Featured Posts

राममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमतराममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमत फर्रुखाबाद: समाजवादी सरकार में पूर्व कैबिनेट मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव गुरुवार को यूपी के सीमें योगी आदित्य नाथ के राममंदिर पर दिये गये वयान से सहमत दिखे| उन्होंने कहा की यदि समझौता नही तो कोर्ट का आदेश ही विकल्प है| समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष विश्वास गुप्ता...

Read more

हाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिलाहाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिला फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) सत्ता की शक्ति से कौन अंजान है और खास कर वो तो बिल्कुल भी नही जो सत्ता का सुख एक लम्बे समय तक ले चुका हो| लेकिन कुर्सी पर ना रहने के बाद नेता को सड़क पर चलना मुश्किल हो जाता है| यही नजारा देखने को मिला जब शिवपाल सिंह का काफिला लगभग 20 मिनट तक जाम की झाम में...

Read more

बसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थनबसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थन फर्रूखाबाद: नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिये बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी वत्सला अग्रवाल को महान दल ने अपना समर्थन दे तेजी से चुनाव लड़ाने का ऐलान किया है |जिससे वत्सला के खेमे में मजबूती आ गयी है| महान दल के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने रेलवे रोड स्थित बसपा प्रत्याशी के चुनाव...

Read more

नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत?नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत? फर्रुखाबाद: बीती रात बाइक चोरी के आरोप में पकड़े गये आरोपी की मौत का राज फ़िलहाल पोस्टमार्टम में भी नही खुल सका| जिससे उसकी मौत की गुत्थी उलझ गयी है| वही पुलिस मामले की जाँच कर रही है| थाना राजेपुर के बमियारी रामपुर निवासी विशाल पाठक पुत्र चन्द्रमोहन पाठक उर्फ़ रामू को बाइक...

Read more

योगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैरयोगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैर फर्रुखाबाद: बीते दिनों शराब ठेके पर पुलिस व ग्रामीणों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद पुलिस ने कई को आरोपी बनाया था| जिसको पकड़ने के लिये पुलिस लगातार हाथ-पैर मार रही है |जिस पर अब राजनितिक रंग चढ़ गया है| पुलिस के खौफ से खफा महिलाओ ने राज्य मंत्री के पैर पकड़कर न्याय की मांग की है|...

Read more

चुनावी बिसात पर हर रोज बदलती सियासी चालचुनावी बिसात पर हर रोज बदलती सियासी चाल फर्रुखाबाद:चुनावी रण का धीरे-धीरे रुख बदल रहा है और सियासी लोगों की रणनीति भी। नुक्कड़ सभाओं और जनसम्पर्क के साथ-साथ अब दूसरा दौर शुरू हो गया है। सियासी बिसात पर पल-पल की खुफिया निगरानी के बाद शतरंजी चालें चली जा रही हैं। कोई पूरे पालिका व नगर पंचायत क्षेत्र में मोहल्ले-मोहल्ले...

Read more

अध्यक्ष पद के आधा दर्जन नामांकन वापसअध्यक्ष पद के आधा दर्जन नामांकन वापस फर्रुखाबाद: शुक्रवार को नामांकन के वापसी के दौरान फर्रुखाबाद, मोहम्मदाबाद व कमालगंज के कुल आधा दर्जन प्रत्याशियों ने अपना नामांकन वापस कर लिया| फर्रुखाबाद नगर पालिका से निर्दलीय प्रत्याशी सुधांशु दत्त द्विवेदी, कपड़ा व्यापारी किशन कन्हैया सक्सेन व आभा सिंह ने अपना...

Read more

खास खबर: शर्तो के साथ सुधांशु दत्त का पर्चा वापसखास खबर: शर्तो के साथ सुधांशु दत्त का पर्चा वापस फर्रुखाबाद: बीजेपी से सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के बड़े चचेरे भाई पूर्व सभासद सुधांशु दत्त द्विएवेदी ने अपना पर्चा आखिर कुछ शर्तो के साथ वापस ले लिया| शहर के किंराना बाजार स्थित राजन अवस्थी के प्रतिष्ठान पर जिला प्रभारी श्रीकान्त पाठक के साथ सुधाशुं दत्त की...

Read more

सभासद पद के 16 के नामांकन वापससभासद पद के 16 के नामांकन वापस फर्रुखाबाद: नगरिया निकाय चुनाव में फर्रुखाबाद, कमालगंज व मोहम्मदाबाद में से सर्वाधिक सदस्यों ने फर्रुखाबाद के वार्डो से पर्चा वापस कर लिया| जिससे कई प्रत्याशियों के समीकरण बने तो कई का सियासी गणित बिगड़ गया| फर्रुखाबाद नगर पालिका में वार्ड 28 से आरती, वार्ड 31 से नजरीन, वार्ड...

Read more

फ़्लैश बैक: काला धन खपाने के लिए एक डॉक्टर ने खरीदे थे 13 एसी, 5 एलईडी और ....फ़्लैश बैक: काला धन खपाने के लिए एक डॉक्टर ने खरीदे थे 13 एसी, 5... फर्रुखाबाद: नोटबंदी का एक साल पूरा हुआ, कहीं जश्न मना तो किसी के जख्म हरे हुए| 8 नवम्बर 2016 वो दिन है जो इतिहास बन गया| रात 8 बजे उस दिन दफ्तर में सामान्य कार्य में लगा था कि 5 मिनट बाद ही जूनियर ने फोन पर बताया कि 500 का नोट बंद हो गया| किसी बात को एक बार में ही न मानने की आदत पत्रकार...

Read more

आग से गृहस्थी व परचून का सामान जला

Comments Off on आग से गृहस्थी व परचून का सामान जला

Posted on : 08-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: (राजेपुर) थाना राजेपुर क्षेत्र के ग्राम बिचपुरिया कड़क्का में आग लगने से गृहस्थी के सामान सहित नगदी व परचून की दुकान जलकर राख हो गयी। ग्रामीणों ने जैसे तैसे आग पर काबू पाया।

बिचपुरिया कड़क्का निवासी बबलू पुत्र सुरेन्द्र की गांव में ही परचून की दुकान एक खोखा में रखी है। पास में ही झोपड़ी व घर है। शाम को अचानक घर में आग लग गयी। आग से घर में रखा गृहस्थी का सामान धूंधूं कर जल गया। घर में रखी नगदी व पम्पसेट भी जल गये। पड़ोस में ही रखे परचून के खोखे को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया। जिससे खोखा सहित परचून का सामान जलकर राख हो गया। ग्रामीणों ने जब 100 डायल पर फोन किया तो फोन नहीं उठा। ग्रामीणों के काफी प्रयास के बाद आग पर काबू पाया गया। राजेपुर थाने के दरोगा रामऔतार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

फिर किया मृतक का इलाज, ठगे 23 हजार

Comments Off on फिर किया मृतक का इलाज, ठगे 23 हजार

Posted on : 08-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, HEALTH

फर्रुखाबाद: जनपद में गंभीर मरीज को इमरजेंसी बार्ड मे भर्ती करने और मनमानी फीस वसूलने का धन्धा कोई नया नहीं है। इस तरह की घटनायें अक्सर सुर्खियों में आ ही जाती है। इसी तरह की घटना आवास विकास स्थित अस्पताल में उस समय देखने को मिला जब एक मृतक के परिजनों ने डाक्टर व कम्पाउंडर पर मृत पिता का इलाज कर 23 हजार रुपये ठगने का आरोप लगाया।

घटना आवास विकास स्थित चर्चित डाक्टर वर्मा के अस्पताल की है। जहां पर राजेपुर के ग्राम कमालुद्दीनपुर निवासी मदनपाल सिंह सोमवंशी को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। मदनपाल सोमवंशी की पत्नी सरलादेवी, पुत्र विनोद व प्रमोद व पोता रोहित का आरोप है कि उन्होंने मदनपाल को अस्पताल में भर्ती किया तब से इमरजेंसी बार्ड में देखने के लिए किसी भी परिजन को डाक्टर व कम्पाउंडर ने घुसने नहीं दिया गया। उन्हें शक हुआ तो देखने के लिए जोर जबरदस्ती की। तब डाक्टर व कम्पाउंडर ने 23 हजार रुपये जमा करने के लिए कहा और कहा कि जब तक रुपये जमा नहीं कर दोगे तब तक देखने को नहीं मिल पायेंगे। जब इन लोगों ने 23 हजार रुपये जमा कर दिये तो शव को बाहर कर दिया गया।

यह देख परिजनों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया। मामला इतना बढ़ गया कि अस्पताल से कम्पांउडर भाग गया। सूचना पुलिस को दी गयी तो सीओ सिटी, कोतवाल, एसडीएम के अलावा चीता मोबाइल पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। परिजनों ने डाक्टर व कम्पाउंडर पर कार्यवाही की मांग की। इस पर अधिकारियों ने कहा कि वह तहरीर दें जिसके आधार पर कार्यवाही की जायेगी। परिजनों ने डाक्टर व कम्पाउंडर के खिलाफ तहरीर दी है।

शिक्षक उन्नयन गोष्ठी में सांसद ने शिक्षा अधिकारियों को चेताया

Comments Off on शिक्षक उन्नयन गोष्ठी में सांसद ने शिक्षा अधिकारियों को चेताया

Posted on : 08-04-2017 | By : JNI-Desk | In : EDUCATION NEWS, FARRUKHABAD NEWS, Politics-BJP, हमारे स्‍कूल

फर्रुखाबाद: शैक्षिक महासंघ की ओर से नरेन्द्र सरीन स्कूल में शिक्षक उन्नयन गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में पहुंचे सांसद मुकेश राजपूत व विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी ने शिक्षा अधिकारियों को चेतावनी दी।

गोष्ठी में सांसद मुकेश राजपूत ने कहा कि सभी अपने बच्चों को परिषदीय विद्यालयों में पढ़ायें। जब अधिकारी व कर्मचारी भी अपने बच्चों को परिषदीय विद्यालयों में पढ़ायेंगे तो शिक्षा का स्तर स्वतः उठेगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा अधिकारी अपनी मानसिकता बदलें। भ्रष्टाचार में लिप्त पाये जाने पर कठोर कार्यवाही की जायेगी। अब अधिकारियों के ट्रांसफर नहीं, कार्यवाही की जायेगी।

वहीं सदर विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी ने शिक्षा की गुणवत्ता परखी और उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में उनके परिवार ने पहले ही बहुत कुछ किया है। आगे भी यदि उनकी कभी भी शिक्षा के लिए जरूरत पड़े तो सबसे आगे होंगे। वहीं भोजपुर विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर ने शिक्षकों व शिक्षा से सम्बंधी सभी समस्याओं के निराकरण करने का भरोसा दिया। इस दौरान शिक्षकों को सम्मानित भी किया गया। शैक्षिक महासंघ के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी ने अंत में सभी को धन्यवाद दिया। इस दौरान प्रवेश कटियार, त्रिपुरारी त्रिवेदी, मजहर मोहम्मद, ओमप्रकाश शर्मा, नरेन्द्र पाल सिंह, आशीष सक्सेना, सुखदेव दीक्षित, अवनीश चैहान, वीरेन्द्र मिश्रा, अवधेश सिंह, पुष्पा सिंह आदि सैकड़ों शिक्षक मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता शैक्षिक महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द तिवारी ने की।

एडवोकेट एमेन्डमेन्ट निरस्त कराने को वकीलों ने उठाई मांग

Comments Off on एडवोकेट एमेन्डमेन्ट निरस्त कराने को वकीलों ने उठाई मांग

Posted on : 08-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: लाॅ कमीशन आॅफ इण्डिया द्वारा एडवोकेट एमेन्डमेन्ट बिल 2017 लागू किये जाने के विरोध में अधिवक्ताओं ने लाल गेट पर एकत्रित होकर प्रदर्शन किया। जिसके बाद बिल निरस्त कराने के लिए सांसद मुकेश राजपूत को ज्ञापन सौंपा।

जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विपनेश कुमारी की अगुआई में अधिवक्ताओं ने सांसद मुकेश राजपूत को सौंपे गये ज्ञापन में कहा है कि बार काउंसिल आफ इण्डिया के आव्हान पर अधिवक्ताओं ने पिछले 31 मार्च को हड़ताल रखी। ला कमीशन आफ इण्डिया द्वारा एडवोकेट एमेन्डमेन्ट लागू कर दिया गया। जिसे निरस्त किया जाये एवं अधिवक्ता समाज को अहित से बचाया जाये। इस दौरान विपनेश सक्सेना, सचिव संजीव पारिया, अजय दुबे, एडवोकेट इलाइची वाला, प्रवेश प्रताप, मनोज कुमार गुप्ता, विमल वर्मा, श्यामवीर सोमवंशी, किशन शर्मा, मनीश मिश्रा, के के श्रीवास्तव, विकास यादव, रवी यादव, श्रवण कुमार अग्निहोत्री, सुनील दिवाकर सहित लगभग दो दर्जन एडवोकेट मौजूद रहे।

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!

Comments Off on अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!

Posted on : 08-04-2017 | By : JNI DESK | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए कोई तैयार नहीं| अभी तक के हालात तो यही है| आगे की सम्भावनाओ में भविष्य का निर्णय छिपा हुआ है| तो ऐसे में बिना दूल्हे के ही बरात में अविश्वास प्रस्ताव का नाटक केवल आर्थिक पंचायत तक ही सीमित रहने का हल्ला भर दिखाई पड़ रहा है|

सवाल बड़ा किन्तु कटाक्ष भरा है| जिला पंचायत के कई सदस्यों की विजय के बाद कइयों ने महगी लक्सरी कारे खरीदी थी| इनमे से कई सदस्य ऐसे थे जिन्होंने इनकम टैक्स का रिटर्न तक दाखिल नहीं किया| और कई ऐसे जिन्होंने महगी लक्सरी कारो पर फर्राटा तो भरा मगर उसे इनकम टैक्स के रिकॉर्ड में नहीं दिखाया| तो ये कारे आयीं कहाँ से? जाहिर है जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में वोट डालने में कइयों को माल तो मिला ही था| सूत्रों से मिली खबर के अनुसार ये रकम 10 लाख से 25 लाख तक थी| अब ये रकम किसने किसको कैसे दिए और किसको नुक्सान हुआ और किसको फायदा, अविश्वास प्रस्ताव का लव्वोलवाव इसी में छुपा है|

अब अविश्वास प्रस्ताव तो 20 सदस्यों ने जिलाधिकारी को सौप दिया है मगर अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद अगर प्रस्ताव पास हो गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा इस पर ही सारा दारोमदार टिका हुआ है| सदस्यों से चर्चा के बाद जो निष्कर्ष निकल कर अब तक सामने आया है उसके मुताबिक जिला पंचायत में अध्यक्ष पद के लिए जो नाम सामने है उनमे से लक्ष्मी रीटा, रिंकी कुमारी, ज्ञान देवी, सुरभि दोहरे गंगवार और सगुना देवी है| अब चर्चा इन नामो पर| सगुना देवी और सुरभि को छोड़ कर बाकी के तीनो नाम रिंकी, ज्ञान देवी और लक्ष्मी रीटा के पीछे किसी न किसी नेता का नाम और हाथ है| लिहाजा इन तीनो नामो में से एक लिए भी सहमति किसी भी कीमत पर बनती नहीं दिख रही है| सपा से जिला पंचायत चुनाव जीतने के बाद सपा से विधानसभा चुनाव लड़ कर हार चुकी सुरभि दोहरे गंगवार को भाजपा तो नहीं पचाने वाली| क्योंकि विधानसभा चुनाव से ठीक पहले टिकट के लालच में सुरभि भाजपा छोड़ कर सपा में चली गयी थी| तो कुल मिलाकर निष्कर्ष यह निकलने की उम्मीद है की अंत में आर्थिक पंचायत के बाद सगुना देवी ही जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर विराजमान रह सकती है

इस पूरे अविश्वास प्रस्ताव के खेल में जो संभावना प्रबल दिखाई दे रही है वो है सगुना देवी और अजीत कठेरिया साइकिल छोड़ कमल का दामन थाम ले| चूँकि विधानसभा चुनाव में टिकट कटने के बाद अजीत कठेरिया समाजवादी पार्टी में भी किनारे लगा दिए गए है| इसके बाद अजीत ने भाजपा के नेताओ और जनप्रतिनिधिओ से सम्पर्क साध रखा है| तो अगले कुछ दिनों में फर्रुखाबाद की जिला पंचायत में एक पहले से लिखी पटकथा का पटाक्षेप होने वाला है जिसका केवल और केवल आर्थिक गणित ही है|

[bannergarden id="12"]