Featured Posts

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

माटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रामाटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रा फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)चूल्हे की रोटी का स्वाद जिसने चख रखा हो, उसे मिट्टी की हांडी का बदल अच्छा नहीं लगता। मुझे बैलगाड़ी में बैठाकर गांव ले चलिए, घुटन होती है कारों में महल अच्छा नहीं लगता। यह कुछ लाइनें नाम चीन शायर अशोक साहिल की है| यह वेदना उस धुन की पक्की महिला को देखकर...

Read more

टेंपो पर रखे झोले से 50 हजार गायब

Comments Off on टेंपो पर रखे झोले से 50 हजार गायब

Posted on : 11-05-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS

फर्रूखाबाद:(राजेपुर) शादी समारोह में शामिल होने आयी महिला के झोले में रखे 50 हजार रूपये गायब कर लिये गये| पुलिस को सूचना दी गयी| पुलिस जाँच कर कार्यवाही की बात कह रही है|

पड़ोसी जनपद हरदोई हरपालपुर निवासी धन देवी पत्नी रमेश सक्सेना बीते 7 मई को अमृतपुर में एक रिश्तेदार के घर शादी समारोह में शामिल होने के लिये आयी थी| जब वह शहजंहापुर अल्लागंज हुल्लापुर चौराहे पंहुची तो वह राजेपुर के लिये टैम्पो पर बैठ गयी| महीला के मना करने पर भी झोला टैम्पो की छत पर चालक ने रख दिया| जब वह अमृतपुर निवासी रिश्तेदार के घर पंहुची उसके बाद उसने झोले में रखे रूपये देखे| लेकिन रूपये गायब थे| झोला कटा हुआ था|

धनदेवी गुरुवार को थाने पंहुची उसने पुलिस को घटना की जानकारी दी| पुलिस मामले को संदिग्ध मानकर जाँच कर रही है|

आबकारी ने तहखाने से पकड़ा अवैध शराब का जखीरा

Comments Off on आबकारी ने तहखाने से पकड़ा अवैध शराब का जखीरा

Posted on : 11-05-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के चांदपुर ईंट भट्टा के निकट पुलिस व आवकारी टीम की छापेमारी के दौरान जानवरों की नांद के नीचे एक बहुत बड़ा तहखाना मिला। जिसमें पुलिस को भारी मात्रा में अवैध शराब के पौए व अन्य सामान बरामद हुआ। लेकिन मौके से कई युवतियां भी बरामद हुई। जो मीडिया के पहुंचने से पहले ही मौके से खिसक गयीं।
आवकारी टीम कई घंटों से सुरागरसी कर रही थी। जिसके बाद वह चांदपुर पहुंची। जहां संजय शाक्य पुत्र भैयालाल व उसके भाई विनोद शाक्य की गोदाम को चेक किया गया। कुछ युवतियां गोदाम में मौजूद थीं। चेकिंग के दौरान युवतियों के मना करने के बाद भी जब आवकारी टीम ने नाद का भूसा हटाकर देखा तो उसके नीचे एक बहुत बड़ा तहखाना निकला। जहां से आवकारी टीम को 50 पेटी पौआ, पांच हजार खाली पौए, 1000 ढक्कन, पैकिंग करने की मशीन, पांच हजार बरामद रैपरों पर रायल स्टेग, बब्बर शेर, नैना आदि के नाम लिखे रैपर आदि सामग्री बरामद हुई। पुलिस व आवकारी टीम ने सभी माल जब्त कर लिया। लेकिन मौके पर मौजूद युवतियां गायब हो गयीं। आवकारी निरीक्षक एसके सोनकर ने युवतियों के होने की बात से इंकार किया है। इस दौरान सीओ सिटी आलोक कुमार, कोतवाल डी के सिंह, आवकारी निरीक्षक संजय पाण्डेय संजय गुप्ता, घटियाघाट चैकी इंचार्ज संजय चैहान आदि मौजूद रहे।
कई वर्षों से तहखाने में संचालित हो रहा था शराब का कारोबार
फर्रुखाबाद: स्थानीय सूत्रों की मांने तो गोदाम में बीते कई वर्षों से शराब का कारोबार संचालित किया जा रहा था। पुलिस की नजर आज पड़ी है।

नसीमुद्दीन ने मायावती पर लगाए बड़े आरोप

Comments Off on नसीमुद्दीन ने मायावती पर लगाए बड़े आरोप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से निष्कासित नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि मुझे झूठे आरोप लगाकर पार्टी से निकाला गया. मायावती ने मुझे काफी उल्टा-सीधा कहा. मायावती ने कांशीराम के बारे में जो कहा मैंने उसका विरोध किया था. मैंने मायावती को हार के कारणों के बारे में बताया था जिस पर वह नाराज हो गई थीं. यही नहीं मायावती ने मुझसे पैसे की मांग की. पार्टी को 50 करोड़ रुपये की जरूरत है. मैंने कहा कि मैं कहां से लाऊं तो बोलीं अपनी प्रोपर्टी बेच दो. मैंने कहा कि अगर मैं अपनी प्रोपर्टी बेच भी दूंगा तो 50 करोड़ का चौथाई भी हो जाए तो बड़ी बात है. मैंने ये भी कहा कि नोटबंदी के बाद अगर प्रोपर्टी बेचूंगा तो भी कैश नहीं मिलेगा. लेकिन पार्टी हित के लिए मैं ये भी तैयार हूं. इसके बाद मैं अपने दोस्तो-रिश्तेदारों से कहा कि कुछ करें. पार्टी के लोगों से कहा कि मेरी प्रोपर्टी बिकवा दो. जब थोड़ा पैसा इकट्ठा हो गया तो मैंने बहनजी को कहा कि पैसा इकट्ठा हो गया है.
प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही खास बातें
मैंने मायावती से कहा कि जिन कांशीराव ने पार्टी की नींव रखी, जिन्होंने आपको राजनीति सिखाई, उनके बारे में आपने गलत बोला. ये कार्यकर्ताओं को अच्छा नहीं लगा. इस पर मायावती ने कहा कि मैं तुम्हारे खिलाफ कार्यवाही करूंगी.
चुनावों में हार के बारे में पूछा तो मैंने मायावती को घोषणापत्र जारी करने की सलाह दी थी
हार का एक कारण मैंने उन्हें बताया था कि आपने मंच से किसी प्रत्याशी के लिए वोट नहीं मांगा
मैंने यह भी कहा कि आप लोगों से मिलती नहीं है, आपको लोगों से मिलना चाहिए
आपकी सुरक्षा का मैंने हमेशा ख्याल रखा, लेकिन जो अब हो रहा है वो कभी नहीं हुआ
आप पैन, घड़ी सब रखवा लेती हैं, सतीश चंद्र मिश्रा की गाड़ी के लिए तुरंत गेट खुल जाता
तलाशी हो रही है तो सबकी होनी चाहिए. मायावती नेताओं में भेदभाव करती हैं
मुझसे 50 करोड़ की मांग की गई
मायावती के अब राज्यसभा की सांसद बनने के भी लाले
मायावती खुद चाहती हैं कि पार्टी खत्म हो जाए ताकि कोई और पार्टी में खड़ा न हो पाए
मायावती नहीं चाहतीं कि कोई और दलित चेहरा सीएम बने
मुझे गलती बताए बिना सजा सुना दी गई
मायावती ने मेरा पक्ष सुने बिना ही सजा सुना दी
मैंने कौन सी पार्टी विरोधी गतिविधियां की बताओ तो सही

सिद्दीकी ने बयान में कहा है, ‘मैं समझता हूं कि इस निष्कासन से मेरे व मेरे परिवार की और मेरे सहयोगियों की बहुजन समाज पार्टी में 34-35 साल की कुबार्नी का सिला मुझे दिया गया है. मैंने इस मिशन के लिए और मायावती के लिए खासतौर पर इतनी कुबार्नी दी है, जिसकी मैं गिनती नहीं कर सकता.’ नसीमुद्दीन ने आरोप लगाया, ‘मायावती, उनके भाई आनंद कुमार और सतीश चंद्र मिश्रा द्वारा अवैध रूप से, अनैतिक रूप से और मानवता से परे कई बार ऐसी मांगें की गईं, जो मेरे बस में नहीं थीं. कई बार मुझे मानसिक प्रताड़ना दी गई, टार्चर किया गया. जिसके पुख्ता प्रमाण मेरे पास हैं.’ नसीमुद्दीन ने कहा, ‘2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव और 2012 व 2017 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को मायावती की गलत नीतियों के कारण सफलता नहीं मिली. उन्होंने मुसलमानों पर गलत झूठे आरोप लगाए.’ उन्होंने कहा, ‘2017 के चुनाव से काफी पहले से मैंने पार्टी के लिए जो प्रयास किए, उसी का नतीजा था कि बसपा को 22 प्रतिशत से अधिक वोट मिले. नहीं तो स्थिति और बदतर होती. शिकस्त के बाद मायवती ने मुझे बुलाया और अपर कास्ट, बैकवर्ड को बुरा-भला कहने के साथ ही खासतौर पर मुसलमानों के लिए अपशब्द कहे, जिसका मैंने विरोध किया था.’

राशन कार्ड सत्यापन ना करने को शिक्षक एकजुट

Comments Off on राशन कार्ड सत्यापन ना करने को शिक्षक एकजुट

फर्रुखाबाद: प्रशासन के द्वारा शिक्षको की डियूटी राशन कार्ड सत्यापन में लगा देने का विरोध काफी दिनो से चल रहा है| लेकिन प्रशासन के द्वारा कोई ठोस कदम ना उठाने से आक्रोशित दर्जनों की संख्या में शिक्षक एसडीएम सदर रमेश चन्द्र स मिले और उन्हें सत्यापन कार्य से मुक्त करने की मांग के साथ ही साथ चेतावनी भी की यदि उनसे दबाब डालकर कार्य कराया गया तो शिक्षक आन्दोलन करने पर बाध्य होंगे|
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी के नेतृत्व में शिक्षक एसडीएम से मिले| उन्होंने कहा कि शिक्षको की गैर शैक्षणिक कार्यो में डियूटी ना लगायी जाये| आरटीई एक्ट में शिक्षको को गैर शिक्षणिक कार्य ना कराया जाये| इसके बाद भी उनसे वर्तमान में बल गणना, नगर निकाय, निर्वाचन नामाबली आदि में स्कूल चलो अभियान से पूर्व में ही डियूटी लगा दी गयी| संगठन ने मांग कर कहा है कि शिक्षक किसी भी कीमत पर राशन कार्ड सत्यापन डियूटी नही करेंगे| यदि दबाब डाला गया तो आन्दोलन किया जायेगा|
वही संगठन के नगर अध्यक्ष ने जिला पूर्ति अधिकारी को ज्ञापन दिया है| इसमे भी राशन कार्ड सत्यापन ना कराये जाने की मांग की गयी| इस दौरान रीता पाण्डेय, रामा देवी, श्वेता पटेल, दीपक शर्मा, नीतू, रीना वाजपेयी आदि रही|

एसडीए सदर रमेश यादव ने बताया कि ज्ञापन उन्होंने जिलाधिकारी को भेज दिया है| जिलाधिकारी ने ही डियूटी लगायी है| अब वह ही इस अपर निर्णय लेंगे|

भ्रष्टाचार के खिलाफ सड़क से लेकर कलेक्ट्रेट तक शिक्षकों का प्रदर्शन

Comments Off on भ्रष्टाचार के खिलाफ सड़क से लेकर कलेक्ट्रेट तक शिक्षकों का प्रदर्शन

फर्रुखाबाद : माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट ने गुरुवार को कार्यालयों में भ्रष्टाचार व अन्य समस्याओं को लेकर प्रदर्शन किया| पहले शिक्षको ने डीआईओएस कार्यालय पर प्रदर्शन किया और नारेबाजी की| इसके बाद जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपा|
गुरुवार को सुबह शिक्षक नेता डीआईओएस कार्यालय में एकत्र हुये उसके बाद उन्होंने धरना प्रदर्शन किया| जिलाध्यक्ष लालाराम दुबे ने शिक्षको बताया शिक्षा कार्यालयों में भ्रष्टाचार लगातार बढ़ता जा रह है| शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में लाखों रुपये वसूले जा रहे हैं। चयन व प्रोन्नत वेतनमान में भी जमकर बसूली हो रही है| जिला मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा कि 18 हजार स्ववित्तपोषी शिक्षकों को पूर्ण कालिक घोषित किया जाए। इंदिरा राठौर ने पुरानी पेंशन बहाली की मांग की।

शिक्षक दिनेश त्रिपाठी व नवलकांत अग्निहोत्री ने भी समस्याएं उठाईं। अवनीश ओझा, मयंक रस्तोगी, सुधाकर चतुर्वेदी, संजीव चौहान ने भी विचार रखे। स्थानीय समस्याओं पर प्रभारी डीआईओएस पीएस यादव को ज्ञापन दिया।

[bannergarden id="12"]