Featured Posts

गंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजागंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजा फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला) रमजान का पवित्र माह शुरू हो गया। जहां एक ओर लोगों ने सुबह सहरी कर पहला रोजा रखा। वहीं सेन्ट्रल जेल में बंद बंदियों ने भी रोजे रखे। मुस्लिम समाज के करीब 175 कैदियों ने अल्लाह की रजा (खुशी) हासिल करने के लिए रमजान का रोजा रखा। जिनकी सहरी और इफ्तार की जिम्मेदारी...

Read more

सांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचनसांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचन फर्रुखाबाद: आचार्य ओम प्रकाश मिश्रा (कंचन) द्वारा लिखित पुस्तक नरेंन्द्र से नरेन्द्र तक का विमोचन सांसद मुकेश राजपूत के द्वारा किया जायेगा| जिसकी सभी तैयारी पूर्ण कर ली गयी है| शहर के कोटा पार्चा स्थित एशियन कम्प्यूटर सेंटर अपर आयोजित प्रेस वार्ता में आचार्य कंचन ने बताया...

Read more

खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीणखूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण फर्रुखाबाद:(जहानगंज) आदमखोर कुत्तों के साये में ग्रामीण व नैनिहाल अभी भी जी रहे है| डर भय का आलम यह है की गाँव के बच्चों ने विधालय जाना तकज छोड़ दिया दिया है| जिससे सरकारी विधालय की छात्र उपस्थिति लगातार कम होती जा रही है| परिजन खुद अपने बच्चों की लाठी-डंडो से लैस होकर सुरक्षा...

Read more

एक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोपएक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोप फर्रुखाबाद:(कंपिल) विवाहिता व उसके मासूम बेटे का शव फांसी पर लटका मिला| घटना की सूचना पर परिजन मौके पर पंहुचे| उन्होंने दहेज के लिये हत्या कर शव फांसी पर लटका दिये जाने का आरोप लगाया | कमरे में ही एक सुसाइड नोट भी मिला है| थाना क्षेत्र के ग्राम मेदपुर निवासी आनन्द उर्फ़ लालू...

Read more

निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौतनिर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत वाराणसी:पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें...

Read more

प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरनाप्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरना फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ ने फरवरी माह का वेतन ना मिलने से खफा होकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया धरना दिया| शिक्षकों की नारेबाजी देख बीएसए अपने कक्ष से वित्त एवं लेखाधिकारी को साथ लेकर निकल आए और बिना अनुमति के धरना दिए जाने...

Read more

फरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बातफरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बात फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी अविनाश चन्द्र ने थाने के निरीक्षण के दौरान पुलिस कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये| वही उन्होंने आगन्तुक रजिस्टर चेक किया| जिसके बाद उन्होंने उसमे दर्ज फरियादियों को फोन लगाया लेकिन बात नही हो सकी| सुबह एडीजी थाने का निरीक्षण एसपी मृगेंद्र...

Read more

एडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियालीएडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियाली फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी के स्वागत के लिये थाना पुलिस ने कोई कोर कसर नही छोड़ी| यंहा तक की उन्हें खुश करने के लिये उधार की फुलवारी भी थाने में लाकर रखनी पड़ी| लेकिन जाने के बाद उसे पुलिस को वापस करना पड़ा| एडीजी अबिनाश चन्द्र के द्वारा थाने का निरीक्षण किया जाना पूर्व में ही...

Read more

मोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचामोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचा फर्रुखाबाद:(जहानगंज) शिकार करने के इरादे से ले जाए जा रहे जिंदा मोर व एक आरोपी को ग्रामीण ने दबोच लिया| जिसके बाद उसे पुलिस के हबाले कर दिया गया| मौके से दो आरोपी भागने में कामयाब रहे| मामले में पुलिस को तहरीर दी गयी है| कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र ग्राम मुरास के निकट थाना...

Read more

पुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचापुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचा फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) काफी समय से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस न्यायालय ले जा रही थी| वही वह पुलिस जीप से कूदकर फरार हो गया| लेकिन पुलिस ने उसे कुछ दूर दौड़कर दबोच लिया| जिसके बाद उसे न्यायालय में पेश किया गया| जंहा से उसे जेल भेज दिया गया| थाना में आरोपी राजेश उर्फ़ जितेन्द्र पुत्र...

Read more

जेल के पुरे मामले की जाँच करेंगे डीआईजी: जेल मंत्री

Comments Off on जेल के पुरे मामले की जाँच करेंगे डीआईजी: जेल मंत्री

Posted on : 26-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जेल राज्य मंत्री जय कुमार उर्फ़ जैकी ने रविवार शाम जिला जेल पंहुचकर जेल अधिकारियों के साथ ही साथ बंदियों से भी वार्ता की| वह अस्पताल में भर्ती अधिकारियो और कैदियों से भी भेट करने गये|

जेल मंत्री जैकी के पंहुचने से पूर्व डीआईजी जेल आरपी सिंह जिला जेल पंहुचे| इसके कुछ ही समय बाद मंत्री जय प्रकाश भी जिला जेल पंहुच गये| उनके साथ सांसद मुकेश राजपूत, सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी, विधायक सुशील शाक्य, विधायक नागेन्द्र सिंह के साथ ही साथ जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह, जिला महामंत्री विमल कटियार, चेयरमैंन विजय गुप्ता, शैलेन्द्र सिंह राठौर, मोहन अग्रवाल आदि नेता भी मंत्री के साथ ही पंहुचे| इसके बाद वह लोहिया अस्पताल में भर्ती घायल सीडीओ एनपीपाण्डेय, जेल अधीक्षक राकेश कुमार व सिपाही संतोष के साथ ही साथ भर्ती बंदी सतीश पुत्र भानू से भी मिले और कैदी से बंद कमरे में वार्ता की|

मंत्री जय कुमार उर्फ़ जैकी ने बताया की डीआईजी जेल को अभी जेल में ही कैम्प करने के आदेश दिये गये है| इसके साथ ही साथ बंदियों की सभी समस्याओं पर भी विचार किया जायेगा| उन्होंने बताया की सिपाही विकास कटियार, रामप्रकाश शर्मा, शिववली, अजय कुमार को जिला जेल से तबादला कर करके सेंट्रल जेल भेज दिया गया है| पूरे प्रकरण की जाँच रिपोर्ट डीआईजी उन्हें जल्द सौपेगे|

अपडेट: 6 घंटे चले बबाल के बाद जेलर निलंबित, जांच के लिए पहुंचे डीआईजी

Comments Off on अपडेट: 6 घंटे चले बबाल के बाद जेलर निलंबित, जांच के लिए पहुंचे डीआईजी

Posted on : 26-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: कैदियों के 6 घंटे चले हंगामे के बाद आखिर शाम होते होते जिला जेल के जेलर डीपी सिंह को शासन ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। इसके साथ ही बन्दी रक्षको को सेन्ट्रल जेल तबादला कर दिया गया है| इसके साथ ही डीआईजी जेल भी मौके पर जांच करने पहुंचे।
हंगामे के दौरान बंदियों ने मोदी और योगी जिंदाबाद के नारे लगाने के साथ ही साथ जेलर डीपी सिंह पर अवैध वसूली करने के गंभीर आरोप लगाये। मामला मीडिया में आने के बाद शासन और सरकार तक पहुंचा। इसके बाद जेलर बीपी सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। वहीं और कई जेल कर्मियों पर संकट के बादल मड़रा रहे हैं। मामला जेल के चिकित्सक डाक्टर नीरज व जेलर डीपी सिंह के द्वारा जेल के कैदी अतुल को अस्पताल से डिस्चार्ज कर बैरंग में शिफ्ट करने का कारण बताया गया है। मामले की खबर मिलते ही डीआईजी जेल राजेन्द्र प्रताप सिंह दोपहर बाद जांच करने के लिए जिला कारागार पहुंचे। उन्होंने बताया कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की जायेगी।

जो दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। वहीं कारागार के प्रमुख सचिव एस के सिंह ने बताया कि पूरे मामले में जेलर डीपी सिंह की लापरवाही को देखते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। वही चार सिपाहियों को का तबादला सेन्ट्रल जेल कर दिया गया है|

आकंठ तक भ्रष्टाचार में डूबे जेल प्रशासन में ये तो होना ही है…….

Comments Off on आकंठ तक भ्रष्टाचार में डूबे जेल प्रशासन में ये तो होना ही है…….

Posted on : 26-03-2017 | By : पंकज दीक्षित | In : EDITORIALS, FARRUKHABAD NEWS

पोशम्पा भाई पोशम्पा, डाकिये ने घडी चुराई, अब तो जेल में जाना पड़ेगा, जेल की रोटी खाना पड़ेगा, जेल का पानी पीना पड़ेगा…. बचपन के खेल में कहीं न कहीं सत्य का आभास कराया जाता रहा है| मगर शायद प्रशासनिक अफसरों की आँख का पानी मर गया है इसलिए उन्हें इस बात की भी चिंता नहीं कि उनके खुद के बच्चे भी सवाल पूछ सकते है कि “क्या पापा जेल की रोटी और पानी ख़राब होता है?” और ख़राब होता है तो क्यों? और आप तो जिले के बड़े अफसर हो| जेल में निरीक्षण करते रहते हो| क्या आपको भी उसके खराब होने का हिस्सा मिलता है?

बड़ा प्रासंगिक सवाल है| रिश्वतखोर होना आज के जमाने में एक एडवांस कल्चर का भाग है या फिर बेशर्मी की हद| जेल में खाना ख़राब क्यों? जबकि बजट शारीरिक जरूरतों और सेहत के पैमाने के हिसाब से टैक्सपेयर के पैसे से बनाया जाता है| अस्पताल में इलाज का अभाव क्यों? दवा का बजट तो ठीक ठाक है| 31 मार्च को जिले के अफसर एक ही दिन में लाखो करोडो क्यों और कैसे ऊपर का कमा लेते है इस बात में ही जेल की खराब दाल रोटी और दवा के अभाव का राज छिपा होता है| जानते सब है| जो जेल में कर रहे है वे भी और जिन्हें जेल की निगरानी का जिम्मा दिया गया है वे भी, मगर काल्पनिक संतुष्टि के चलते मानने को तैयार नहीं|

वैसे जेल में जो सक्षम परिवार के लोग बन्द है वे तो जेल की रोटी दाल भी नहीं खाते| उनके लिए तो जेल से बाहर रोज का खाना आता है| उनके हिस्से का राशन तो अफसरों को खाने को मिल ही रहा है| जो गरीब जेल में बन्द होता है उसके हिस्से का भी राशन खा जाना “डोम’ (डोम- मृत्यु के समय मुर्दे से उसके जलने का टैक्स वसूलने वाला) होने से कम नहीं| गरीब होना ही सबसे बड़ा अभिशाप है| पुलिस भी सबसे पहले उसे ही पकड़ कर अंदर कर महीनों से गैर खुलासे हुए केस खोल कर उस पर लाद कर अपनी नौकरी बचा लेती है|

तो फर्रुखाबाद की जेल में कोई पहली बार आक्रोशित उपद्रव नहीं हुआ है| कभी केंद्रीय कारागार में तो कभी जिला जेल में| जहाँ मुलाकात से लेकर मोबाइल से बात करने की वसूली का खेल चलता हो| जहाँ प्रति माह चूना डाल कर औचक निरीक्षण कर अफसर अपनी नौकरी पूरी करते रहे हो| वहां जेल में आंदोलन हो जाना, दो चार के सर फूट जाना कोई खास खबर नहीं है| खास खबर तो तब होगी जब ऐसा होना बन्द हो जायेगा| सरकार बदली है….. सरकारी अफसर और तंत्र वही है…… अगली घटना होने पर जारी….

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाही

Comments Off on बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाही

Posted on : 26-03-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, JAIL, जिला प्रशासन

फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया। उन्हें भी चिकित्सा के लिए लोहिया अस्पताल भेजा गया।
सुबह से चल रहे पथराव में बंदियों ने पूरी जेल को अपने कब्जे में कर रखा है। पुलिस अधीक्षक सुभाष सिंह बघेल, सीडीओ जेल के मुख्य गेट पर ही घंटों से कैदियों से वार्ता करने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन कुछ निष्कर्ष निकलता नहीं दिख रहा है। कई घंटे से चल रहे संघर्ष में आक्रोषित कैदियों ने जेल अधीक्षक राकेश कुमार का सिर फोड़ दिया। इसके साथ ही साथ बंदी राजेश भी बबाल में घायल हुआ। दोनो को लोहिया अस्पताल उपचार हेतु भेजा गया है। बंदियों ने प्रशासनिक अधिकारियों से जेल की खराब चिकित्सीय व्यवस्था की शिकायत की। खाने को भी अमानक बताया। जिसके चलते संघर्ष शुरू हुआ।
जेल के डाक्टर नीरज पर भी चिकित्सा व्यवस्था दुरुस्त न करने के आरोप लगाये। जिसके चलते मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 राकेश कुमार ने जिला कारागार के चिकित्साधिकारी डा0 नीरज कुमार को हटाकर सीएमओ कार्यालय सम्बद्ध कर दिया। वहीं केन्द्रीय कारागार में कार्यरत डा0 विजय अनुरागी को जिला कारागार स्थानांतरित किया गया है। कैदी पथराव के दौरान मोदी व योगी के नारे लगा रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जेल के खाने का सेम्पुल भी लिया जा रहा है। वहीं एक डिप्टी जेलर पर भी कार्यवाही की तलवार लटक गयी है। सीडीओ एनपी पाण्डेय ने बताया कि बंदियों से लगातार वार्ता का प्रयास किया जा रहा है। जल्द समस्या का समाधान कर लिया जायेगा। पुलिस अधीक्षक सुभाष सिंह बघेल ने बताया कि पुलिस लगातार शांतिपूर्ण ढंग से बंदियों को शांत करने का प्रयास कर रही है। बंदियों की मांगों पर मंथन चल रहा है। शीघ्र ही स्थिति सामान्य हो जायेगी।

ब्रेकिंग – जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव

Comments Off on ब्रेकिंग – जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव

Posted on : 26-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics

फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी नहीं पड़ रहा है। एक घंटे बाद भी प्रशासनिक अधिकारी अभी तक नहीं पहुंचे।

सुबह तकरीबन 9 बजे जिला जेल फतेहगढ़ के बंदी अचानक किसी बात को लेकर भड़क गये। बंदियों ने बंदी रक्षकों व जेल अधिकारियों पर पथराव भी किया। अधिकारियों ने उन्हें समझाने का लाख प्रयास किया लेकिन बंदी नहीं मान रहे। सूचना मिलने पर कोतवाल फतेहगढ़ अनूप कुमार निगम भारी फोर्स के साथ जेल के अंदर पहुंचे। हंगामा लगातार जारी है। कैदियों ने हंगामा किस बात पर किया है अभी यह पता नहीं चल पाया है, जेल अधिकारी भी अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं।

पुलिस अधीक्षक सुभाष सिंह बघेल, एडीएम आर बी सोनकर, सिटी मजिस्ट्रेट शिव बहादुर सिंह पटेल, सीओ सिटी आलोक सिंह मौके पर पहुंच गये। पथराव लगातार जारी है। पुलिस अधीक्षक पर भी बंदियों ने पथराव कर दिया। जिससे वह अंदर घुसने की हिम्मत नहीं जुटा पाये।

[bannergarden id="12"]