Featured Posts

फर्रुखाबाद में JNI जन सेवा केंद्र पर मना स्वन्त्रता दिवस फर्रुखाबाद: सीएससी द्वारा आयोजित स्वंतंत्रता दिवस कार्यक्रम जेइनआई ग्रुप के मुख्यालय आवास विकास में धूमधाम से मनाया गया| कार्यक्रम में देश की आजादी और डिजिटल इंडिया के बीच आम नागरिक को सुविधा पहुचाने की जानकारी भी दी गयी| कार्यक्रम में झंडारोहण मुख्य अतिथि जिला विज्ञानं...

Read more

केंद्र और राज्य में अलग अलग सरकारों से उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस को लग रहा पलीताकेंद्र और राज्य में अलग अलग सरकारों से उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस... फर्रुखाबाद: केंद्र और राज्य सरकार में अपने अपने कामो को प्रचारित करने के चक्कर में उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस की ऐसी तैसी हो रही है| इसका खामियाजा उत्तर प्रदेश के 2 लाख से ज्यादा लोकवाणी/जन सेवा केंद्र संचालकों के साथ साथ जनता भी भुगत रही है| राज्य सरकार द्वारा संचालित...

Read more

रेल मंत्रालय ने टिकट बुक करने के लिए आधार कार्ड को किया अनिवार्य!रेल मंत्रालय ने टिकट बुक करने के लिए आधार कार्ड को किया अनिवार्य! भारतीय रेल मंत्रालय ने रेल यात्रा के लिए टिकट बुक करने की प्रक्रिया के दौरान आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया है। रेल मंत्रालय के अनुसार, यात्री के टिकट के साथ आधार को लिंक करने की तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। यह योजना साल 2013 से रेलवे की योजनाओं के ठंडे बस्ते में है, जिसे...

Read more

सनसनी खेज खुलासा: लेडी डॉन की मौत मगर जिन्दा है मीरा जाटव फर्रुखाबाद:(कमालगंज) बीते कई दिनों से कमालगंज थाना पुलिस और बसपा नेता के नाक का बाल बनी मीरा जाटव मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन नीरा थी| जेएनआई टीम ने जब कन्नौज जनपद के गुरसहायगंज मानिकपुर जाकर पड़ताल की तो हकीकत कुछ और निकली| पता चला कि मरने वाली मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन...

Read more

सातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथसातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथ फर्रुखाबाद: जनपद के सातों व्लाको के व्लाक प्रमुखों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गयी| सभी को क्षेत्र के विकास और आम जनता की समस्या का निदान करने के भी निर्देश दिये गये| मोहम्मदाबाद में व्लाक प्रमुख की शपथ अमित दुबे (बब्बन) ने ली| उन्हें शपथ एसडीएम सदर सुरेन्द्र सिंह ने दिलाई...

Read more

दीदी तीन और जीजा पांच आज आपको एक कथा सुनाने का मन हो रहा है। एक गांव में बलभद्दर (बलभद्र) रहते थे। क्या कहा...किस गांव में? आप लोगों की बस यही खराब आदत है...बात पूछेंगे, बात की जड़ पूछेंगे और बात की फुनगी पूछेंगे। तो चलिए, आपको सिलसिलेवार कथा सुनाता हूं। ऐसा हो सके, इसलिए एक पात्र मैं भी बन जाता हूं।...

Read more

जानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्थाजानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्था पंचायत व्यवस्था के सम्बन्ध में प्रावधान संविधान के भाग 9 में 16 अनुच्छेदों में शामिल किया गया, जो निम्न प्रकार हैं– पंचायत व्यवस्था के अन्तर्गत सबसे निचले स्तर पर ग्रामसभा होगी। इसमें एक या एक से अधिक गाँव शामिल किए जा सकते हैं। ग्रामसभा की शक्तियों के सम्बन्ध में राज्य...

Read more

यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था?यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था? अतीत कभी पीछा नहीं छोड़ता| कभी सुनहरी यादे तो कभी गम भरे पल| मगर यादे तो यादे है| अतीत से सबक लेकर कल और बेहतर किया जा सकता है| पेश है अतीत के झरोके से- आज के दिन वर्ष 2015 में क्या क्या हुआ था? और कौन कौन सी खबरे सुर्खिया बानी थी- १-मोहल्लो में गंदगी मिली तो ईओ से खुद लगवाई जाएगी झाड़ू:...

Read more

फर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन करने आया थाफर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन... फर्रुखाबाद के इतिहास में रंगमंच का भी एक स्वर्णिम अध्याय है। सन १९६२ के भारत चीन युद्ध के बाद महान अभिनेता पृथ्वीराज कपूर अपना 'पृथ्वी थियेटर' लेकर फर्रुखाबाद आये और 'किसान' ,'आहुति','दीवार' ,'पैसा'और 'पठान ' नाटक खेले। तत्पश्ात राजकीय इण्टर कालेज के शिक्षक श्री बी०बी०सिंह...

Read more

Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम!Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम! पप्पू, फेंकू, नमो, खुजलीवाल! इन लफ्जों में एक पूरी कहानी सिमटी है। किसी न किसी नेता का पूरा किरदार एक शब्द में बांध दिया गया है। यह मजाकिया भी लग सकते हैं और अपमानजनक भी। लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ये जुमले इस साल छाए रहे। चाहते न चाहते हुए इन्हें नजरअंदाज नहीं...

Read more

एसडीएम ने तबादले के बाद रातों रात कर दिये पट्टे स्वीकृत

Comments Off on एसडीएम ने तबादले के बाद रातों रात कर दिये पट्टे स्वीकृत

Posted on : 21-04-2012 | By : JNI DESK | In : Uncategorized

कमालगंज (फर्रुखाबाद) : उपजिलाधिकारी सदर एके लाल जाते जाते एक नया कारनाम कर गये। लगभग दस वर्ष से जांच में फंसे ग्राम पंचायत की भूमि के पट्टे रातोंरात स्वीकृत हो गए। ग्राम प्रधान ने अपात्रों को दिये गये पट्टे निरस्त कराने के लिये जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया है।

ग्राम पंचायत भड़ौसा के प्रधान सगीर अहमद ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया कि वर्ष 2000 से 2005 तक वसीम उर्फ शफीक गांव के प्रधान रहे थे। उन्होंने बगैर एजेंडा मुनादी आदि कराये 87 अपात्रों को पट्टे कर तत्कालीन तहसीलदार से कुछ आवंटन स्वीकृत करा लिए। आवंटन पत्रावली में अधिकतर पट्टे अपने पारिवारिक व रिश्तेदारों को किये गए थे। जांच में कुछ आवंटन स्वीकृत नहीं किए तथा कुछ निरस्त कर दिये गए। पूर्व प्रधान ने पारिवारिक लोगों व रिश्तेदारों को पट्टे दिलाने के लिए आयुक्त कानपुर के यहां निगरानी प्रस्तुत की। सफलता न मिलने पर राजस्व परिषद इलाहाबाद में निगरानी प्रस्तुत की गई। राजस्व परिषद ने 13 सितंबर 2011 को पुन: तथ्यों की जांच कर पात्रता को दृष्टिगत रखते हुए मामले का समाधान करने के निर्देश उपजिलाधिकारी को दिये। पूर्व प्रधान राजस्व परिषद के आदेश को दबाये रहे तथा 4 अप्रैल 2012 को उपजिलाधिकारी के यहां आदेश प्रस्तुत किया। उपजिलाधिकारी ने पत्रावली तलब की, लेकिन पत्रावली तहसील से नहीं आ सकी। 13 अप्रैल को उपजिलाधिकारी का स्थानांतरण हो गया। इसी दिन उपजिलाधिकारी ने पत्रावली मंगवाकर रातोंरात दस अपात्रों के पट्टे स्वीकृत कर दिए। प्रधान ने पूर्व प्रधान पर एसडीएम से सांठगांठ कर अपात्रों को स्वीकृत किए गये पट्टे निरस्त कराने की मांग की।

प्रधान ने आरोप लगाया कि जिन दस लोगों के पट्टे स्वीकृत किये गए हैं वह पूर्व प्रधान के परिजन व रिश्तेदार हैं। इन लोगों के आलीशान मकान, अहमदाबाद में गाड़ियां चल रही हैं। पुत्र पीएसी में नौकरी करता है। इसके बावजूद ग्राम पंचायत की जमीन के पट्टे कर दिये गये थे।

सत्ता जाते देख शिक्षाधिकारियों ने बीआरसी के खाते किये खाली

Comments Off on सत्ता जाते देख शिक्षाधिकारियों ने बीआरसी के खाते किये खाली

Posted on : 21-04-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

फर्रुखाबाद: सर्व शिक्षा अभियान के अन्तर्गत जनपद के सातों ब्लाक संसाधन केन्द्रों पर पदेन बीआरसी समन्वयक का कार्य देख रहे खण्ड शिक्षा अधिकारियों को राज्य परियोजना निदेशक के पत्र पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी फर्रुखाबाद डा0 कौशल किशोर द्वारा हटाये जाने पर बीआरसी के खातों में विभाग द्वारा भेजी गयी प्रशिक्षण, यात्रा भत्ता एवं आकस्मिक मदों की धनराशि पर रोक लगने के बाद भी निकाल ली गयी है।

उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्ड पीठ द्वारा एक याचिका की सुनवाई पर बीआरसी समन्वयक पद पर शिक्षकों के स्थान पर पदेन बीआरसी खण्ड शिक्षा अधिकारियों को हटाने के दिये गये निर्देश पर राज्य परियोजना निदेशक पार्थसारथी सेन शर्मा के द्वारा भेजे गये पत्र पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी फर्रुखाबाद डा0 कौशल किशोर द्वारा विगत 16 अप्रैल को जनपद के सातों बीआरसी केन्द्रों के पदेन समन्वयक पद से खण्ड शिक्षा अधिकारियों को हटा दिया गया था। बीएसए द्वारा बीआरसी के खातों पर खण्ड शिक्षा अधिकारियों को भुगतान न करने के आदेश बैंकों को दिये थे।

बीआरसी केन्द्रों से खण्ड शिक्षा अधिकारियों की सत्ता जाने एवं खाते पर रोक लगने की सूचना पर बैंक में पत्र पहुंचने से पहले शमशाबाद के खण्ड शिक्षा अधिकारी  ने बीआरसी शमशाबाद के खातों से भुगतान ले लिया है। इसी तरह अन्य खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा भी बीआरसी खातों से धनराशि का भुगतान लेने की संभावना है।

घोटाले में डिप्टी सीएमओ सहित तीन बर्खास्त

Comments Off on घोटाले में डिप्टी सीएमओ सहित तीन बर्खास्त

Posted on : 21-04-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

फर्रुखाबाद: एनआरएचएम घोटाले में जनपद में तैनात एक अपर मुख्य चिकित्साधिकारी सहित तीन के विरुद्व शासन ने बर्खास्तगी की कार्यवाही कर दी है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 कमलेश कुमार ने बताया कि एनआरएचएम घोटाले के आरोपी अधिकारियों के तत्कालीन मुख्य चिकित्साधिकारी मोहम्मद हसीन खां, दूसरे आरोपी अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 के के सक्सेना जो वर्तमान में निलंबित चल रहे हैं, की बर्खास्तगी का आदेश किया गया है। इनके अतिरिक्त एक वरिष्ठ लिपिक जगदीश कटियार व एक चतुर्थश्रेणी कर्मचारी अजय कटियार की भी बर्खास्तगी का आदेश कर दिया गया है।

सीएमओ ने बताया कि पूर्व में शासन की ओर से मोहम्मद हसीन खां व के के सक्सेना से 11-11 लाख व जगदीश कटियार व अजय कटियार से 7-7 लाख रुपये की वसूली उनके वेतन से किये जाने के आदेश दिये थे। उन्होंने बताया कि अब इस सम्बंध में जिला शासकीय अधिवक्ता व विभागीय वित्त नियंत्रक से मार्ग निर्देश प्राप्त मिलने के बाद ही कोई कार्यवाही की जायेगी कि वसूली व बर्खास्तगी दोनो आदेशों का अनुपालन एक साथ कैसे किया जाये। उन्होंने बताया कि डा0 सक्सेना की बर्खास्तगी से पूर्व लोक सेवा आयोग से भी अनुमति ली जानी है। इसलिए उनके मामले में प्रकरण को लोकसेवा आयोग को भी संदर्भित किया जा रहा है।

शाम होते ही सरकारी खरीद केन्द्र पर आढ़तियों का गेहूं हो जाता है पैक

Comments Off on शाम होते ही सरकारी खरीद केन्द्र पर आढ़तियों का गेहूं हो जाता है पैक

Posted on : 21-04-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

कमालगंज (फर्रुखाबाद): कमालगंज मण्डी समिति में कल्याण निगम द्वारा गेहूं खरीद केन्द्र खोला गया है। केन्द्र पर आढ़तियों व दलालों का कब्जा है। केन्द्र पर दिन में सन्नाटा पड़ा रहता है। दिन में केन्द्र पर न तो गेहू की तौल होती है और न कोई और काम करता है। वहीं अन्य आढ़ती पूरे मण्डी समिति में दिन भर अपना-अपना गेहूं इकट्ठा करते हैं और शाम ढलते ही गेहूं कल्याण निगम के वारदाना (पैकिटों) में पैक करा दिया जाता है।

केन्द्र प्रभारी विश्वनाथ सिंह से पूछने पर बताया कि उन्हें 10 हजार कुन्टल गेहूं खरीदने का टारगेट दिया गया है। जिसमें अभी तक 496 कुन्तल गेहूं खरीद कर चुके हैं। जब यह पूछा कि अभी तक किस किसान का कितना गेहूं खरीदा है इस बात पर उन्होंने मना कर दिया।

वहीं केन्द्र प्रभारी के पास कुछ जोतवही रवी कुमार दुबे पुत्र सतीशचन्द्र निवासी शेखपुर सात बीघा की जोतवही, रनबीर सिंह पुत्र बद्री सिंह की 30 बीघा की रखी थी। जबकि किसान वहां मौजूद नहीं थे। जोतवही पास रखने के सम्बंध में पूछने पर केन्द्र प्रभारी बोला कि आप सब जानते हैं तो अब क्या बतायें।

केन्द्र पर पूर्ण रूप से आढ़तियों व दलालों का बोलबाला है। बाजार में 11 रुपये 25 पैसे प्रति किलोग्राम की दर से गेहूं खरीदा जा रहा है। जबकि सरकारी खरीद केन्द्र पर 12 रुपये 85 पैसे प्रति किलोग्राम है। आढ़ती और दलाल गांवों में जाकर किसानों से जोतवही ले आते हैं और उनके जरिये सरकारी केन्द्र पर गेहूं तुलवा देते हैं।
किसान जब सीधे गेहूं लेकर इस केन्द्र पर पहुंचता है तो प्रभारी महोदय ने कांटे के पास छटना लगा रखा है। किसानों के लिए तमाम नियम कानून बना दिये जिसके चक्कर में किसान केन्द्र पर सीधे गेहूं नहीं लाता।

बेसिक शिक्षा: सवेतन 4 माह से गायब मैडम ने 127 दिन की हाजिरी एक साथ लगायी

Comments Off on बेसिक शिक्षा: सवेतन 4 माह से गायब मैडम ने 127 दिन की हाजिरी एक साथ लगायी

Posted on : 21-04-2012 | By : पंकज दीक्षित | In : Uncategorized

फर्रुखाबाद: बेसिक शिक्षा में गायब शिक्षको का अम्बार लगा है| मोहम्दाबाद के ग्राम सभा गढ़ी बनकटी के प्राथमिक पाठशाला गढ़ी में गत 20 अप्रैल 2012 को शिक्षिका सुमन लता ने दबंगई और कामचोरी का रिकॉर्ड तोड़ काम कर डाला| मैडम 4 माह बाद स्कूल पहुची और हाजिरी राजिस्टर पर अनुपस्थित काट 127 दिन की उपस्थित होने की हाजिरी एक साथ लगा डाली| मैडम 1 दिसम्बर को प्रोमोशन से हुए तबादले में गढ़ी स्कूल में ज्वाइन करने आई थी उसके बाद कल 20 अप्रैल 2012 को उनकी शक्ल स्कूल में दिखाई पड़ी| इस ४ माह के दौरान मैडम का बाकायदा वेतन भी आहरित हुआ| खबर मीडिया कर्मिओ के हत्थे चड़ी तो खंड शिक्षा अधिकारी को भी जबाब नहीं सूझ रहा है| वेतन तो उन्ही के हस्ताक्षर के बाद निकला| खबर है की मैडम सुमन लता का कोई रिश्तेदार बेसिक शिक्षा कार्यालय फर्रुखाबाद में चपरासी है जिसकी दम पर मैडम ये गोलमाल कर रही थी|

जारी……..

[bannergarden id="12"]