विधायक का बोया काटेगा सपा प्रत्याशी

0

JNI NEWS : 13-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद: सूबे में पांच साल तक सपा सरकार रही, इस दौरान गरीब जनता सरकार के वादों के अनुसार पूरे पांच साल तक इंतजार करती रही लेकिन अंत में निराशा ही हाथ लगी। इसी का एक नमूना कायमगंज विधानसभा क्षेत्र है। जहां पर वादे तो खूब किये गये, कागजों में विकास भी किया गया लेकिन गरीब, ग्रामीणों के हाथ लगी तो सिर्फ निराशा। लोग प्राथमिक सुविधायें, बिजली, हैन्डपम्प, नाली, खड़न्जा के आज भी मोहताज हैं। पांच साल में विधायक जी ने 5 करोड़ 94 लाख खर्च कर दिये। अपने लिए लैपटाप भी खरीद लिया लेकिन जनता के लिए निराशा के सिवा कुछ नहीं। शायद इसी का नतीजा अब इस विधानसभा क्षेत्र से लड़ रहे सपा प्रत्याशी को मिलेगा। ग्रामीणों ने गांव के बाहर बिजली नहीं तो वोट नहीं का बैनर टांगकर चुनाव बहिष्कार करने का निर्णय किया है।

बात करते हैं कायमगंज विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत कुरार की जहां पर उर्मिलादेवी पत्नी सूबेदार सिंह सिसोदिया प्रधान हैं। इसी ग्राम पंचायत में ही प्रहलादपुर ग्राम भी लगता है। गांव में बिजली पानी आदि प्राथमिक सुविधाओं के लिए लोग तरस रहे हैं। गांव के मात्र एक किलोमीटर दूरी पर बसे गांवों में बिजली चमक रही है लेकिन उनके गांव में आज तक बिजली के लिए किसी भी जनप्रतिनिधि ने प्रयास नहीं किया।

ग्रामीणों ने इस चुनाव में निर्णय लिया है कि वह तब तक मतदान नहीं करेंगे जब तक उनके गांव में बिजली नहीं आ जाती। क्षेत्र में ऐसे ही अधिकांश ग्राम हैं जहां पर बिजली, पानी, सड़क, नाली, खडन्जा इत्यादि की समस्यायें बनी हुईं है और जनप्रतिनिधियों के झूठे वादों से भी ग्रामीण आहत हैं।

क्षेत्र के विधायक जी की ही यदि बात करें तो इन्होंने विधायक निधि से कुल 103 काम कराये जिसमें 53 कार्य निजी स्कूलों में हुए। विधायक निधि से कुल 5 करोड़ 94 लाख रुपये खर्च किये गये जिसमें खुद के लिए एक लैपटाप भी शामिल है। 4 करोड़ 18 लाख रुपये निजी स्कूलों में विधायक जी ने खर्च कर दिये। जिससे साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि निजी स्कूलों के अलावा विधायक जी ने अन्य मदों बिजली, पानी, खडन्जा, सड़कों इत्यादि में कितना खर्च किया और कितना विकास कार्य ग्रामीण जनता में कराया। जो भी हो अब विधायक जी का बोया सपा प्रत्याशी को काटना ही पड़ेगा।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-