फर्रुखाबाद में भी किसान आर्गेनिक खेती के उत्पाद सीधे ग्राहकों को बेचे

0

JNI NEWS : 11-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

भूटान एक समय में एक छोटा एशियाई देश था जिसकी अर्थव्यवस्था विशेष रूप से कृषि पर आधारित थी। एक दिन यह देश पूरी दुनिया को आश्चर्यचकित करने का फैसला करता है और दुनिया का पहले राज्य बनने के लिए दुनिया के पहले बीओओ राष्ट्र बनने के लिए घोषित करता है। एक 100% कार्बनिक देश। और निरंतर प्रयास और कठोर फैसलों से बन जाता है 100% आर्गेनिक खेती वाला देश है जहाँ रासायनिक खाद की दूकान ही नहीं है| सब जैविक खेती करते है और अपने नागरिको को बेहतर खाद्य सामग्री उपलब्ध कराते है|

आखिर जैविक खेती के क्या फायदे हैं?

आजकल बाजार में कोई सब्जी लेने जाओ उनमे स्वाद गायब हो रहा है| रासायनिक खादों और ज्यादा उत्पादन वाले हाइब्रिड बीजो के कारण खाने लायक सब्जियां न के बराबर है| धनिया में सुगंध नहीं, हरे हाइब्रिड खीरे में कोई स्वाद नहीं| एक समय था तब मोहल्ले के किस घर में क्या पाक रहा है सब रसोई से निकली खुशबू से पडोसी को पता चल जाता था| पाण्डेय के यहाँ टमाटर आलू बना है और गुप्ताजी के यहाँ मेथी आलू की सब्जी| अब न अदरक में कडवाहट है और न मिर्ची में तीखापन| ये सब अब इंसान में आ गया है| किसान ओर्गानिक और देशी फसल पैदा करके भी बड़ा मुनाफा कमा सकता है| शहर में आज वाशिंदे देशी फल और सब्जियां तलाश कर रहे है| लोग सेहत के प्रति फिक्रमंद नजर आते है मगर उन्हें मन माफिक उत्पाद मिल नहीं पाता|

  • जैविक खेती से उपजी फसलों के उपयोग से हमारे शरीर को पारम्परिक रूप से पौष्टिक तत्व मिलते हैं, जिससे शरीर को कई प्रकार के विषाक्त तत्वो से बचाया जा सकता है|
  • जैविक खेती करने से यह लाभ है कि इससे जमीन की उपजाऊ क्षमता में वृद्धि होती है|
  • किसान को फसलों के उत्पादन में वृद्धि मिलती है जिसके फलस्वरूप किसान की आय में भी वृद्धि होती हैं|
  • जैविक खेती करने से फसलों के उत्पादन की लागत में भी कमी आती हैं|
  • जमीन की गुणवत्ता में जैविक खेती से सुधार आता है और जमीन की जल-धारण क्षमता भी बढ़ जाती हैं

इसलिए अगर आप ओर्गानिक खेती करते है और अच्छा मुनाफा कमाना चाहते है तो अपनी फसल का खुद प्रचार करके अपने लिए अच्छे ग्राहक तलाश कर सकते है|

खुद कैसे करे अपना विज्ञापन- इसके लिए आपको http://jni.news/becho वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाना होगा उसके बाद बेचने वाले सामग्री की फोटो डाल कर उसकी कीमत, खूबियाँ और कहाँ मिलेगा उसका पता आदि पोस्ट करके सबमिट कर देना है| इस पोर्टल ग्रामीण इलाको के किसान अपना उत्पाद खेत से ही मोबाइल पर फोटो खीच कर डाल सकेंगे|ये सेवा निशुल्क है|

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-