बीएलओ डियूटी ना लेने पर सपा नेता सहित 32 शिक्षक होंगे निलंबित

1

JNI NEWS : 03-07-2016 | By : JNI-Desk | In : CRIME, POLICE, Politics, जिला प्रशासन

jail-sdm-asp123फर्रुखाबाद: उप जिलाधिकारी सदर सुरेन्द्र सिंह ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को पत्र भेजकर तीन प्रधानाचार्य और 29 शिक्षको को निलंबित करने के लिये कहा गया है| सभी पर बीएलओ में डियूटी ना लेने पर कार्यवाही की गयी है|

रविवार को नगर शिक्षा अधिकारी बागीश गोयल व खंड शिक्षा अधिकारी शिव शंकर मौर्य ने शिक्षको को फोन कर बीएलओ डियूटी के प्रपत्र दिलाये| लगभग 6 ने प्रपत्र लेकर कार्य शुरू कर दिया| जबकि 3 हेड,मास्टर और 29 शिक्षक नही आये| इसके बाद एसडीएम सदर ने बीएसए को पत्र भेजकर अध्यापको पर निलंबन की कार्यवाही करने को कहा|

नारायनपुर के प्रधानाचार्य पातीराम कश्यप, प्राथमिक विधालय देवरामपुर के प्रधानाध्यापक अजय मिश्रा, नेकपुर खुर्द के सोमनाथ दीक्षित के निलंबन की संस्तुति कर दी गयी है| इसके साथ ही उच्चप्राथमिक विधालय फतेहगढ़ सीमा मिश्रा, प्राथमिक विधालय बढ़पुर रचना अवस्थी, कन्या जूनियर हाईस्कूल की भूरा देवी, प्राथमिक विधालय चीनी ग्राम की बंदना राठौर, आदर्श जूनियर हाई स्कूल के लोको के श्री रामआर्य, अर्राअवाजपुर की नीलू, बूढ़नामऊ की प्रभा देवी, स्मिता श्रीवास्तव अमिलपुर, नगला गुड़ीला के ब्रजेश कुमार, दीनदयाल बाग की शिखा सक्सेना व कुमुद कटियार, गंगा दरवाजा की मोनिका राठौर, जनता जूनियर विजाधरपुर के रमेश, नेकपुर खुर्द के सहायक अध्यापक विनोद कुमार, अंगूरीबाग के अशोक वाजपेयी, बढ़पुर के वरिष्ठ सपा नेता ओम प्रकाश शर्मा, लोको के आनंद किशोर सक्सेना सहित 36 शिक्षको को निलंबन की संस्तुति की गयी है|

पाठक की प्रतिक्रिया (1)

@ भ्रष्टता की हद हो गयी @
रोक सको तो रोक लो ।

राजेपुर:-वो शेराखार जहाँ से निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख डॉ सुबोध यादव जी BDC जीते हैं ।फर्रुखाबाद – बरेली हाईवे से शेराखार – खंडौली संपर्क मार्ग विगत 10 बर्षों से जरजर हैं ,पुरे रोड पर डामर का कोई नामों निशान नहीं रह गया है फिर ना जाने वो कौन सा फ़रिश्ता आया जिसने इस रोड के गढ़ड़ो को भरकर डामर का लेप करने तक का ठेका दे दिया ।एक किलोमीटर के रोड में यदि 200 गडढे हों तो उसके गडढे भरकर लेप किया जा सकता लेकिन इस रोड पर इतने गडढे हैं एक इंजीनियर भी महीनों तक गडढे नहीं गिन पायेगा ।अत: हमारा अनुरोध है कि पैसा आप बिलकुल ना लगायें इससे आम जनता को कोई लाभ नहीं होगा ।इससे अच्छा ये पैसा ठेका देने वालों और ठेका लेनें वालो और ठेका दिलाने वालो आपस में बाँट लो आपका ही भला हो जाये ।jni news से मेरा अनुरोध है इसको प्रमुखता से लें और इसका सर्बेक्षण कराएँ बहुत दुआ देंगे किसान बन्धु।