अविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सी

0

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद गुरुवार को एक बजे तक 21 जिला पंचायत सदस्यों ने अपना अविश्वास सगुना देवी में दिखा दिया| सगुना के पक्ष वाले 8 जिला पंचायत सदस्य उनके पक्ष में हाथ उठाने नही पंहुचे|
अविश्वास लाने वाले जिला पंचायत सदस्यों में राजेपुर द्वितीय के पूनम, राजेपुर तृतीय से छाया, राजेपुर एवं शमशाबाद के रशमी, शमशाबाद प्रथम से मनोज, शमशाबाद द्वितीय से सुरेशचन्द्र, शमशाबाद तृतीय से रावेन्द्र सिंह गंगवार, शमशाबाद चतुर्थ से भजनलाल, कायमगंज प्रथम से लक्ष्मी रीटा, कायमगंज द्वितीय से गीता, कायमगंज तृतीय से कृष्णपाल सिंह, कायमगंज चतुर्थ से नीलेश, नबावगंज प्रथम से सुरभि सिंह, नबावगंज द्वितीय से ज्ञानदेवी कठेरिया, मोहम्मदाबाद द्वितीय से प्रदीप यादव, मोहम्मदाबाद तृतीय से गीता देवी, मोहम्मदाबाद चतुर्थ से सुमनलता,कमालगंज प्रथम से रतीराम, कमालगंज द्वितीय से रिंकी कुमारी, कमालगंज चतुर्थ से प्रेमनरायन, कमालगंज षष्ठम से उमेश यादव, बढ़पुर प्रथम से आशादेवी, बढ़पुर तृतीय से विजय यादव ने अपना मतदान कर दिया।
आठ सदस्य नही आये
अविश्वासप्रस्ताव के दौरान राजेपुर प्रथम से रमेश चन्द्र, शमशाबाद द्वितीय से रमेशचन्द्र, नबावगंज तृतीय से जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी, कायमगंज प्रथम से संदेश , मोहम्मदाबाद प्रथम से सुमन यादव, मोहम्मदाबाद पंचम से श्यामा देवी, कमालगंज तृतीय से जुबैरिया शाह, कमालगंज प्रथम से शकुंतला, बढ़पुर द्वितीय से चन्द्रपाल नही पंहुचे|

जिला पंचायत के एएमए उज्जवल अम्बेश ने बताया कि शुक्रवार को सगुना देवी का अध्यक्ष पद से अधिकार खत्म हो जायेगा | अविश्वास प्रस्ताव की रिपोर्ट शासन को जायेगी| इसके बाद शासन के निर्देश पर फ़िलहाल नया जिला पंचायत अध्यक्ष बनने तक जिसे भी अधिकार दिया जायेगा| वह ही अध्यक्ष का कार्य देखेगे|

Comments are closed.