Featured Posts

सनसनी खेज खुलासा: लेडी डॉन की मौत मगर जिन्दा है मीरा जाटव फर्रुखाबाद:(कमालगंज) बीते कई दिनों से कमालगंज थाना पुलिस और बसपा नेता के नाक का बाल बनी मीरा जाटव मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन नीरा थी| जेएनआई टीम ने जब कन्नौज जनपद के गुरसहायगंज मानिकपुर जाकर पड़ताल की तो हकीकत कुछ और निकली| पता चला कि मरने वाली मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन...

Read more

सातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथसातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथ फर्रुखाबाद: जनपद के सातों व्लाको के व्लाक प्रमुखों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गयी| सभी को क्षेत्र के विकास और आम जनता की समस्या का निदान करने के भी निर्देश दिये गये| मोहम्मदाबाद में व्लाक प्रमुख की शपथ अमित दुबे (बब्बन) ने ली| उन्हें शपथ एसडीएम सदर सुरेन्द्र सिंह ने दिलाई...

Read more

दीदी तीन और जीजा पांच आज आपको एक कथा सुनाने का मन हो रहा है। एक गांव में बलभद्दर (बलभद्र) रहते थे। क्या कहा...किस गांव में? आप लोगों की बस यही खराब आदत है...बात पूछेंगे, बात की जड़ पूछेंगे और बात की फुनगी पूछेंगे। तो चलिए, आपको सिलसिलेवार कथा सुनाता हूं। ऐसा हो सके, इसलिए एक पात्र मैं भी बन जाता हूं।...

Read more

जानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्थाजानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्था पंचायत व्यवस्था के सम्बन्ध में प्रावधान संविधान के भाग 9 में 16 अनुच्छेदों में शामिल किया गया, जो निम्न प्रकार हैं– पंचायत व्यवस्था के अन्तर्गत सबसे निचले स्तर पर ग्रामसभा होगी। इसमें एक या एक से अधिक गाँव शामिल किए जा सकते हैं। ग्रामसभा की शक्तियों के सम्बन्ध में राज्य...

Read more

यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था?यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था? अतीत कभी पीछा नहीं छोड़ता| कभी सुनहरी यादे तो कभी गम भरे पल| मगर यादे तो यादे है| अतीत से सबक लेकर कल और बेहतर किया जा सकता है| पेश है अतीत के झरोके से- आज के दिन वर्ष 2015 में क्या क्या हुआ था? और कौन कौन सी खबरे सुर्खिया बानी थी- १-मोहल्लो में गंदगी मिली तो ईओ से खुद लगवाई जाएगी झाड़ू:...

Read more

फर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन करने आया थाफर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन... फर्रुखाबाद के इतिहास में रंगमंच का भी एक स्वर्णिम अध्याय है। सन १९६२ के भारत चीन युद्ध के बाद महान अभिनेता पृथ्वीराज कपूर अपना 'पृथ्वी थियेटर' लेकर फर्रुखाबाद आये और 'किसान' ,'आहुति','दीवार' ,'पैसा'और 'पठान ' नाटक खेले। तत्पश्ात राजकीय इण्टर कालेज के शिक्षक श्री बी०बी०सिंह...

Read more

Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम!Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम! पप्पू, फेंकू, नमो, खुजलीवाल! इन लफ्जों में एक पूरी कहानी सिमटी है। किसी न किसी नेता का पूरा किरदार एक शब्द में बांध दिया गया है। यह मजाकिया भी लग सकते हैं और अपमानजनक भी। लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ये जुमले इस साल छाए रहे। चाहते न चाहते हुए इन्हें नजरअंदाज नहीं...

Read more

घोड़ों पर साल में करोड़ों खर्च करती है उप्र सरकारघोड़ों पर साल में करोड़ों खर्च करती है उप्र सरकार फर्रुखाबाद:घोड़ों की दौड़ पर आप ने भले ही कभी कोई दांव नहीं लगाया हो, लेकिन सरकार इन पर हर साल करोड़ों रुपये का दांव लगाती है। यह और बात है कि यह धनराशि उनके पालन-पोषण पर खर्च होती है। वह मात्र इसलिए कि उनकी दौड़ प्रतियोगिता प्रत्येक साल होती है। वरना, अब न तो घोड़ों से डकैतों...

Read more

दिसंबर 2016 तक सौ रेलवे स्टेशनों पर Wi-Fi की सुविधा देगा गूगलः पिचाईदिसंबर 2016 तक सौ रेलवे स्टेशनों पर Wi-Fi की सुविधा देगा गूगलः पिचाई दिल्ली: गूगल सीईओ सुंदर पिचाई भारत दौरे पर हैं। गूगल सीईओ बनने के बाद अपने पहले भारत दौरे पर आए पिचाई ने आज दिल्ली के होटल पुलमैन में एक इवेंट में हिस्सा लिया। इस दौरान सुंदर पिचाई ने बताया कि दिसंबर 2016 तक भारतीय रेल के करीब 100 स्टेशनों के वाई-फाई की सुविधा देने के लिए गूगल...

Read more

कौशल सुधार परीक्षण में घपले की शिकायत डीएम सेकौशल सुधार परीक्षण में घपले की शिकायत डीएम से फर्रुखाबाद: शुक्रवार को डीएम कार्यालय पर लगभग दर्जन भर महिलाये व लड़कियाँ डूडा अधिकारी की शिकायत जिलाधिकारी सतेंद्र कुमार से करने पहुंची| डीएम को दिय गये प्रार्थना पत्र में कहा गया की डूडा परियोजना अधिकारी ने कौशल सुधार परीक्षण में जो महिलाये परीक्षण प्राप्त कर चुकी...

Read more

सर्वोच्च न्यायाल के आदेश के बाद अब रैन बसेरों के लिये जगह की तलाश

Comments Off on सर्वोच्च न्यायाल के आदेश के बाद अब रैन बसेरों के लिये जगह की तलाश

Posted on : 31-03-2012 | By : JNI DESK | In : Uncategorized

फर्रुखाबाद: गरीब व असहाय बेघर व्यक्तियों को रैनबसेरा में जगह मिलेगी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जिलाधिकारी ने अधिकारियों को रैनबसेरा के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये हैं।

सुप्रीम कोर्ट से जनहित याचिका में फैसला होने के बाद शासन से आये आदेशों के उपरांत जिलाधिकारी सच्चिदानंद दुबे ने अधिशासी अधिकारियों, परियोजना अधिकारी डूडा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत, जलनिगम व लोक निर्माण विभाग को संयुक्त रूप से स्थाई व अस्थाई रैनबसेरा के लिए 10 अप्रैल तक आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। संचालित रैनबसेरों में रखे गये लोगों को विभागों द्वारा उपलब्ध करायी गयी सुविधाओं से अवगत कराने को कहा है। उच्चतम न्यायालय ने जनहित याचिका में निकायों में आवासविहीन व्यक्तियों को संविधान के अनुच्छेद 21 के अंतर्गत मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिन गरीबों के पास रहने व रात्रि विश्राम के लिए आवास उपलब्ध नहीं है उनकी सूची तैयार करने, अस्थाई रूप से रात्रि विश्राम के लिए रैनबसेरा चिह्नित करने तथा सर्दी से सुरक्षित रखने के साथ ही पेयजल, शौचालय, विद्युत व चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

जिला पंचायत बैठक में नहीं दिखा इस बार बसपाइयों का जलजला

Comments Off on जिला पंचायत बैठक में नहीं दिखा इस बार बसपाइयों का जलजला

Posted on : 31-03-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

अगले वित्तीय वर्ष के लिए 13 करोड़ 18 लाख का बजट पारित
फर्रुखाबादः जिला पंचायत की बैठकों में सत्ता की हनक व बसपाई जिलापंचायत अध्यक्ष होने की धौंस में बसपाइयों का जलजला अधिकारियों के लिए सरदर्द बना रहता था पर इस बार ऐसा कुछ नहीं हुआ। बिन बुलाये बसपाइयों का पहुंचना तो दूर बसपा के एमएलसी तक बैठक में नहीं पहुंचे। औपचारिक बैठक के दौरान आगामी वित्तीय वर्ष के लिए 13 करोड़ 18 लाख 28 हजार 301 रुपये का बजट पारित कर दिया गया है।

शनिवार को विकासभवन सभागार में आयोजित जिला पंचायत की बजट बैठक के दौरान आगामी वित्तीय वर्ष 2012-13 के लिए कुल 13 करोड़, 18 लाख, 28 हजार 301 रुपये का बजट पेश किया गया। 65 लाख रुपये के घाटे का ये बजट विगत वर्ष के 24 करोड़ 86 लाख 72 हजार 735 रुपये के बजट से काफी कम है। इसमें सर्वाधिक कमी प्रकीर्ण, जुर्माना, पंजीकरण, निविदा आदि की मद में लगभग 60 लाख रुपये की कमी का अनुमानित आंकलन प्रस्तुत किया गया है। जबकि सरकारी अनुदान सम्पत्ति कर, लाइसेंस शुल्क, मत्स्य आखेट व नौका घाटों की नीलामी से प्राप्त आय में वृद्वि का आंकलन किया गया है।

वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन सात करोड़ का भुगतान, देर रात तक आये बजट के फैक्स

Comments Off on वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन सात करोड़ का भुगतान, देर रात तक आये बजट के फैक्स

Posted on : 31-03-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

फर्रुखाबादः नई सरकार के गठन के बाद सचिवालय स्तर पर हुए अधिकारियों के बड़े स्तर पर तबादलों के कारण वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन बजट जारी होने की प्रक्रिया इस बार कुछ फीकी रही। इसके बावजूद नाना करते भी लगभग सात करोड़ से अधिक के बिलों के भुगतान जिला कोषागार से किये गये। इसमें शिक्षा विभाग के सर्वाधिक एक करोड़ 20 लाख से अधिक के बिल सम्मलित हैं।

विदित है कि बसपा सरकार के जाने के बाद नव गठित सपा सरकार द्वारा अधिकारियों के बड़े पैमाने पर किये गये तबादलों के कारण जिले से मुख्यालयों का तालमेल अभी लय नहीं पकड़ पाया है। यही कारण है कि इस बार विगत वर्षों की तुलना में वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन बजट जारी होने की प्रक्रिया कुछ फीकी रही। इसके बावजूद अधिकांश विभागों के कर्मचारी देर रात तक कोषागार के चक्कर काटते नजर आये। देर रात तक बजट आवंटन के फैक्स और ईमेल आते रहे।

वरिष्ठ कोषाधिकारी एस एन शुक्ला ने बताया कि सायं लगभग सात बजे तक 311 बिलों के सापेक्ष चार करोड़ 15 लाख 16 हजार 955 रुपये के चेक जारी किये जा चुके हैं। कोषागार में उपलब्ध विवरण के अनुसार इस धनराशि में सर्वाधिक बड़ा हिस्सा शिक्षा विभाग का है। जिनके बिलों के सापेक्ष एक करोड़ 21 लाख 58 हजार 837 रुपये के चेक जारी किये गये हैं। इसके अतिरिक्त जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय के 95 लाख 84 हजार 274, स्वास्थ्य विभाग के 52 लाख 48 हजार 160, कृषि विभाग के 40 लाख 82 हजार 391, परिवार कल्याण विभाग के 23 लाख 70 हजार 701, पुलिस विभाग के 6 लाख 57 हजार 603, जेल प्रशासन के दो लाख 93 हजार 685 व राजस्व विभाग के दो लाख 72 हजार 657 रुपये के बिलों के भुगतान सम्मलित हैं।

श्री शुक्ला ने बताया कि अभी लगभग तीन सैकड़ा बिल और भी कम्प्यूटर फीडिंग की लाइन में हैं। एक मोटे अनुमान के अनुसार वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन का कुल आहरण लगभग सात करोड़ के आस पास रहने की संभावना है।

अधिकारियों के बहकावे में न आयें व्यापारी: ददुआ

Comments Off on अधिकारियों के बहकावे में न आयें व्यापारी: ददुआ

Posted on : 31-03-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

फर्रुखाबादः केन्द्र सरकार द्वारा सर्राफा व्यापारियों पर लगाये गये एक प्रतिशत उत्पाद शुल्क के विरोध में सर्राफा व्यापारियों सहित नगर के उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के नेताओं ने बैठक कर अधिकारियों के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। इस दौरान व्यापारियों को संबोधित करते हुए व्यापार मण्डल के प्रदेश मंत्री अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ ने कहा कि व्यापारी प्रशासन के किसी बहकावे में न आयें।

ददुआ ने कहा कि व्यापारी अब आर पार की लड़ाई के लिए तैयार हैं। कल व्यापारियों का एक प्रतिनिधि मण्डल उनके साथ असिस्टेंट कलेक्टर को ज्ञापन सौंपेगा। उन्होंने व्यापारियों से अपील की कि अपने इरादों को पक्का रखते हुए केन्द्र सरकार के खिलाफ मजबूती से खड़े रहें। सरकार को हमारी मांगें माननी ही पड़ेंगीं।

उन्होंने व्यापारियों से कहा कि कल बंदी के बावजूद भी हम लोग रामनवमी का त्यौहार पूरी धूमधाम के साथ मनाकर शोभायात्रा भी निकालेंगे। इसके बाद उन्होंने अनशन पर बैठे व्यापारियों का अनशन तुड़वाया। ददुआ ने इस दौरान रामनवमी के उपलक्ष में राम के जीवन पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि राम हर व्यक्ति के मन मस्तिष्क में विराजमान हैं।

जिले में ही नहीं पूरे देश में व्यापारी पुतला फूंक कर अनशन व आंदोलन कर रहे हैं। इसके बावजूद भी केन्द्र की कुर्सी कहीं से भी झुकती दिखायी नहीं दे रही है। बीते दिन सलमान खुर्शीद द्वारा प्रणव मुखर्जी से मुलाकात के दौरान वयान आये थे कि व्यापारियों की समस्या की तरफ ध्यान दिया जायेगा लेकिन कई दिन गुजर जाने के बाद भी व्यवस्था स्थिर है। जिससे मजदूर वर्ग के कारीगरों के घर आमदनी बंद हो गयी। क्योंकि कारीगर प्रति दिन कमाकर अपने परिवार का पेट पालता है। बंदी से सबसे ज्यादा असर स्वर्णकार के मजदूर वर्ग के लोगों पर पड़ रहा है।

इस दौरान कोषाध्यक्ष दीपक अग्रवाल, महामंत्री गोपाल वर्मा, मनोज रस्तोगी, अतुल रस्तोगी, दीपक सारस्वत, निमिष टन्डन,  लला वर्मा, जीतू वर्मा आदि अनेक व्यापारी मौजूद रहे।

मंत्री के स्कूल में दबोचा गया नकलची

Comments Off on मंत्री के स्कूल में दबोचा गया नकलची

Posted on : 31-03-2012 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

फर्रुखाबादः उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की परीक्षाओं में धड़ल्ले से नकल करवाई जा रही है। आज अमृतपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक एवं मंत्री सहित सदर क्षेत्र के विधायक समर्थक के स्कूल व पूर्व सांसद के स्कूलों सहित जनपद के कई स्कूलों से नकलची रंगे हाथों पकड़े गये। जनपद में नकल कराने का ठेका बखूबी फल फूल रहा है। शायद इसकी हकीकत सुनने को कोई तैयार नहीं है। यही कारण है कि जिन्हें नकल रोकनी चाहिए उन्हीं के स्कूलों में नकल हो रही है।

मंत्री नरेन्द्र सिंह यादव के संकिसा स्थित पुरुषोत्तम पुण्य देव इंटर कालेज में आज सचल दल के छापे में सुबह की पाली में हाईस्कूल की संस्कृत की परीक्षा में एक नकलची पकड़ा गया। रजलामई स्थित डीएवी इंटर कालेज से चार नकलची छात्रों को पकड़ा गया।
वहीं सदर विधायक के समर्थक के स्कूल चन्द्रकुमारी ज्वालाशंकर इंटर कालेज से एक नकलची नकल करते धरा गया। वहीं जीआईसी फर्रुखाबाद में एक नकलची व भदन्त इंटर कालेज संकिसा, शांति निकेतन इंटर कालेज मोहम्मदाबाद में 2 नकलची रंगे हाथों धरे गये।

अब देखने वाली बात यह है कि समाजवादी पार्टी की सरकार में एक तरफ मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार को खत्म करने व शिक्षा के स्तर को सुधारने की बात कर रहे हैं। वहीं समाजवादी पार्टी की ही सरकार के मंत्री व विधायकों के स्कूल में जमकर नकल करवाई जा रही है। विधायक व मंत्री जी ने शायद यह नहीं सोचा कि नकल से छात्रों का भविष्य खराब होगा या बनेगा। शायद इन्हें भविष्य से लेना देना ही नहीं है यह तो शिक्षण संस्थाओं को मात्र कमाई का जरिया मान रहे है। यही कारण है कि यह नकल का ठेका लेकर छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा है।

वैसे तो नकल करवाकर हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा पास करवाने धन्धा जनपद में पुराना चल रहा है। फर्रुखाबाद में अन्य जनपदों के ही छात्र नहीं वल्कि अन्य प्रदेशों से भी हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा पास करने के लिए छात्र आते हैं और ये नकल के ठेकेदार मोटी रकम वसूलकर उन्हें प्रमाण पत्र दिलाने में सफल हो जाते हैं।जो भी हो पूरा जनपद ही नकल का अड्डा बन गया है।

[bannergarden id="12"]