बीजेपी दावेदारों के मोहल्ले ही कैशलेस नही!

0

modiफर्रुखाबाद: पीएम मोदी देश को एक नये बदलाव की तरफ ले जाने का प्रयास कर रहे है| उन्होंने देश को कैश-लैश बनाने के लिये पूरा जोर लगा दिया है| लेकिन उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ता और दावेदार पीएम के सपनों की कितना साकार होने देना चाहते है यह सबके सामने है| मोदी के मुरीद होने की जगह-जगह बात करने वाले जिले के सैकड़ो बीजेपी के दावेदार अपनी पूरी ताकत झोक रहे है| लेकिन मोदी के सपनों को पूरा करने का सपना उनकी आँखों में नजर ही नही आता| बीजेपी नेताओ और दावेदारो के कारोबार से लेकर मोहल्ले के यही हालत है की वह कैशलेस ट्रांजेक्शन की ना ही जानकारी दे रहे है ना ही उनका गाँव मोहल्ला इसके लिये अभी तक जागरूक हुआ है|

बीजेपी की चारो विधान सभाओ में वर्तमान में जगह-जगह सैकड़ो बीजेपी नेताओ के होर्डिंग-पोस्टर लटके मिल जायेगें| इन सभी के दिल में कही ना कही बीजेपी से टिकट लेकर विधायक बनने की तमन्ना है| लेकिन पीएम मोदी के फरमान को ना ही खुद मान रहे है और ना ही मोहल्ले में इसका प्रचार कर रहे है| जिससे जिले में यह योजना मुंह के बल फ़िलहाल अभी आयी हुई है| बीजेपी ने सर्वेश अम्बेडकर निवासी इंद्रानगर कालोनी भोलेपुर, पूर्व सांसद मुन्नूबाबू धीरपुर, अभय सिंह निवासी मौधा,जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह निवासी आवास विकास, नागेन्द्र राठौर निवासी जेएनबी रोड, मेजर सुनील दत्त द्विवेदी निवासी सेनापति प्रांशु दत्त द्विवेदी, मिथिलेश अग्रवाल, सुरभि गंगवार, पूर्व विधायक कुलदीप गंगवार, पूर्व विधायक सुशील शाक्य, राजीव सिंह आदि पार्टी से टिकट की जुगत में है| लेकिन पार्टी के प्रधानमंत्री मोदी के सपनों को पूरा करते नही दिख रहे| दावेदारों के मोहल्लो में आज तक कैशलेस योजना की जानकारी देने के कैम्प तक नही लगाये गये| बीजेपी नेताओ के विभिन्य कारोबार है जिसमे लगभग किसी के पास कैशलेस ट्रांजेक्शन की व्यवस्था नही हुई है|

दावेदारो ने अपने मोहल्लो तक को कैशलेस नही कर पाया| तो देश को अकेले पीएम मोदी कैसे कैशलेस कर पायेगे| यह बड़ा सबाल है| जो आम जनता के दिमाग में चल रहा है|

Comments are closed.