मतगणना की घड़ी अब नजदीक, प्रत्याशियों की धड़कनें बढ़ीं

0

फर्रुखाबाद: लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचने का सपना संजोये  प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होने की घड़ी नजदीक आती जा रही है। इसी के साथ इनके दिल की धड़कन भी बढ़ने लगी है। कौन जीतेगा और कौन हारेगा, इसको लेकर कयास लगने लगे हैं। प्रत्याशी और उनके समर्थक सुबह से शाम तक यही गुणा-भाग लगाने में जुटे हैं कि किसको कहां से कितना वोट मिलेगा। मजे की बात तो यह है कि सभी अपनी-अपनी जीत पक्की बता रहे हैं। साथ ही इसके लिए पर्याप्त तर्क देते हुए जीत की दावेदारी कर रहे हैं।
सातनपुर गल्ला मंडी में 23 मई को सुबह से मतगणना शुरू होगी यानी मतों की गिनती होने में सिर्फ 9 रोज बचे हैं। मतगणना की तारीख नजदीक आने के साथ चुनावी रणभूमि में हर दांव पेंच अपनाने वाले प्रत्याशियों की बेचैनी भी बढ़ने लगी है। कमोबेश सभी प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ बैठकें कर जीत-हार के समीकरण पर विचार मंथन कर रहे हैं। साथ ही पूरा लेखाजोखा भी निकाल रहे हैं कि किस प्रत्याशी को कहां से कितना वोट मिला है।
जातीय समीकरण के आधार पर भी गुणा-भाग लगाया जा रहा है। तमाम कवायद के बीच हर प्रत्याशी अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिख रहा है। साथ ही यह रूपरेखा बनाने में भी जुटे हैं कि चुनाव में जीत का सेहरा बांधने के बाद विकास कार्यों की गंगा कैसे बहानी है।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-