Featured Posts

अविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सीअविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सी फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद गुरुवार को एक बजे तक 21 जिला पंचायत सदस्यों ने अपना अविश्वास सगुना देवी में दिखा दिया| सगुना के पक्ष वाले 8 जिला पंचायत सदस्य उनके पक्ष में हाथ उठाने नही पंहुचे| अविश्वास लाने वाले जिला पंचायत...

Read more

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

अपने ही बनाये चक्रव्यूह में फंस सकती है पुलिस!

Comments Off on अपने ही बनाये चक्रव्यूह में फंस सकती है पुलिस!

Posted on : 10-06-2016 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

MAARKNDEY AAROPI CHOR 8.JUN 2016फर्रुखाबाद: बीते एक दिन पूर्व ही पुलिस ने 8,50 किलो चांदी और 150 किलोग्राम सोना बरामद कर पुलिस ने तीन आरोपी बनाये थे| जिसमे आरोप देवन्द्र सिंह की पत्नी अंशू कुमारी ने सीएम सहित अन्य आलाधिकरियो से शिकायत की है | जिसमे उसने पति को गलत आरोप में फंसाने शिकायत की है|

विदित है कि पुलिस के अनुसार बीते 24-25 अप्रैल की रात लेखपाल मान सिंह के घर चोरी और बीते 10-11 मई की रात असफाक खां के मकान से चोरी की गयी थी| कस्बा पटियाली में बीते 29 अप्रैल को डकैती डालने में आरोपी मारकण्डेय शर्मा पुत्र रामसेवक निवासी रेहा मऊदरवाजा को बीती रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था | पुलिस ने अनुसार उसके पास से 1 तमंचा 315 बोर का मिला| करधनी व कमर पेटी 8,पायल 33 , तोडियां 35 , लच्छा 11, कालेट चैन सहित दो, वालो में लगाने वाले कांटे मय चेन, बाजू बंद 5, खडुआ 1,गले की सुतिया 3 चाबी के गुच्छे, 1 चूड़ी, 1 जंजीर चांदी की बरामद दिखाई गयी थी|

जिसमे मारकण्डेय शर्मा सहित तीन को आरोपी बनाया गया था| लेकिन बीते दिन लेखपाल मानसिंह के द्वारा मिडिया में यह वयान दिया गया था कि चोरी में बरामद जेबरात उसके नही है| जिस पर कहानी में नया मोंड आ गया| शुक्रवार को आरोपी बनाये गये शहर कोतवाली के देवेन्द्र सिंह की पत्नी अंशु ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, मानवाधिकार आयोग, महीला आयोग , आईजी, डीआईजी, एसपी से मामले की शिकायत कर न्याय की गुहार लगायी है| उसका कहना है कि बीते 2 जून को कासगंज की एसओजी और स्थानीय पुलिस ने उसके पति को घर से पकड़ा था| इसके ठीक चार दिन बाद एसओजी उसके पति देवेन्द्र को लेकर आयी और उसके जेबर मांगे| ना देने की हालत में मुझे भी जेल भेजने की धमकी दी|

अंशु ने यह भी आरोप लगाया है कि पुलिस ने यह दर्शाया है कि आरोपी मारकण्डेय शर्मा से उसके पति देबेन्द्र की बात करायी गयी थी | उसने मांग की अहि कि यदि बात की गयी है तो वह नम्बर बताया जाये| क्योंकि उसके पति मोबाइल ही नही रखते | उसने इस मामले में लगे पुलिस कर्मियों को सस्पेंड करने की मांग की है|

पत्नी के वियोग में ट्रक चालक ने लगायी फांसी

Comments Off on पत्नी के वियोग में ट्रक चालक ने लगायी फांसी

Posted on : 10-06-2016 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

fansiफर्रुखाबाद: (मेरापुर) थाना क्षेत्र के ग्राम बिछौली निवासी ट्रक चालक 35 वर्षीय सुधाकर ने पत्नी के मायके जाने के कारण फांसी में लटक कर आत्महत्या कर ली| पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा|

सुधाकर का विवाह बांदा जनपद के खैरादा निवासी मुन्नी देवी से हुआ था| बीते दिन पूर्व उसका पत्नी के साथ झगड़ा हो गया| जिस पर पत्नी नाराज होकर अपने मायके 12 वर्षीय पुत्र सनी, 5 वर्षीय पुत्र देव , 3 वर्षीय पुत्री सलोनी, 2 वर्षीय पुत्री कशिश को लेकर चली गयी| तीन दिन तक जब पत्नी नही आयी तो वह मानसिक तनाव में आ गया| बीते गुरुवार की रात सुधाकर ने अपने मकान के कमरे में पंखे के कुंडे में लटक कर फांसी लगा ली| जिससे उसकी मौत हो गयी|

घटना की सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष मो० आशिफ मौके पर पंहुचे| उन्होंने शव को नीचे उतार कर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया|

गृहकलह में विवाहिता फांसी पर झूली

Comments Off on गृहकलह में विवाहिता फांसी पर झूली

Posted on : 10-06-2016 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

fansiफर्रुखाबाद: बीते गुरुवार को कोतवाली फतेहगढ़ के ग्राम सुन्दरपुर निवासी 20 वर्षीय सविता पत्नी सुरेन्द्र पाल ने गृह कलह में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा|

मौके पर सीओ सिटी लेखराज को सविता के पिता विष्णु दयाल निवासी हरदोई हरपालपुर धौरहरा ने बताया की उसने अपनी पुत्री का विवाह एक वर्ष पूर्व ही किया सुरेन्द्र पाल के साथ किया था| विवाह के बाद से ही सुरेन्द्र उसके पिता राजाराम एक बाइ क और एक भैस की मांग करने लगे| आये दिन उसके साथ मारपीट की नौबत भी आ जाती थी| इसका जिक्र कई बार उसने अपनी माँ से भी किया तो हम सभी ने ससुराल वालो को समझाने का प्रयास किया| लेकिन वह नही माने|
गुरुवार को सूचना मिली की उनकी पुत्री सविता की हत्या कर दी गयी है| जब वह लोग मौके पर पंहुचे तो उसका शव आंगन में रखा था| परिजनों ने हत्या किये जाने का आरोप लगाया|

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम भी कराया| शव का पोस्टमार्टम डॉ० सोमेश अग्निहोत्री और डॉ० नीरज ने किया| सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सविता की मौत लगभग 20 घंटे पूर्व फांसी लगने से स्वास नली अबरुद्ध होंना बताया गया है | सीओ सिटी लेखराज सिंह ने बताया की तहरीर मिलने पर सुरेन्द्र उसके पिता राजाराम और माँ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है| जाँच की जा रही है|

नगर में दिनदहाड़े फायरिंग से मंची भगदड़

Comments Off on नगर में दिनदहाड़े फायरिंग से मंची भगदड़

Posted on : 10-06-2016 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

goliफर्रुखाबाद: शुक्रवार दोपहर नगर के व्यस्ततम पक्कापुल पर आये एक दर्जन बाइक सबार दबंग युवको ने जमकर कई राउंड फायर किये| बाद में सभी आरोपी धमकी देते हुये फरार हो गये| मौके पर पंहुची पुलिस गिरफ्तार करने की जगह कारतूस के खोखे लेकर लौट आयी |

शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला दिल्ली ख्यालीकूंचा निवासी अवनीश शर्मा पुत्र सुरेश शर्मा की पक्का पुल पर आर्टिफिशियल जैलरी की दुकान है| दोपहर को अबनीश अपनी दुकान पर बैठा था तभी उसकी दुकान के आगे से मोहल्ला पलरिया निवासी एक दबंग युवक निकला| तो अबनीश ने उससे उधार दिये रुपयों का तगादा किया तो दोनों में विवाद के साथ ही साथ गाली-गलौज और मारपीट हो गयी| जिसके बाद युवक चला गया |

दोपहर के बाद दुकान पर अबनीश का भाई अवधेश बैठा था| तभी पलरिया निवासी युवक अपने एक दर्जन साथियों के साथ बाइको से आ गया | दबंग युवक ने तमंचा निकाल कर तबाड़तोड़ हवाई फायर किये| जिससे भगदड़ मच गयी| दबंग युवक तकरीबन 15 मिनट तक मौके पर ही असलाहे लहराते रहे| बाद में धमकी देते हुये निकल गये| कुछ देर बाद तिकोना चौकी के सिपाही मौके पर पंहुचे और मौके पर मिले खोखे लेकर वैरंग लौट गये|

कोतवाल डीके शर्मा ने बताया कि वह मौके पर गये थे फायर होने की सूचना मिली थी| दोनों पक्षों में बाद में समझौता होने की जानकारी मिली|

सीएम पद की उम्मीदवारी पर राजनाथ सिंह का जवाब: यूपी में नेताओं की कमी नहीं

Comments Off on सीएम पद की उम्मीदवारी पर राजनाथ सिंह का जवाब: यूपी में नेताओं की कमी नहीं

Posted on : 10-06-2016 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

rajnath-singhनई दिल्ली: यूपी चुनाव में सीएम पद की उम्मीदवारी पर राजनाथ सिंह ने कहा कि यह सवाल पूरी तरह काल्पनिक है। यूपी बीजेपी में नेताओं की कमी नहीं है। हम तो एक जगह हैं ही। दरअसल, इससे पहले पार्टी सूत्रों के हवाले से खबरें आई थीं कि बीजेपी केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के चेहरे को आगे रखकर राज्य में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में है।

सूत्रों के मुताबिक, पार्टी का मानना है कि उत्तर प्रदेश में सत्तासीन समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के मुकाबले अनुभवी चेहरे के रूप में राजनाथ सिंह को पेश किया जा सकता है। इसी संबंध में मतदाताओं को स्पष्ट संदेश देने के लिए उन्हें राज्य में प्रचार समिति की कमान भी सौंपी जा सकती है।

हालांकि इस मामले में फिलहाल अंतिम फैसला नहीं किया गया है, और इलाहाबाद में होने वाली पार्टी कार्यकारिणी की बैठक के दौरान इस पर चर्चा हो सकती है, लेकिन कार्यकारिणी के लिए बनाए गए पोस्टरों में राजनाथ के चेहरे को अहमियत दी गई है, और गौरतलब है कि सहारनपुर की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राजनाथ सिंह भी मौजूद थे।

यूपी में रैलियों को संबोधित करते दिख रहे हैं राजनाथ
इसके अलावा राजनाथ सिंह ने हाल ही में अमरोहा में किसानों की एक रैली को संबोधित किया था, और गुरुवार को भी उन्होंने मऊ में किसानों को संबोधित किया। राजनाथ सिंह ने ही 24 अप्रैल को सारनाथ से ‘धम्म चेतना यात्रा’ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था, जिसका समापन लखनऊ में 14 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

सूत्रों ने बताया है कि राज्य में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम पर अभी चर्चा होना बाकी है, लेकिन इस बात के आसार हैं कि राजनाथ सिंह को पेश किया जा सकता है। चुनाव प्रचार के लिए तय किए जा रहे कार्यक्रमों में भी पीएम और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के अलावा राजनाथ सिंह की कई रैलियां आयोजित करने का विचार है।

पहले भी रह चुके हैं यूपी के मुख्यमंत्री
राजनाथ सिंह इससे पहले भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। मौजूदा समय में केंद्रीय कैबिनेट में नंबर दो की हैसियत रखने वाले राजनाथ राज्य में पार्टी के सबसे कद्दावर नेता हैं, क्योंकि कल्याण सिंह को राजस्थान का राज्यपाल बनाया जा चुका है।

फैसला लेने में यह है दिक्कत
राज्य में विकास, भ्रष्टाचार, बिगड़ती कानून एवं व्यवस्था के मुद्दों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही बीजेपी का मानना है कि राजनाथ का चेहरा पार्टी को राज्य में फायदा दिला सकता है, हालांकि पार्टी के एक हिस्से का यह भी मानना है कि राजनाथ को सामने करने से ब्राह्मण मतदाता खफा हो सकते हैं, इसीलिए उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में पेश करने का फैसला नहीं किया गया है, बल्कि पार्टी के प्रचार का प्रमुख चेहरा बताया जाएगा। वैसे, चर्चाएं यह भी हैं कि राजनाथ सिंह स्वयं भी मुख्यमंत्री प्रत्याशी के रूप में प्रोजेक्ट किए जाने को लेकर उत्साहित नहीं हैं, और इसलिए भी उनका चेहरा पेश करने का फैसला नहीं हो पाया है।

[bannergarden id="12"]