Featured Posts

बड़ी खबर:सेना की फतेहगढ़ कैंटीन में भीषण आग,लाखों का सामान जलाबड़ी खबर:सेना की फतेहगढ़ कैंटीन में भीषण आग,लाखों का सामान जला फर्रुखाबाद: सेना की कैंटीन में भीषण आग लगने से लाखों का सामान जल गया| कई घंटे चले सेना के बचाव कार्य के बाद आग पर काबू पाया जा सका| मौके पर सैकड़ों सेना के जबान बचाव में जुटे रहे| फतेहगढ़ स्थित राजपूत रेजिमेंट की कैंटीन में शुक्रवार को सुबह कर्मचारी व पीटी स्टाफ सफाई करने के...

Read more

हिस्ट्रीशीटर था पुलिस जीप से कूदकर भागने का प्रयास करने वाला फर्रुखाबाद: बीती रात पुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी हिस्ट्रीशीटर निकला| पुलिस को उसके पास से नशीला पाउडर मिला| उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया| एसपी अतुल शर्मा ने ने पुलिस लाइन सभागार में बताया कि शहर कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की देबरामपुर क्रासिंग पर मादक पदार्थों की तस्करी...

Read more

फांसी पर झूलती मिली लापता फौजी की लाशफांसी पर झूलती मिली लापता फौजी की लाश फर्रुखाबाद:घर से डियूटी जाने के लिये निकले फौजी का शव पेंड पर फांसी पर झूलता मिला| सूचना पर पंहुची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया| पुलिस जाँच पड़ताल में जुट गयी है| कोतवाली मोहम्मदाबाद के ग्राम उगरपुर सुल्तान पट्टी निवासी 45 वर्षीय इन्द्रेश वर्तमान...

Read more

तमंचे के बल पर घरों से जेबरात व नकदी साफ़तमंचे के बल पर घरों से जेबरात व नकदी साफ़ फर्रुखाबाद:(मेरापुर) बीती रात चोरों ने तमंचे के बल पर नकदी व जेबरात साफ़ कर दिये| घटना के बाद मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गयी| थाना क्षेत्र के ग्राम नगला नानकार निवासी कुलदीप राजपूत के घर के मुख्य गेट की कुंडी तोड़कर चोर कमरे में रखा बक्सा उठा ले गये| सुबह तड़के उसका बक्सा ग्राम...

Read more

एंटी रेबीज ख़त्म, मौत के साये में जीने को मजबूर मरीजएंटी रेबीज ख़त्म, मौत के साये में जीने को मजबूर मरीज फर्रुखाबाद:(कमालगंज)योगी सरकार में सरकारी अस्पतालों की दशा सुधरने के बजाए बिगड़ती ही जा रही है। दवाओं की किल्लत से जुझ रहे सरकारी अस्पतालों में अब कुत्ता काटने के बाद लगने वाली एंटी रेबीज वैक्सीन भी नहीं मिल रही है। यह स्थिति न सिर्फ पीएचसी और सीएचसी, बल्कि मंडलीय अस्पताल...

Read more

माफिया डॉन सुनील राठी को सेन्ट्रल जेल में धोने पड़ रहे कपड़े!माफिया डॉन सुनील राठी को सेन्ट्रल जेल में धोने पड़ रहे कपड़े! फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) जेल के बाहर हो या अंदर, हमेशा लोगों से घिरा रहने वाला कुख्यात सुनील राठी माफिया डॉन बजरंगी की हत्या के बाद तन्हा हो गया है। छत पर मंद गति से झूलते पंखे के नीचे एक दरी पर बैठा राठी हाई सिक्योरिटी बैरक की तन्हाई में दिन गुजर रहा है| उसकी तन्हाई बताती...

Read more

माफिया के खौफ से सेन्ट्रल जेल में बंदियों की मुलाकात घटीमाफिया के खौफ से सेन्ट्रल जेल में बंदियों की मुलाकात घटी फर्रुखाबाद: 14 जुलाई को माफिया सुनील राठी को सेन्ट्रल जेल लाया गया था| जिसके बाद जेल में बंद अन्य बंदियों से मुलाकात की संख्या में भी काफी कमी आ गयी है| मुलाकातियों की संख्या में कमी को लोगों में माफिया के खौफ होना बताया जा रहा है| सेन्ट्रल जेल में शनिवार व अन्य त्योहारों अवकाशों...

Read more

दुल्हे को बंधक बना बारातियों से मारपीट,लूट,युवती के पिता व भाई सहित 9 पर मुकदमादुल्हे को बंधक बना बारातियों से मारपीट,लूट,युवती के पिता व... फर्रुखाबाद:(जहानगंज)बारात में बैंड पर डांस करने को लेकर हुआ विवाद महाभारत में बदल गया| बधू पक्ष के लोगों ने जमकर बारातियों को पीट दिया| `बारातियों के लूटपाट का भी आरोप लगाया है| पुलिस ने युवती के पिता व भाई सहित 9 के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया| जनपद मैंनपुरी के कुशमरा किशनी...

Read more

शिक्षक के घर सहित तीन जगह नकदी व जेवरात चोरीशिक्षक के घर सहित तीन जगह नकदी व जेवरात चोरी फर्रुखाबाद:(जहानगंज) बीती रात चोरों ने पुलिस को होमवर्क दे दिया| शिक्षक के घर सहित तीन जगह ताले तोड़कर नकदी व जेबरात चोरी कर लिये गये| घटना के सम्बन्ध में पुलिस को तहरीर दी गयी है| थाना क्षेत्र के ग्राम बरुआ नगला निवासी नत्थू सिंह मकान की दूसरी मंजिल पर रहते है| उनकी पहली मंजिल...

Read more

अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित रात भर सोया नही राठी!अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित रात भर सोया नही राठी! फर्रुखाबाद: मुन्ना बजरंगी की हत्या कर उन्हें मौत के घाट उतारने वाले माफिया को अब अपनी ही सुरक्षा का खतरा नजर आ रहा है| पता चला है कि उसने जेल अधिकारीयों से उसे दूसरी जेल में शिफ्ट करने की बात कही है| वही उसे पीठ दर्द की भी शिकायत बतायी गयी है| बागपत के आगरा जोन के डीआईजी ने सेन्ट्रल...

Read more

सीसीटीवी कैमरों की जद में रहेंगे पुलिस के सभी नाके

Comments Off on सीसीटीवी कैमरों की जद में रहेंगे पुलिस के सभी नाके

Posted on : 04-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने पुलिस अधीक्षक को आदेश जारी कर सभी चेकपोस्टों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाये जाने का आदेश जारी किया है।

19 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग और जिला प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था और चाक चौबंध करने का मन बना लिया है। हर आने जाने वाले की गतिविधि पर नजर रखी जाये, इसकी अचूक व्यवस्था की गयी है। जिसके अन्तर्गत जिला निर्वाचन अधिकारी प्रकाश बिन्दु ने शीघ्र सीसीटीवी कैमरे लगाया जाना सुनिश्चित करने के आदेश जारी किये हैं। जिससे जनपद में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति व वाहन की निगरानी की जा सके।

मोतीलाल बोरा व शीला दीक्षित ने फोन पर बंधाया ढांढस

Comments Off on मोतीलाल बोरा व शीला दीक्षित ने फोन पर बंधाया ढांढस

Posted on : 04-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-CONG.

फर्रुखाबाद: पूर्व विधायक विमल प्रसाद तिवारी के पुत्र अखिलेश तिवारी उर्फ अक्कू के निधन पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित व कांग्रेस के कोषाध्यक्ष मोतीलाल बोरा सहित कई बड़ी हस्तियों ने फोन पर संवेदना व्यक्त की है।

अक्कू तिवारी के भाई आदेश तिवारी ने बताया कि दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने उनकी मां शांती देवी तिवारी से दूरभाष पर बात कर संवेदना व्यक्त की। वहीं पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद की पत्नी लुईस खुर्शीद भी उनके आवास पहुंचीं और परिजनों से भेंट कर ढांढस बंधाया। कांग्रेस के कोषाध्यक्ष मोतीलाल बोरा ने भी आदेश तिवारी को दूरभाष पर अपनी संवेदनायें व्यक्त की हैं।

प्रचार सामिग्री मिलने पर बीजेपी प्रत्याशी की स्कार्पियो सीज, मुकदमा

Comments Off on प्रचार सामिग्री मिलने पर बीजेपी प्रत्याशी की स्कार्पियो सीज, मुकदमा

Posted on : 04-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद: अमृतपुर विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी पूर्व विधायक सुशील शाक्य की सचल दल टीम ने स्कार्पियो में भरी प्रचार सामिग्री जब्त कर ली और उनकी गाड़ी को सीज कर दिया।

कायमगंज मार्ग पर सचल दल में शामिल दरोगा रामरतन सिंह तलाशी ले रहे थे। तभी बीजेपी प्रत्याशी सुशील शाक्य की स्कार्पियो गाड़ी को उन्होंने रोका। चालक जनपद शाहजहांपुर के मिर्जापुर दरियावगंज निवासी प्रेमपाल सिंह से पुलिस ने पूछताछ की। गाड़ी से भाजपा प्रत्याशी के पोस्टर, पम्पलेट बरामद किये। इसके बाद गाड़ी को सीज कर दिया गया। सचल दल प्रभारी भुवनेश्वर कुमार ने बताया कि स्कार्पियो चालक प्रचार सामिग्री के अलावा कोई भी अभिलेख नहीं दिखा सका। जिसे आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में मुकदमा दर्ज कर स्कार्पियो सीज कर दी गयी।

बताते चलें कि बीते 9 जनवरी को कोतवाली फतेहगढ़ पुलिस के साथ सीओ सिटी आलोक कुमार और एसडीएम सदर सुरेन्द्र सिंह ने सुशील शाक्य की स्कार्पियो से प्रचार सामिग्री बरामद कर उसे सीज किया गया था।

टिकट न मिलने से खफा सर्वेश भी बीजेपी छोड़ सपा में शामिल

Comments Off on टिकट न मिलने से खफा सर्वेश भी बीजेपी छोड़ सपा में शामिल

Posted on : 04-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP, Politics-BSP

फर्रुखाबाद: बसपा में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे सर्वेश अम्बेडकर ने बीते कुछ माह पूर्व ही अपने घर की छत पर बीजेपी का झण्डा लगाया था। मन में बीजेपी से टिकट मिलने की लालसा थी। बीजेपी में शामिल होने के बाद से ही सर्वेश अम्बेडकर पार्टी के कार्यों को छोड़कर सिर्फ टिकट की जुगत में लगे रहे। लेकिन जब उन्हें टिकट नहीं मिला तो उन्होंने भी बीजेपी से किनारा कर सीएम अखिलेश यादव का हाथ थाम लिया।

सर्वेश अम्बेडकर ने फोन पर जेएनआई को बताया कि उन्हें बीजेपी में टिकट देने की बात कहकर पार्टी के नेताओं ने शामिल कराया था। उनका काफी पैसा पार्टी के प्रचार और नेताओं की आवभगत में खर्च हो गया। लेकिन अंततः उन्हें टिकट नहीं मिला। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी कन्फ्यूज्ड लोगों का जमावड़ा है। बीजेपी में लोगों को मूर्ख बनाने की फैक्ट्री चलती है। एक बार मोदी के नाम पर काठ की हांड़ी देश की जनता ने चढ़ा दी। लेकिन अब जनता जाग गयी है।

उन्होंने कहा कि उनकी सीएम अखिलेश यादव से बात हो गयी है। उन्होंने शनिवार को औरैया में पत्नी पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष कन्नौज मुन्नी देवी अम्बेडकर के साथ सपा का दामन थाम लिया है। बीजेपी हिन्दुत्व की बात करती है। बीजेपी का मानना है कि जो बीजेपी में है वही हिन्दू है और जो बीजेपी में नहीं वह पाकिस्तानी है। बीजेपी दलित आरक्षण की दुश्मन है, इसलिए उन्होंने बीजेपी को छोड़कर सपा का दामन थामा है।

वहीं कायमगंज विधानसभा से बीजेपी की टिकट पाने की जुगत करती रहीं डा0 सुरभी दोहरे गंगवार को भी बीजेपी से टिकट नहीं मिला था तो उन्होंने बीजेपी को छोड़कर सपा से टिकट हासिल कर लिया।

मेरठ की जमीन से मोदी ने आखिर किस स्कैम का खुलासा किया…

Comments Off on मेरठ की जमीन से मोदी ने आखिर किस स्कैम का खुलासा किया…

Posted on : 04-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

दिल्ली : मेरठ की सरजमीं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक स्कैम (SCAM) का जिक्र किया. यूपी में पहले चरण के चुनाव की तारीख 11 फरवरी है. ठीक एक हफ्ते पहले पीएम मोदी द्वारा उठाए गए इस स्कैम की हर ओर चर्चा है. दरअसल इस स्कैम की रणनीति बीजेपी के वॉर रूम में पहले ही तय हो गई थी.

दरअसल भारतीय जनता पार्टी यूपी चुनाव में आगे का चुनाव प्रचार कैसे करे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कैसे और किस मुद्दे पर चुनावी रैलियों को संबोधित करें, इसको लेकर पार्टी के कैंपेन मैनेजरों ने नया फॉर्मूला तैयार किया है. चुनावी रणनीति पर पार्टी की बैठक में ये तय किया गया है कि पीएम मोदी का चुनावी रथ अब बीजेपी बनाम स्कैम (SCAM) के फॉर्मूले पर चलाया जाना चाहिए.

पीएम मोदी ने स्कैम (SCAM) का खुलासा कुछ इस तरह किया. S यानी समाजवादी, C यानी कांग्रेस, A यानी अजित और M यानी मायावती. इस तरह के फॉर्मूले के पीछे का तर्क ये दिया गया है कि बीजेपी ने 2014 लोकसभा चुनाव के बाद यूपी में जो मजबूत जनाधार प्राप्त किया था उसे न खोया जाए. पार्टी किसी भी सूरत में चुनाव की मुख्य धुरी से हटना नहीं चाहेगी.

अगर 1989 से देश के इस महत्वपूर्ण राजनीतिक राज्य पर नजर डालें तो पाएंगे कि यहां कभी भी राष्ट्रीय राजनीति का प्रभाव नहीं देखा गया. यहां मायावती और मुलायम सिंह यादव की पार्टियों ने देश की अहम पार्टियों बीजेपी और कांग्रेस को मजबूत अंतर से पीछे रखा है. हालांकि 2014 के लोकसभा चुनाव में राजनीति के इस दुर्भाग्य को मोदी के जादू ने तोड़ा.

ये पहली बार है जब राज्य में सामाजिक और ऐतिहासिक रूप से बेमेल पार्टियों कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन हुआ है. इसका मकसद है बीजेपी को हराना. इसमें राहुल गांधी और यूपी सीएम अखिलेश के साथ आने का मुख्य मकसद मुस्लिम वोटरों को एक साथ वोट में अपने पक्ष में बदलना है.

इन सबके बीच सबसे ज्यादा जिज्ञासा का विषय है कांग्रेस के राजनीतिक चाल पर नजर. शायद राहुल गांधी के लिए यूपी ही इकलौता राज्य है जहां वह सबसे ज्यादा मेहनत करते हैं. उनका मकसद रहता है खुद को नेहरू—गांधी के वंशज के रूप में योग्य साबित करना. 2009 के लोकसभा चुनाव में जब कांग्रेस सिर्फ 21 सीटें ही जीती थी तब लोगों को लगा था कि शायद अगले चुनाव में पार्टी फिर वापसी करे. पर ऐसा नहीं हुआ, 2012 विधानसभा चुनाव और 2014 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का आकार और छोटा हो गया. इसीलिए 2017 के चुनाव में कांग्रेस ने खुद को राष्ट्रीय पार्टी के तौर पर कद बढ़ाने के लिए अखिलेश यादव के सहारे चुनावी दंगल में ताल ठोंका है.

अगर इतिहास पर नजर डालें तो देखेंगे कि सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव हमेशा से कांग्रेस विरोधी रहे हैं. इस तरह ये देखना दिलचस्प होगा कि अब सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन का भविष्य कैसा होगा. उदाहरण के तौर पर यादवों का स्थानीय निकाय चुनाव में दबदबा. इसी तरह नौकरशाही समेत प्रदेश के तमाम बड़े पदों पर यादवों की नियुक्ति. पूरे प्रदेश में तमाम महत्वपूर्ण पुलिस स्टेशनों पर यादव जाति के लोगों की तैनाती और बड़ी संख्या में भर्ती.

[bannergarden id="12"]