अविश्वास: सगुना कठेरिया की कुर्सी पर संकट के बादल

0

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी कठेरिया के पति पूर्व विधायक अजीत कठेरिया की कार्ययोजना अधिकतर लोगो को रास नही आयी| इसी का परिणाम है की गुरुवार को होने वाली अविश्वास प्रस्ताव की वोटिंग में सगुना की कुर्सी को संकट के बादल गहरा गये है| वही माना यह भी जा रहा है कि पुन: होने वाले मतदान में भी बीजेपी का कोई दबदबा नजर नही आ रहा है| जबकि पूर्व विधायक अपनी पत्नी की कुर्सी बचाने के लिये बीजेपी नेताओ की ही परिक्रमा लगा रहे है|

सांसद मुकेश राजपूत सगुना के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के पक्ष में ही नही बताये जा रहे थे| लेकिन सपा नेताओ की योगी सरकार में भी खिचड़ी ठीक से पकती दिखायी दे रही है |जिले की सपा में भी अध्यक्ष पद को लेकर दो ग्रुप बन गये है| ताकतवर पक्ष अपने पर्याप्त जिला पंचायत सदस्यों के साथ गुरुवार को सगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी लगभग पूरी कर चुका है| वही पूर्व सपा विधायक अजीत कठेरिया बीजेपी नेताओ की परिक्रमा करने में लगे है लेकिन उन्हें अब ना माया मिली ना राम वाला हिसाब नजर आ रहा है| बीजेपी के बड़े नेताओ से भी उन्हें कोई राहत नही मिली| एक तरफ कुआँ और दूसरी तरफ खाई पूर्व सपा विधायक को नजर आ रही है| देखना यह है की अब गुरुवार को होने वाले अविश्वास प्रस्ताव के मतदान में क्या निकल कर आता है|

बीते 7 अप्रैल को जिला पंचायत के 21 सदस्यों ने जिलाधिकारी को अविश्वास प्रस्ताव के हलफनामे सौप दिये थे | उधार की वैशाखियों पर टिकी जिला पंचायत में पिछले दो साल में हुए विकास कार्यो की जाँच भी होना संभव है| कुल मिलाकर अध्यक्ष की कुर्सी के पाए जमकर चरमरा गए है| जिला पंचायत में कुल 29 सदस्य है|

होमगार्ड मृतक आश्रित भर्ती में तीन दौड़े,तीनों पास

0

Posted on : 03-05-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जिला होमगार्ड के मृतक आश्रितों की भर्ती में दौड़ का आयोजन किया गया | जिसमे कुल तीन युवाओ ने हिस्सा लिया तीनों ने दौड़ पास कर ली| दौड़ के आयोजन में सुरक्षा के काफी इंतजाम किये गये| रखा रोड को तकरीबन आधा घंटे के लिये बाधित भी किया गया|
मृतक आश्रित भर्ती की दौड़ रखा रोड पर आयोजित की गयी| दौड़ रखा से सेन्ट्रल जेल तक आयोजित हुई| जिला कमांडेट शैलेन्द्र सिंह ने जेएनआई को बताया कि भर्ती की कमेटी में जिला कमांडेट, बीएसए संदीप चौधरी, कानपुर के कमांडेट सतेन्द्र कुमार के साथ ही साथ मंडल कमांडेट थे| उन्होंने बताया कि 10 मिनट में दो किलो मीटर की दौड़ करायी गयी| लेकिन तीन युवा ही भर्ती में दौड़े| और तीनो ने दौड़ पास कर ली|

अब उनका पुलिस बेरीफिकेशन होगा उसके बाद मेडिकल और 94 दिन की ट्रेनिग भी दी जायेगी| अंत में तीनो को पास होने पर नियुक्ति पत्र जारी होंगे|

भरोसे की घुट्टी के साथ किसान यूनियन का अनशन खत्म

0

Posted on : 03-05-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) तहसील परिसर में चल रहे किसान यूनियन के अनशन को आखिर अफसरों ने भरोसे की घुट्टी पिलाकर ख़त्म कराने में सफलता हासिल कर ही ली| बुधवार को किसनो ने अनशन समाप्त किये|
बीते दिन दिन तहसील परिसर में अनशन के दौरान ही किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने बदायूं मार्ग जाम किया था | जाम में तहसील के अफसरों को तहसील परिसर में ही बने आवासों में रहने, क्षेत्र के सभी फूंके ट्रांसफार्मर बदलने और तहसीलदार और एसडीएम का तबादला करने के साथ ही साथ ग्रामीण बैंक व स्टेट बैंक के मैनेजरों को हटाये जाने की मांग की गयी थी| अफासोरो ने किसी तरह कह सुनकर जाम खुला लिया था|
इसके बाद बीती रात अनशन कर रहे संजीव व मेघनाथ की हालत बिगड़ी| जिसके बाद अफसरों के हाथ-पैर फूल गये| आनन-फानन में अफसरों ने 16 मई तक मांगो पर कार्यवाही करने का भरोसा दिया| इसके बाद अनशन समाप्त किया गया| किसान यूनियन नेताओ का कहना है कि यदि समय रहते मांगे पूरी नही हुई तो फिर बड़ा आन्दोलन किया जायेगा|

तीन जिलों की पुलिस ने बरामद किया चोरी का ट्रक

0

Posted on : 03-05-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) थाना क्षेत्र के ग्राम ईशापुर में कन्नौज, मैनपुरी और जनपद की पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर मैनपुरी से चोरी किया गया ट्रक बरामद कर लिया| मामले में चालक को गिरफ्तार कर पुलिस ने जाँच पड़ताल शुरू कर दी है|
बुधबार को कन्नौज स्वाट टीम, जनपद मैंनपुरी के थाना बकेबर के थानाध्यक्ष जेपी पाल व जहानगंज थानाध्यक्ष नरेन्द्र कुमार गौतम ने संयुक्त रूप से थाना क्षेत्र के ग्राम ईशापुर में द्बिश दी | पुलिस ने चोरी का एक ट्रक बरामद कर लिया| उसके साथ ही पुलिस ने चालक लालू पुत्र सैय्यद निवासी छिबरामऊ कन्नौज को गिरफ्तार किया है| चालक लालू ने पुलिस को बताया कि उसे ट्रक भड़ौसा निवासी हासिम ने चलाने के लिये दिया था| ,मैंनपुरी पुलिस ने कई और आरोपी पहले पकड़े थे| जिसकी निशान देही पर ट्रक और चालक कब्जे में आये है|

पेट्रोल पंप कही आप के साथ तो नहीं कर रहे ठगी

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पेट्रोल पंप पर हो रही तेल की चोरी पकड़ी गई। इसके बाद ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि लोग जितना पेट्रोल-डीजल डलवा रहे थे असल में उनको उससे 10-15 प्रतिशत कम ही मिल रहा था। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, घोटाले से पर्दा उठने के बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि अगर देश में मौजूद कुल पेट्रोल पंपों में से 10 प्रतिशत ऐसा कर रहे होंगे तो सालाना 250 करोड़ रुपए का घोटाला हो रहा होगा। तेल मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कुल 59,595 पेट्रोल पंप हैं। उनमें से 3.5 करोड़ उपभोक्ता 2,500 करोड़ रुपए का पेट्रोल-डीजल भरवाते हैं।
ऐसा भी माना जा रहा है कि यूपी की स्पेशल टास्ट फोर्स (STF) ने जिन पेट्रोल पंपों का भांडा फोड़ किया है वे सब इस घोटाला का महज एक छोटा सा हिस्सा है। STF द्वारा पकड़े गए मुख्य आरोपी रवींद्र ने भी कबूला था कि यूपी के तकरीबन एक हजार पेट्रोल पंपों में चोरी करने वाली चिप लगी हुई है। रवींद्र ने पूछताछ में बताया कि वह इस चिप को लगाने के लिए पेट्रोल पंप मालिक से 40 से 50 हजार रुपए तक लेता था। उससे जानकारी मिलने के बाद STF ने पांच और पेट्रोल पंपों पर छापा मारा था। मुरादाबाद से दो इंजीनियर्स को पकड़ा गया था। एक अधिकारी ने पहले बताया था कि इस गोरखधंधे के पीछे एक बहुत ही बड़े गैंग का हाथ है। इस गैंग ने यूपी में ही नहीं देश के अन्य राज्यों में भी इस प्रकार का गोरखधंधा फैला रखा है।
ऐसे होती थी चोरी: पेट्रोल में धांधली करने के लिए 2 से 3 लोग काम पर होते हैं। एक पेट्रोल डालता है तो दूसरा व्यक्ति पैसों का बैग लेकर साथ में खड़ा रहता है। बैग वाले व्यक्ति के पास एक रिमोट होता है। चिप को पेट्रोल डालने वाले नोजल के नीचे लगाया जाता है। जैसे ही गाड़ी में पेट्रोल डलता है उस समय अपने हिसाब से बैग वाला व्यक्ति रिमोट का बटन दबा देता है। इससे गाड़ी में पेट्रोल डलना तो बंद हो जाता है लेकिन मशीन ग्राहक की मांग के अनुसार पेट्रोल और पैसे दिखाती रहती है। यह चिप और रिमोट बहुत ही आसानी से दिल्ली और कानपुर के बाजारों में एक से दो हजार रुपए में मिल जाते है।