Featured Posts

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

माटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रामाटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रा फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)चूल्हे की रोटी का स्वाद जिसने चख रखा हो, उसे मिट्टी की हांडी का बदल अच्छा नहीं लगता। मुझे बैलगाड़ी में बैठाकर गांव ले चलिए, घुटन होती है कारों में महल अच्छा नहीं लगता। यह कुछ लाइनें नाम चीन शायर अशोक साहिल की है| यह वेदना उस धुन की पक्की महिला को देखकर...

Read more

सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनाएगा तीन तलाक पर फैसला

Comments Off on सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनाएगा तीन तलाक पर फैसला

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को बीते कई महीनों से समाज और मीडिया में चर्चा के केंद्र में रहे ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर फैसला सुनाएगा। सूत्रों के मुताबिक पांच जजों की संवैधानिक पीठ इस मामले में फैसला सुनाएगी। इस मामले में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला सुबह 10:30 बजे तक आ सकता है। इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में इस साल 11 से 18 मई तक सुनवाई चली थी, जिसके बाद सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला को सुरक्षित रखा था।

सुप्रीम कोर्ट में दायर अपने हलफनामें में केंद्र सरकार ने तीन तलाक के मुद्दे को असंवैधानिक बताते हुए इसे खत्म करने का अनुरोध किया था। वहीं सुप्रीम कोर्ट के समक्ष ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि वह सभी काजियों को अडवाइजरी जारी करेगा कि वे तीन तलाक के मामले में ना केवल महिलाओं की राय लें, बल्कि उसे निकाहनामे में शामिल भी करें।

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर 27 अगस्त को सेवानिवृत हो रहे हैं। नियम के मुताबिक, जो पीठ सुनवाई करती है वही फैसला देती है। इसीलिए प्रत्येक न्यायाधीश सेवानिवृति से पहले उन सभी मामलों में फैसला दे देता है, जिनकी उसने सुनवाई की होती है। अगर सुनवाई करने वाली पीठ का कोई भी न्यायाधीश फैसला देने से पहले सेवानिवृत हो गया तो उस मामले में दोबारा नए सिरे से सुनवाई होगी और तब फैसला दिया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक की वैधानिकता पर छह दिन सुनवाई चली। कोर्ट ने गत 18 मई को सुनवाई के आखिरी दिन फैसला सुरक्षित रख लिया। शुरुआत में सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में स्वयं संज्ञान लिया, बाद में तीन तलाक पीड़ित महिलाओं ने भी याचिकाएं डालीं और इसे असंवैधानिक घोषित करने की मांग की।

याचिकाकर्ताओं की दलील
1. तीन तलाक महिलाओं के साथ भेदभाव है।
2. महिलाओं को तलाक लेने के लिए कोर्ट जाना पड़ता है, जबकि पुरुषों को मनमाना हक है।
3. कुरान में तीन तलाक का जिक्र नहीं है।
4. ये गैर कानूनी और असंवैधानिक है।

मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड और जमीयत की दलील
1. ये अवांछित है, लेकिन वैध
2. ये पर्सनल ला का हिस्सा है कोर्ट दखल नहीं दे सकता
3. 1400 साल से चल रही प्रथा है ये आस्था का विषय है, संवैधानिक नैतिकता और बराबरी का सिद्धांत इस पर लागू नहीं होगा
4. पर्सनल ला को मौलिक अधिकारों की कसौटी पर नहीं परखा जा सकता

सरकार की दलील
1. ये महिलाओं को संविधान मे मिले बराबरी और गरिमा से जीवनजीने के हक का हनन है
2. ये धर्म का अभिन्न हिस्सा नहीं है इसलिए इसे धार्मिक आजादी के तहत संरक्षण नहीं मिल सकता
3. पाकिस्तान सहित 22 मुस्लिम देश इसे खत्म कर चुके हैं
4. धार्मिक आजादी का अधिकार बराबरी और सम्मान से जीवन जीने के अधिकार के आधीन है
5. अगर कोर्ट ने हर तरह का तलाक खत्म कर दिया तो सरकार नया कानून लाएगी।

अज्ञात वाहन की टक्कर से डेयरी संचालक की मौत

Comments Off on अज्ञात वाहन की टक्कर से डेयरी संचालक की मौत

Posted on : 21-08-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के मोहल्ला शास्त्री नगर बजरिया फिल्ड निवासी 26 वर्षीय प्रभात यादव पुत्र अगरीश यादव की अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत हो गयी| पुलिस ने उनके शव को लोहिया अस्पताल भेजा|

थाना क्षेत्र के कायमगंज वाई पास पर बाइक से आ रहे प्रभात को किसी अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी| जिससे वह गम्भीर हो गया| 108 एम्बुलेस के ईएमटी असलम ने उसे लोहिया अस्पताल पंहुचाया| जंहा डॉ० नीरज ने उसे मृत घोषित कर दिया| मृतक के पिता अगरीश यादव ने बताया कि उनके तीन पुत्र है| बड़े पुत्र रामू फिर प्रभात व तीसरे का नाम पवन है| घटना की सूचना परिजनों को मिली| उसकी पत्नी रेखा देवी व माँ तारावती का रो-रो कर बुरा हाल हो गया| मृतक के एक तीन वर्षीय पुत्री अनन्या ढाई वर्षीय पुत्र जितेन्द्र है|

पुलिस का कहना है कि तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी|

बाइकों की भिडंत में मेडिकल संचालक की मौत

Comments Off on बाइकों की भिडंत में मेडिकल संचालक की मौत

Posted on : 21-08-2017 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के बधार-नाले के निकट बाइक सबार मेडिकल स्टोर संचालक की दूसरी बाइक से आमने-सामने की भिंडत में गम्भीर हो गये| पुलिस ने उन्हें लोहिया अस्पताल भेज दिया| जंहा उन्हें मृत घोषित कर दिया गया|

कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र के ग्राम मतापुर निवासी 50 वर्षीय नेकराम शाक्य का मुरास में रंजना मेडिकल है| सोमबार को वह फर्रुखाबाद से मेडिकल के लिये दवा लेकर बाइक से लौट रहे थे| तभी बघार-नाले के निकट सामने से आ रही तेज रफ्तार बाइक ने नेकराम की बाइक में टक्कर मार दी| जिससे दोनों गम्भीर रूप से जख्मी हो गये | बधार चौकी इंचार्ज ने उन्हें लोहिया अस्पताल पंहुचाया| जंहा नेकराम को मृत घोषित दिया गया|

खबर मिलते ही उनकी पत्नी तारावती व अन्य परिजन लोहिया अस्पताल पंहुच गये| शव को देखते ही कोहराम मच गया | मृतक के एक पुत्र अनिल व चार पुत्री है| एक पुत्री का विवाह हो चुका है| पुलिस ने शव का पंचनामा भरा|

बीजेपी प्रत्याशी को धमकाने के आरोप में सुबोध यादव सहित 9 के खिलाफ तहरीर

Comments Off on बीजेपी प्रत्याशी को धमकाने के आरोप में सुबोध यादव सहित 9 के खिलाफ तहरीर

Posted on : 21-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, Politics- Sapaa, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष पद की बीजेपी प्रत्याशी राजकुमारी कठेरिया ने एसपी दयानंद मिश्रा से भेट कर उन्हें तहरीर दी| जिसमे राजेपुर व्लाक प्रमुख सहित 9 लोगो पर आरोप लगाये गये है| एसपी ने जाँच कर कार्यवाही के आदेश थाना पुलिस को दिये है| लेकिन पुलिस घटना संदिग्ध मान रही है|

थाना मऊदरवाजा के पचपोखरा निवासी राजकुमारी कठेरिया पत्नी कल्लू कठेरिया ने एसपी से की गयी शिकायत में आरोप लगाया है कि सोमबार को सुबह लगभग 9:30 बजे वह अपने घर पर थी| तभी राजेपुर व्लाक प्रमुख सुबोध यादव, पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह, जोगेंद्र सिंह, प्रमोद यादव, ओमपाल सिंह, धर्मपाल सिंह, रामप्रकाश उर्फ़ कल्लू यादव, उमेश यादव व किशन पाल यादव उसके घर में घुस आये और गाली-गलौज करने लगे| राजकुमारी ने यह भी आरोप लगाया है कि उन्होंने कहा कि यदि जिला पंचायत के चुनाव में भाग लिया तो परिवार सहित जान से मार देगे| सुबोध पर पिस्टल से फायर करने का आरोप भी लगाया है| लेकिन पुलिस पूरे मामले को संदिग्ध मान रही है|

एसपी दयानंद मिश्रा ने प्रभारी निरीक्षक थाना मऊदरवाजा को जाँच कर कार्यवाही के आदेश दिये है | प्रभारी निरीक्षक ने कहा है की एसपी के आदेश पर जाँच की जायेगी| जाँच में घटना पायी गयी तो कार्यवाही होगी|

प्रतिबन्ध के बाद भी कटीले तार ले रहे छुट्टा गायों की जान

Comments Off on प्रतिबन्ध के बाद भी कटीले तार ले रहे छुट्टा गायों की जान

Posted on : 21-08-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, कृषि, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(राजेपुर)योगी सरकार में गोकशी से गायों की कुछ हद तक जान बची हुई हैं, लेकिन किसान कटीले और ब्लेड वाले तार लगाकर अधमरा कर रहे हैं। तार से कटी गायें तड़प तड़प कर मर रही हैं। उनकी देखभाल करने वाले जिले में कोई नहीं है।

देशी गायों का दूध निकालने के बाद लोग खेतों में छोड़ देते हैं। उनकी परवाह तक करने वाला नहीं होता है। गोकशी से बची गाय किसानों द्वारा लगवाए गए कटीले तारों से बचती हुई नहीं दिखाई दे रही है। अगर खेत में गाय है तो किसान भी उसी तरफ से खदेड़ता है कि वह तार में फंस के घायल हो जाए और दोबारा खेत में आना बंद कर दे। ऐसे किसान गायों को ब्लेड और कटीले तार की तरफ खदेड़ते है जिससे गाय कट जाती है। बरसात के मौसम में उनके घाव भी नहीं सही हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में गायें तडप-तडप के मर रही हैं। जिले में प्रतिबंधित तार किसान लगा रहे हैं, जिस तरफ अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। क्षेत्र में कई गाय कटीले प्रतिबंधित तारो की चपेट में आने से मौत के मुंह में चली गयी है| राजेपुर से लेकर अमृतपुर तक व्लेडयुक्त तार खेतो में लगाये गये है| क्षेत्र की दुकानों पर भी प्रतिबंधित तार खुलेआम बिक रहा है| इसके बाद भी किसी अफसर ने कोई कार्यवाही नही की|

जबकि जिलाधिकारी कह चुके है कि जिले के जिन किसानों ने खेतों पर कटीला और ब्लेड का तार लगा रखा है। उनकी जांच कराने के लिए थानाध्यक्षों से कहा गया है। जिस किसान के खेत में ब्लेड का तार लगा हुआ मिलेगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।”

[bannergarden id="12"]