बाढ़ की चपेट से घर हो या घाट सब पानी-पानी

0

JNI NEWS : 11-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बरसात में गंगा की बाढ के पानी ने सैकड़ो घरो को अपनी गिरफ्त में ले लिया| जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है| बाढ़ में हुये कटान से कई गाँवो के रास्ते कट गये और कुछ कटने के इंतजार में है | जिसको लेकर ग्रामीण चिंतित है|
राजेपुर क्षेत्र में चित्रकूट, हमीरपुर, खानपुर, बरुआ, गौटिया,आशा की मडैया के विधालय जल मग्न है| वही सबलपुर, रामपुर, जुगरानपुर, जगतपुर,भुड़ीया भेडा, ईमादपुर सोमबंशी आदि दर्जनों गाँवो में बाढ़ का संकट है| नगरिया जबाहर में लोग शौच छत पर जा रहे और छत पर ही भोजन आदि की व्यवस्था किये है| लेखापाल अभी तक इन गाँवो की व्यवस्था देखने तक नही गया है |
वही अमृतपुर क्षेत्र की बात करे तो अमृतपुर कलक्टरगंज, तौफीक भाऊपुर, हरिहरपुर, ताजपुर, नगला हुसा, असमपुर, बलीपट्टी, कुतलुपुर, कुशमापुर आदि गाँव में गंगा का पानी पंहुच गया है| कंपिल के कई गांव इकलहरा, शेखपुर, बौरा, पथरामई बाढ़ की चपेट में है| कई गांव के अंदर बाढ़ का पानी घुस गया । ग्राम इकलहरा में कई घरों में पानी घुस गया। सड़क के ऊपर से पानी गुजर रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि कल से आज बाढ़ का पानी काम हुआ था ।लोग पानी से ही निकल कर अपनी जरूरतों को पूरा करने पर मजबूर है। इकलहरा गांव का विद्यालय भी बाढ़ की चपेट में है| कमालगंज के नगला खेमरैगाई मे गंगा के कटान से गांव जाने का मार्ग कटने से ग्रामीणाे के सामने नया संकट पैदा हो गया है|

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-