Featured Posts

केंद्र और राज्य में अलग अलग सरकारों से उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस को लग रहा पलीताकेंद्र और राज्य में अलग अलग सरकारों से उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस... फर्रुखाबाद: केंद्र और राज्य सरकार में अपने अपने कामो को प्रचारित करने के चक्कर में उत्तर प्रदेश में इ-गवर्नेंस की ऐसी तैसी हो रही है| इसका खामियाजा उत्तर प्रदेश के 2 लाख से ज्यादा लोकवाणी/जन सेवा केंद्र संचालकों के साथ साथ जनता भी भुगत रही है| राज्य सरकार द्वारा संचालित...

Read more

रेल मंत्रालय ने टिकट बुक करने के लिए आधार कार्ड को किया अनिवार्य!रेल मंत्रालय ने टिकट बुक करने के लिए आधार कार्ड को किया अनिवार्य! भारतीय रेल मंत्रालय ने रेल यात्रा के लिए टिकट बुक करने की प्रक्रिया के दौरान आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया है। रेल मंत्रालय के अनुसार, यात्री के टिकट के साथ आधार को लिंक करने की तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। यह योजना साल 2013 से रेलवे की योजनाओं के ठंडे बस्ते में है, जिसे...

Read more

सनसनी खेज खुलासा: लेडी डॉन की मौत मगर जिन्दा है मीरा जाटव फर्रुखाबाद:(कमालगंज) बीते कई दिनों से कमालगंज थाना पुलिस और बसपा नेता के नाक का बाल बनी मीरा जाटव मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन नीरा थी| जेएनआई टीम ने जब कन्नौज जनपद के गुरसहायगंज मानिकपुर जाकर पड़ताल की तो हकीकत कुछ और निकली| पता चला कि मरने वाली मीरा नही बल्कि उसकी छोटी बहन...

Read more

सातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथसातों व्लाक प्रमुखों ने ली पद और गोपनीयता की शपथ फर्रुखाबाद: जनपद के सातों व्लाको के व्लाक प्रमुखों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गयी| सभी को क्षेत्र के विकास और आम जनता की समस्या का निदान करने के भी निर्देश दिये गये| मोहम्मदाबाद में व्लाक प्रमुख की शपथ अमित दुबे (बब्बन) ने ली| उन्हें शपथ एसडीएम सदर सुरेन्द्र सिंह ने दिलाई...

Read more

दीदी तीन और जीजा पांच आज आपको एक कथा सुनाने का मन हो रहा है। एक गांव में बलभद्दर (बलभद्र) रहते थे। क्या कहा...किस गांव में? आप लोगों की बस यही खराब आदत है...बात पूछेंगे, बात की जड़ पूछेंगे और बात की फुनगी पूछेंगे। तो चलिए, आपको सिलसिलेवार कथा सुनाता हूं। ऐसा हो सके, इसलिए एक पात्र मैं भी बन जाता हूं।...

Read more

जानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्थाजानिये: किस प्रदेश में कैसी है पंचायती राज व्यवस्था पंचायत व्यवस्था के सम्बन्ध में प्रावधान संविधान के भाग 9 में 16 अनुच्छेदों में शामिल किया गया, जो निम्न प्रकार हैं– पंचायत व्यवस्था के अन्तर्गत सबसे निचले स्तर पर ग्रामसभा होगी। इसमें एक या एक से अधिक गाँव शामिल किए जा सकते हैं। ग्रामसभा की शक्तियों के सम्बन्ध में राज्य...

Read more

यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था?यादो के झरोखे से: एक साल पहले आज के दिन क्या क्या हुआ था? अतीत कभी पीछा नहीं छोड़ता| कभी सुनहरी यादे तो कभी गम भरे पल| मगर यादे तो यादे है| अतीत से सबक लेकर कल और बेहतर किया जा सकता है| पेश है अतीत के झरोके से- आज के दिन वर्ष 2015 में क्या क्या हुआ था? और कौन कौन सी खबरे सुर्खिया बानी थी- १-मोहल्लो में गंदगी मिली तो ईओ से खुद लगवाई जाएगी झाड़ू:...

Read more

फर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन करने आया थाफर्रुखाबाद के 302 वर्ष: कभी पृथ्वी राज कपूर का थियेटर भी मंचन... फर्रुखाबाद के इतिहास में रंगमंच का भी एक स्वर्णिम अध्याय है। सन १९६२ के भारत चीन युद्ध के बाद महान अभिनेता पृथ्वीराज कपूर अपना 'पृथ्वी थियेटर' लेकर फर्रुखाबाद आये और 'किसान' ,'आहुति','दीवार' ,'पैसा'और 'पठान ' नाटक खेले। तत्पश्ात राजकीय इण्टर कालेज के शिक्षक श्री बी०बी०सिंह...

Read more

Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम!Countdown2015: पप्पू, फेंकू, खुजलीवालः इस साल नेताओं को मिले नए नाम! पप्पू, फेंकू, नमो, खुजलीवाल! इन लफ्जों में एक पूरी कहानी सिमटी है। किसी न किसी नेता का पूरा किरदार एक शब्द में बांध दिया गया है। यह मजाकिया भी लग सकते हैं और अपमानजनक भी। लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ये जुमले इस साल छाए रहे। चाहते न चाहते हुए इन्हें नजरअंदाज नहीं...

Read more

घोड़ों पर साल में करोड़ों खर्च करती है उप्र सरकारघोड़ों पर साल में करोड़ों खर्च करती है उप्र सरकार फर्रुखाबाद:घोड़ों की दौड़ पर आप ने भले ही कभी कोई दांव नहीं लगाया हो, लेकिन सरकार इन पर हर साल करोड़ों रुपये का दांव लगाती है। यह और बात है कि यह धनराशि उनके पालन-पोषण पर खर्च होती है। वह मात्र इसलिए कि उनकी दौड़ प्रतियोगिता प्रत्येक साल होती है। वरना, अब न तो घोड़ों से डकैतों...

Read more

अपराधियों व पेड-न्यूज़ से निबटने को चुनाव आयोग ने की विशेष व्यवस्था

Comments Off on अपराधियों व पेड-न्यूज़ से निबटने को चुनाव आयोग ने की विशेष व्यवस्था

Posted on : 25-12-2011 | By : JNI DESK | In : Uncategorized

उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा की विधान सभाओं के लिए आम चुनाव का ऐलान कर दिया गया है। आचार संहिता तुरंत से ही लागू हो गयी है। इन राज्यों के सभी सरकारी कर्मचारी अब केंद्रीय चुनाव आयोग के कंट्रोल में आ गए हैं। वे सभी चुनाव आयोग के पास डेपुटेशन पर माने जायेगें। इस बार पेड न्यूज़ के बारे में जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर मीडिया के लिए मानीटरिंग कमेटी बनेगी। हर कमेटी में ४ सदस्य होंगें जिसमें एक पत्रकार होगा। पत्रकार को प्रेस कौंसिल की ओर से नामित किया जाएगा। उम्मीदवारों को परिवार के भी किसी अपराधी की जानकारी भरनी पड़ी।

चुनाव खर्च के मामले में भी बहुत ही सख्त तरिके अपनाए जायेगें। सभी उम्मीदवारों को चुनाव खर्च के लिए एक नया खाता खोलना पडेगा और उसी खाते से निकाल कर पैसा खर्च करना पडेगा। खर्च पर नज़र रखने के लिए मानिटरिंग आब्ज़र्वर होंगें। जबकि चुनाव पर जनरल आब्ज़र्वर नज़र रख रहे होंगें। चुनाव खर्च पर नज़र रखने के लिए अभी से बस अड्डों , रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर नज़र रखी जायेगी । किसी भी तरह के कैश की आवाजाही पर इनकम टैक्स वालों की नज़र रहेगी और वे सीधे चुनाव आयोग को सूचना देते रहेगें।

इस बार अपराधियों के लिए खासी मुश्किल आने वाली है क्योंकि अबकी बार फ़ार्म ऐसा बनाया गया है कि उसमें उम्मीदवारों के परिवार के भी किसी अपराधी की जानकारी भरनी पड़ी। इस बार यह भी इंतज़ाम किया गया है कि अगर कोई व्यक्ति जो एस सी या एस टी नहीं है और वह किसी एस सी या एस टी वोटर को धमकाता है कि तो उसे दलित एक्ट के तहत पकड़ा जाएगा।

गोवा में विधान सभा की ४०, मणिपुर में ६० पंजाब में ११७ ,उत्तरखंड में ७० और उत्तर प्रदेश में ४०३ सीटें हैं । इन सब के लिए चुनाव करवाया जाएगा। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा वोटर हैं यूपी में करीब ११ करोड़ बीस लाख वोटर हैं जो सात फेज़ के चुनावों में मत डालेगें। श्री कुरेशी ने कहा कि राज्य में ९८ प्रतिशत लोगों को मतदाता पहचान पत्र दे दिए गए हैं । जिन लोगों के पास पहचान पत्र नहीं है वे फ़ौरन बनवा लें क्योंकि बिना पहचान पत्र के वोट नहीं ड़ालने दिए जायेगें। हर जगह इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन होगी। ।विकालांगों के लिए ख़ास इंतज़ाम किया गया है । दृष्टि विकलांग लोगों के लिए ब्रेल लिपि वाली मशीनों का इंतज़ाम भी किया गया है ।
चुनाव में सुरक्षा को सबसे ज्यादा महत्व दिया गया है ।

शशांक शेखर, फतेह बहादुर और बृजलाल पर रहेगी आयोग की विशेष नजर

Comments Off on शशांक शेखर, फतेह बहादुर और बृजलाल पर रहेगी आयोग की विशेष नजर

Posted on : 25-12-2011 | By : JNI DESK | In : Uncategorized

चुनाव आयोग की उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती के करीबी और विवादित अफसरों पर सीधी नजर रहेगी। प्रदेश के नौकरशाहों पर बसपा नेतृत्व के इशारे पर काम करने के आरोपों पर मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी ने स्पष्ट कहा कि आयोग की सब पर पैनी नजर है। सपा और भाजपा समेत उत्तर प्रदेश के ज्यादातर दलों ने चुनाव आयोग से राज्य के तीन शीर्ष अधिकारियों-कैबिनेट सचिव शशांक शेखर, प्रमुख सचिव गृह कुंवर फतेह बहादुर और डीजीपी बृजलाल समेत राज्य के दर्जनों अधिकारियों के खिलाफ शिकायत की है। सबका आरोप है कि तीनों शीर्ष अधिकारी बसपा के लिए काम करते हैं। साथ ही तमाम डीएम के भी नाम दिए गए थे, जिन पर बसपा के लिए काम करने का आरोप लगाया गया था। बसपा के पार्टी मामलों, यहां तक कि दल से किसी को निकालने जैसे मामलों की प्रेसवार्ता पार्टी नेताओं के बजाय कैबिनेट सचिव करते रहे हैं। कैबिनेट सचिव व प्रमुख सचिव गृह पर कार्रवाई के संबंध में पूछे गए सवाल पर कुरैशी ने बिना लाग-लपेट के कहा, आज से आचार संहिता लागू हो गई है। अब हर किसी पर नजर है। हमने पहले भी निर्देश दिया है कि जिन अधिकारियों पर आरोप हैं, उन्हें हटा दिया जाए। साथ ही कोई अधिकारी गृह जनपद में न रहे। इसके साथ ही कुरैशी ने जोड़ा कि अगर किसी के खिलाफ शिकायत आती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

‘…तो दलित बहू घर लाकर दिखायें राहुल गांधी’ : दलित पंचायत

Comments Off on ‘…तो दलित बहू घर लाकर दिखायें राहुल गांधी’ : दलित पंचायत

Posted on : 24-12-2011 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

जैसा कि सभी जानते हैं कि कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी जब भी किसी गांव खेड़ा के दौरे पर निकलते हैं, तो दलितों के घर जाकर उनके वहां रोटी खाना व सोना उनके लिए आम हो चला है। राहुल गांधी की इन्‍हीं बातों को चुनौती दी है राष्‍ट्रीय दलित पंचायत ने और कहा है कि अगर राहुल वाकई में दलितों के हितैषी हैं, तो दलित बहु घर लाकर दिखायें।

यह चुनौती राष्‍ट्रीय दलित पंचायत के अध्यक्ष इंद्रेश गजभिए ने राहुल गांधी पर चुनावी रणनीति के तहत खुद को दलित हितैषी दिखाने के लिये उनके घर जाकर खाना खाने का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर वह दलितों के सच्चे हितैषी हैं, तो दलितों के साथ महज रोटी का नहीं बल्कि दलित बेटी का रिश्ता निभाकर घर में दलित बहु लेकर आएं।

गजभिए ने कांग्रेस पर दलितों के साथ दगाबाजी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांगे्रस शुरू से ही दलितों को केवल वोट बैंक मानती आयी है और उसने अपनी राजनीति चलाने के लिये दलितों व सवर्णों के बीच दरार पैदा करने में उसने कोई कसर नहीं छोड़ी। धर्म के आधार पर आरक्षण के संबंध में पूछे जाने पर गजभिए ने कहा कि कांग्रेस एक बार फिर दलितों के अधिकारों के हनन की दिशा में कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक बार फिर धार्मिक तुष्टीकरण की नीति के तहत धर्म परिवर्तन कर इसाई व मुसलमान बने लोगों को दलितों के हिस्से में से आरक्षण दिलाने की साजिश में लगी हुई है।

सैकडों मरीजों ने कराया निशुल्क नेत्र शिविर में पंजीकरण

Comments Off on सैकडों मरीजों ने कराया निशुल्क नेत्र शिविर में पंजीकरण

Posted on : 24-12-2011 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

कायमगंज (फर्रुखाबाद): निःशुल्क नेत्र शिविर में पंजीकरण को लेकर शनिवार को मरीजों की भारी भीड़ रही। पूरे दिन चली प्रक्रिया में करीब 6 सैकड़ा से अधिक मरीजों ने पंजीकरण कराया। सभी मरीजों का रविवार को तहसील रोड स्थित रामसिंह इण्टर कालेज में आपरेशन किया जाएगा।

लायंस क्लब के बैनर तले शनिवार से शुरू हुए निःशुल्क नेत्र शिविर में सुबह से ही मरीजों की भीड़ जमा होने लगी। पंजीकरण कराने को लेकर मरीजों व तीमारदारों में कईबार धक्का मुक्की हुई। व्यवस्था में लगे लायंस क्लब के अध्यक्ष ब्रजेश गुप्ता व उनके सहयोगियों ने व्यवस्था संभाली। शिविर के पहले दिन विभिन्न क्षेत्रों से आए करीब 6 सैकड़ा से अधिक मरीजों ने पंजीकरण कराया।

इस दौरान लायंस क्लब के अध्यक्ष श्री गुप्ता के अलावा दिनेश चन्द्र राठौर, अशोक अग्रवाल, सतीश चन्द्र अग्रवाल सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे। अध्यक्ष श्री गुप्ता ने बताया कि जिन मरीजों का शनिवार को पंजीकरण हो गया है। उनका रविवार को आपरेशन किया जाएगा। रविवार को पंजीकृत होने वाले मरीजों का आपरेशन सोमवार को किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मरीजों के लिए खाने आदि की मुफ्त व्यवस्था की गई है। आपरेशन के बाद दवा और चश्मा भी मुफ्त दिया जाएगा। मरीजों को अपने साथ केवल बिस्तर लाना पड़ेगा।

चिकित्सक के घर लूट के मामले में मुकदमा दर्ज

Comments Off on चिकित्सक के घर लूट के मामले में मुकदमा दर्ज

Posted on : 24-12-2011 | By : JNI REPORTER | In : Uncategorized

कायमगंज (फर्रुखाबाद): बीते दिनों चिकित्सक के घर में सरेशाम घुसे नकाबपोश लुटेरे लाखों की नकदी जेबरात व लाइसेंसी रिवाल्वर  लेकर फरार हो गए। घटना से पूर्व लुटेरों ने चिकित्सक की पत्नी के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। कस्बे के व्यस्त बाजार में हुई घटना की सूचना मिलने पर पहुंचे बाजार के लोगों ने बदमाशों की तलाश में ताबड़तोड़ फायरिंग की। जानकारी होते ही पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए।

नगर के प्रमुख चिकित्सक बीरेन्द्र सिंह गंगवार के यहां हुई लाखों की लूट के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आधा दर्जन से अधिक संदिग्ध लोंगो को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। लेखपाल से लूट के आरोपी शातिर युवक को पुलिस ने जेल भेज दिया है।
कस्बा के मोहल्ला लोहाई बाजार निवासी बसपा नेता डा. शरद गंगवार के चाचा डा. बीरेन्द्र सिंह गंगवार के घर में शुक्रवार शाम करीब 6 बजे उस समय दो सशस्त्र लुटेरे घुस गए, जब डा. गंगवार अपने क्लीनिक पर थे। घर में उनकी पत्नी किरन गंगवार अकेली थी। नकाबपोश लुटेरों ने तमंचा व चाकू लगाकर अलमारियों की चाबियां ले ली और नकदी व जेबरात सहित लाखों की लूट कर ली। घटना के बाद मोहल्ले के लोगों ने लुटेरों की तलाश में फायरिंग भी की। लेकिन कोई पता नहीं लगा।

सरेशाम हुई लूट की सूचना पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारी जांच पड़ताल कर वापस लौट गए। घटना के मामले में डा. गंगवार ने अज्ञात लुटेरों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया। दर्ज कराए गए मुकदमे में उन्होंने 10 हजार रूपए की नकदी व केवल जेबरातों का उल्लेख किया है। जेबरात कितने थे और उनका बजन क्या था इसका रिपोर्ट में कोई उल्लेख नहीं किया गया है। मामला बसपा नेता से जुड़ा होने के कारण पुलिस ने रात से ही संदिग्ध लोगों की तलाश शुरू कर दी।

पुलिस ने पिछले 24 घंटे में लूट का सुराग लगाने के नाम पर आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इनमें कुछ लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया। वहीं दिन दहाड़े रेलवे रोड पर लेखपाल फतेहचन्द्र का रूपयों से भरा थैला लूटकर भाग रहे शातिर लुटेरे को पकड़े जाने के बाद पुलिस ने फतेहचन्द्र की तहरीर पर उसके विरूद्ध लूट के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर पकड़े गए लुटेरे पड़ोसी जनपद एटा के थाना नया गांव क्षेत्र के ग्राम रजपुरा निवासी गुड्डू को जेल भेज दिया है।

घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस चिकित्सक के यहां हुई लूट का कोई सुराग नहीं लगा पाई है। एसओजी प्रभारी ने मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की। लूट की लगातार हो रहीं घटनाओं को लेकर यहां के व्यापारियों में खासा आक्रोश है।

[bannergarden id="12"]