड़ सकेंगे लोकसभा चुनाव

Posted on : 31-12-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, सामाजिक

फर्रुखाबाद: समाजवादी पार्टी ने आगामी लोक सभा की तैयारी के लिये अपनी कमर कस ली है| जिसके चलते आला कमान ने पार्टी के नेताओ से आवेदन मांगे है| समाजवादी पार्टी एक महीने तक आवेदन लेगी| जिसके बाद प्रत्याशी के लिये अहम फैसला होगा|
समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने सपा मुखिया अखिलेश यादव के निर्देश पर पार्टी के जिलाध्यक्ष व महानगर अध्यक्ष के साथ ही साथ महासचिव व अन्य पूर्व विधायकों को पत्र जारी किया है| जिसमे कहा गया है कि आगामी लोक सभा चुनाव के लिये प्रत्याशी का चयन होना है| जिसके लिये आवेदन मांगे गये है| आवेदन 31 जनवरी तक प्रदेश कार्यालय में जमा किये जा सकेगे|

प्रदेश अक्ध्यक्ष ने सपा में आवेदन करने वाले नेता के लिये 6 शर्तों को भी रखा है| जिसमे वह सक्रिय सदस्य के साथ ही साथ समाजवादी बुलेटन का आजीवन सदस्य हो| उसके ऊपर पार्टी का कोई कर्जा नही है इसका प्रमाण पत्र जिलाध्यक्ष व महानगर अध्यक्ष देंगे| आवेदन करने वाले नेता पर धरना-प्रदर्शन के दौरान दर्ज हुये मुकदमों को छोड़कर अन्य कोई अपराधिक मुकदमा दर्ज ना हो| पार्टी में आवेदन मांगने के साथ ही साथ चुनाव के दावेदारों पूरी ताकत के साथ लग गये है|

युवा संसद में आलू किसानों की दुर्दशा पर उठे सबाल

0

Posted on : 30-12-2017 | By : JNI-Desk | In : जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: 21 वे फर्रुखाबाद महोत्सव में आयोजित कार्यक्रम के तहत युवा संसद का कार्यक्रम आयोजित किया गया| जिसमें युवा वक्ताओं ने किसान की दुर्दशा पर सबाल खड़े किये गये|
शहर के पटेल पार्क में चल रहे फर्रुखाबाद महोत्सव के आयोजन के दौरान युवा संसद का आयोजन किया गया| जिसमे युवायों ने वोटर पेंशन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, आलू की खेती और किसान की दुर्दशा पर चर्चा हुई, शराब बंदी,उच्च शिक्षण संस्थान, खेलो में प्रत्यक्ष रूप से रोजगार, गंगा की सफाई आदि पर तर्क-वितर्क हुआ|

युवा संसद में सभापति की भूमिका अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ, उपसभा पति डॉ० रामकृष्ण राजपूत ने अदा की| सचिव की भूमिका पूर्व विधायिका उर्मिला राजपूत व उपसचिव की भूमिका दीपिका त्रिपाठी ने अदा की| अमृतपुर विधान सभा से विधायक सुशील शाक्य ने भी अपने विचार युवा संसद में रखे|

शिक्षक समस्याओं को लेकर मांग पत्र सौपा

0

फर्रुखाबाद: शिक्षक समस्याओं को लेकर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने नगर शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौप समस्याओं का जल्द निस्तारण करने की मांग की है|
संगठन के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी ने 6 सूत्रीय मांगों का का एक ज्ञापन नगर शिक्षा अधिकारी सोमवीर सिंह को सौपा| जिसमे संगठन को नगर शिक्षा अधिकारी ने प्रत्येक माह के दूसरे मंगलवार को वार्ता हेतु समय देने पर सहमति बनी| जिसमे शिक्षको के सातवें वेतन आयोग का तीन माह का अंतर डीये, बोनस, एमडीएम का बकाया धनराशि, एकल विधालयों के अध्यापक की बीएलओ में डियूटी से मुक्त करने, जीपीएफ पास बुके बनबाने, चयन वेतन मान, एनपीएस की धनराशि का विवरण आदि के सम्बन्ध में शिकायत की|
जिसमे नगर शिक्षा अधिकारी सोमवीर सिंह ने कार्यवाही कर और लेखाधिकारी को पत्र भी जारी कर दिया| नगर अध्यक्ष रोली पाण्डेय, आशुतोष उपाध्याय दीपक शर्मा, दया शंकर मिश्रा आदि रहे|