मकान गिराने पर थानाध्यक्ष व् सर्वोदय नेता में झड़प

0

Posted on : 15-08-2017 | By : पंकज दीक्षित | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) थाना क्षेत्र के ग्राम निबिया इटावा-बरेली हाई के किनारे बनाये गये मकान दुकान को सर्वोदय मंडल के नेता लक्ष्मण सिंह द्वारा गिरा देने के बाद मौके पर पंहुचे थानाध्यक्ष से उनकी तीखी झड़प हुई| बाद में पुलिस ने दोनों को यथा-स्थिति बनाये रखने के निर्देश दिये|

अमृतपुर तहसील के ग्राम खगटौरा निवासी जगवीर सिंह यादव व् बलिस्टर सिंह ने निबिया इटावा-बरेली हाई के किनारे मकान दुकान बना लिये थे| जिसके बाद उनका सियाराम से विवाद चल रहा था| मंगलवार को अधिवक्ता व सर्वोदय मंडल के नेता लक्ष्मण सिंह कोर्ट के आदेश के साथ ही जेसीबी लेकर पंहुचे और दुकान व मकान गिरा दिया| सूचना मिलने पर एसडीएम बसंत कुमार, थानाध्यक्ष सुशील कुमार मौके पर पंहुचे जंहा लक्ष्मण सिंह की थानाध्यक्ष से जमकर विवाद हो गया| पुलिस इसके बाद वैकफुट पर आ गयी|

बाद में अफसरो के हस्तक्षेप के बाद दोनों पक्षों को थाने में बुलाया गया| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है| एसडीएम बसंत कुमार ने बताया की लेखपाल को बुलाकर जाँच करायी जायेगी| इसके बाद आगे की कार्यवाही होगी|

अंग्रेजी शराब के चक्कर में पिला दी कांच

0

Posted on : 15-08-2017 | By : पंकज दीक्षित | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) थाना क्ष्रेत्र के कस्बा स्थित अंग्रेजी शराब के ठेके से शराब लेकर पीने से फल विक्रेता की हालत बिगड़ गयी| जब उसने चेकअप कराया तो पता चला उसके पेट में कांच है| जिससे उसके होश उड़ गये| उसने पुलिस को तहरीर दी|

गाँव महमदपुर अमलैया निवासी मनोज पुत्र रामचन्द्र फल बेचने का काम करता है| उसने पुलिस को दी गयी तहरीर में कहा है कि कस्बे के अंग्रेजी शराब के ठेके पर तैनात सेल्स मैंन ने उसे सस्ते के चक्कर में खुली हुई अंग्रेजी शराब दी| जिसको पीने के बाद से उसकी हालत खराब है| जब उसने पेट दर्द के चलते अल्ट्रासाउंड कराया तो पता चला की उसके पेट में कांच है|

पता लगने पर मनोज के होश उड़ गये| उसने थाने में शराब ठेके के खिलाफ तहरीर दी| थानाध्यक्ष संजय गुप्ता के अनुसार जाँच के बाद कार्यवाही होगी |

व्लाक प्रमुख ने मदरसे के बच्चो को दिलाई शपथ

0

Posted on : 15-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: (कमालगंज) स्वतन्त्रता दिवस पर ध्वजारोहण के बाद विकास खंड क्षेत्र के व्लाक प्रमुख राशिद जमाल सिद्दीकी ने सभी बच्चो को शपथ भी दिलायी|

विकास खंड के ग्राम अलाउद्दीनपुर के मदरसा बदरूनिशा मेमोरियल एजुकेशन सेंटर पंहुचे व्लाक प्रमुख ने ध्वजारोहण कर राष्ट्रगान कराया और मदरसे के सभी बच्चो को शपथ दिलाकर उनका मार्गदर्शन किया| वही जरारी के मदरसा मेहदीहसन में प्रबन्धक हाजी समीद ने ध्वजारोहण किया|

प्राथमिक विधालय मिर्जानगला में खंड शिक्षा अधिकारी सुमित वर्मा ने हेडमास्टर रूचि वर्मा के हरी झंडी दिखाकर स्कूल चलो अभियान रैली को रवाना किया| वही सुमित वर्मा को जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार व सीडीओ अबिनाश कुमार व विधायको व सांसद ने शहर के ठंडी सड़क स्थित नव भारत सभा भवन में आयोजित जश्ने आजादी के सम्मानित भी किया गया|

प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी ने किया पौधारोपण

0

Posted on : 15-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, कृषि, जिला प्रशासन

फ़र्रुख़ाबाद:(कम्पिल) जिलाधिकारी रविंद्र कुमार की पत्नी प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी दीक्षा भण्डारी ने स्वतंत्रता दिवस पर पौधारोपण कर लोगो को पौधा रोपण के लिये जागरूक किया|

कस्बा के रुदायन मार्ग पर वन विभाग के अफसरों ने पौधारोपण की तैयारी की| इसके साथ ही साथ मौके पर अन्य लोग भी एकत्रित हुये | दोपहर दीक्षा भंडारी रुदायन मार्ग पर अपने सरकारी अमले के साथ पंहुची और पौधारोपण किया|

प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी के आने से पूर्व ही कर्मचारियों ने पौधों के लिए गढ्ढा तैयार किया जिसमें जैविक खाद और दीमक रोधी कीटनाशक डाल कर तैयार किया गया। दीक्षा भंडारी ने बन विभाग के मौजूद प्रत्येक कर्मचारियों को पौधे रोपड़ करने के लिए कहा।

जरा याद करो कुर्बानी: अंग्रेज पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ व दरोगा सहित पिपरगांव में गिरी थी चार लाशें

0

Posted on : 15-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, POLICE

फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) 81 साल बाद आज भी गांव के लोग जब उस खून से लाल जमीन को याद करते है तो उनके रोगटे खड़े हो जाते है| गांव में जब भी ब्रिटिश हुकूमत की बात शुरू होती है तो लोग 1936 में गांव में हुए पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ की हत्या की घटना को याद कर बैठते है| आखिर क्या हुआ था उस दिन मोहम्दाबाद क्षेत्र के ग्राम पिपरगांव में अंग्रेज पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ सहित चार की लाशें गिरा दी गयी| वही पूरे गांव को बम से उड़ाने का फरमान सुनाया गया| शायद चंद लोग ही इस घटना से परिचित होंगे|

15 अगस्त के चलते जेएनआई की टीम ने आप के जहन में इतिहास के पन्नो को छान कर जो जानकारी निकाली है वह बहुत दिलचस्प है| कई सबाल आप के मन में उठ रहे होंगे की पिपरगांव में किस ने एसपी व दरोगा की हत्या की थी? बात उन दिनों की है जब देश गुलामी की जंजीरों में जकड़ा था| पूरे देश में आजादी के लिए अलख जगायी जा रही थी| वही उसी दौरान मोहम्दाबाद क्षेत्र के ग्राम पिपरगांव में अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ एक अलग ही चिंगारी भडक रही थी| इस चिंगारी का नाम था चिरौजीलाल पाल| चिरौजीउन दिनों सेना के जवान थे और सरहद पर तैनात थे| लेकिन लड़ाई के दौरान चिरौजी लाल के हाथ में दुश्मन की गोली लग गयी जिससे उन्हें सेना छोडनी पड़ी| सेना छोड़ कर वह अपने पिपरगांव में घर पर आ गये| चिरौजी लाल के चाचा रतिराम पाल उन दिनों हांकी के राष्ट्रीय टीम में कप्तान थे| वह भी गांव आये हुए थे|

4 मार्च 1936 का दिन था गांव का प्रतिएक व्यक्ति अपने अपने काम में लगा हुआ था| चिरौजी लाल पाल के खेत से अनाज कट रहा था| अनाज उनके चाचा का नौकर रामसिंह काट रहा था| कटे हुए अनाज को वह चिरौजी के घर ना ले जाकर उनके चाचा रतिराम के घर पर ले जाने लगा जिसका उन्होंने विरोध किया| विरोध की स्थित में चाचा और भतीजे में विवाद हो गया तो चिरौजी ने गुस्से में नौकर के गोली मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी| अब तो आग में घी का काम करने वाली बात हो गयी रतिराम ने जब चिरौजी लाल को ललकारा तो बीच में गोली चलने के दौरान उनकी माँ आ गयी जिसे रतिराम की माँ को गोली लग गयी और रतिराम भी गम्भीर घायल हो गये|

घायल अवस्था में रतिराम तत्कालीन पुलिस अधीक्षक जीएस कोली के पास पंहुचे और मामले की जानकारी दी| शिकायत सुनते ही पुलिस अधीक्षक कोली खुद घटना पर पंहुचने के लिए निकला उसके साथ में दरोगा जयंतीप्रसाद भी था| पुलिस अधीक्षक लगभग शाम तकरीवन 6 बजे पिपरगांव पंहुचा और उसने चिरौजीलाल को जिंदा पकड़ने की योजना बनायी| तब तक अँधेरा हो चुका था| एसपी कोली ने चिरौजी को देखने के लिए टार्च जलायी तो रोशनी को देख कर चिरौजी ने पुलिस अधीक्षक कोली पर गोली चला दी| गोली चलाते समय चिरौजी लाल अपने मकान की छत पर खड़े थे फायरिंग की घटना में दरोगा जयंती प्रसाद को भी गोली से उड़ाया गया था|

कुल मिलकर चार लाशे गिर चुकी थी और गांव की गली में खून की नदिया वह रही थी| वही चिरौजी ने उसी दिन सुबह अपनी ही लाइसेंसी बंदूक से गोली मार कर मौत को गले लगा लिया वह अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ थे|घटना की जानकारी जब पुलिस अधीक्षक की पत्नियों को हुई कोली दो पत्नियाँ रखता था| तो एक पत्नी ने गांव को बम से उड़ा देने के आदेश जारी कर दिये लेकिन दूसरी पत्नी ने इस बात के लिए मना कर दिया की गलती पूरे गांव की नही है जिसने गलती की है वह मर चुका है जिसके बाद उस फरमान को खत्म कराया|

अंग्रेजी हुकूमत ने पुलिस अधीक्षक कोली व दरोगा जयंती प्रसाद की याद में एक कब्र गाँव में ही बना दी| तो वही दूसरी कब्र फतेहगढ़ सीओ के कार्यालय में पडोस में बने कब्रिस्तान में बनायी गयी| चिरौजी का परिवार अभी भी गांव में ही रह रहा है| कुछ लोगो ने अन्य जनपदों में नौकरी कर ली| लेकिन चिरौजी की यादे व गोलियों की गडगडाहट आज भी उनके मकान की कच्ची दीवारों में दफन है|

स्वतंत्रता दिवस पर गगन में लहराया तिरंगा

0

Posted on : 15-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद : स्वतंत्रता दिवस पूरे जिले में उल्लास के साथ समारोह पूर्वक मनाया गया। कलेक्ट्रेट व पुलिस लाइन में हुआ जहां जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने ध्वजारोहण किया तथा पुलिस लाइन में दयानंद मिश्रा ने तिरंगे को शलाम किया|

मंगलवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सुबह जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय के बाहर ध्वजारोहण किया| इससे साथ ही उन्होंने ब्रह्म दत्त द्विवेदी स्टेडीयम में स्कूली बच्चो की रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया| विकास भवन गेट से क्रास कंट्री रेस का हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया| लोक निर्माण विभाग जेएनबी तिराहे पर बनी भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया| इसके साथ ही उन्होंने अपनी पत्नी जिला वन अधिकारी भंडारी के साथ अपने कैम्प कार्यालय पर भी ध्वजारोहण किया| कलेक्ट्रेट के सामने नेता जी सुभाष चंद्र की प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया व् कलेक्ट्रेट के पार्क में वृक्षारोपण कर उपस्थित स्कूली बच्चों को मिष्ठान एवं उपहार वितरण किये।

वही एसपी दयानंद मिश्रा ने पुलिस लाइन पंहुचकर ध्वजारोहण कर पुलिस कर्मियों को उनके कर्तव्यो से अवगत कराया| वही उन्होंने अच्छे कार्य के लिये डायल 100 प्रभारी अजीत सिंह, हेडकांस्टेबल सुरेश सिंह, कन्हैया लाल पाण्डेय, विवेक कुमार, योगेश कुमार, कुलदीप सिंह, मनोज पटेल दिया| वही पूर्व में तैनात रहे निरीक्षक पंकज मिश्रा को सराहनीय सेवा सम्मान दिया गया| एपसी ने इसके बाद सभी को शपथ भी दिलाई| एएसपी त्रिभुवन सिंह आदि मौजूद रहे|

विद्यालयो की छात्राओं ने खुले आकाश में गुब्बारों को छोड़कर जश्न-ए-आजादी का इजहार किया गया। आम लोगों के जोश में कोई भी कमी नहीं दिखी।

Get Better Signifies by Crafting an investigation Pieces of paper with A Specialist

0

Posted on : 15-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

Get Better Signifies by Crafting an investigation Pieces of paper with A Specialist

When someone else requires you to write all sorts of things out of your buy suggestions, it may seem not as difficult. Read the rest of this entry »